GLIBS
29-07-2021
विक्रम मंडावी की मांग पर सीएम की लगी मुहर, क़ुटरु और गंगालूर बनेंगी तहसील, नैमेड में तीस बिस्तर अस्पताल की सौग़ात

बीजापुर। जिले के क़ुटरु और गंगालूर क्षेत्र के ग्रामीणों की बरसों पुरानी बहुप्रतिक्षित मांग आख़िरकार पूरी हो गई। भूपेश बघेल की सरकार ने एक और एतिहासिक फ़ैसला लेते हुए क़ुटरु और गंगालूर को तहसील बनाने का निर्णय लिया और इसे अनुपूरक बजट में पारित कर दिया। अब क़ुटरु और गंगालूर नए तहसील बनेंगे। क़ुटरु और गंगालुर के तहसील बनने से हज़ारों ग्रामीणों को भूमि से सम्बंधित कार्यों के अलावा जाति, निवास एवं आय प्रमाण पत्रों के बनाने ने आसानी होगी व बार बार ज़िला मुख्यालय आने में होने वाली परेशानी व अतिरिक्त खर्चे से निजात भी मिलेगी। वही दूसरी ओर स्वास्थ्य सुविधाओं को बेहतर ढंग से विस्तार करते हुए ग्राम पंचायत नैमेड को एक बड़ी सौग़ात देते हुए तीस बिस्तर अस्पताल खोलने की स्वीकृति भी भूपेश सरकार ने अनुपूरक बजट में दी। बस्तर क्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष एवं बीजापुर के विधायक विक्रम शाह मंडावी ने क़ुटरु और गंगालूर को नई तहसील बनाए जाने व नैमेड में सर्वसुविधा युक्त तीस बिस्तर का अस्पताल खोले जाने का स्वागत करते हुए भूपेश बघेल का आभार व्यक्त किया है।

 

28-07-2021
कलेक्टर ने एसडीएम, तहसील और उप पंजीयक कार्यालय का किया निरीक्षण, रिकॉर्ड अपडेट करने के दिए निर्देश

जांजगीर-चापा। कलेक्टर जितेंद्र कुमार शुक्ला ने जिला मुख्यालय के एसडीएम, तहसील और उप पंजीयक कार्यालय का निरीक्षण कर साफ-सफाई और रिकॉर्ड को अपडेट करने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने कार्यालय के भण्डार कक्ष, कानूनगो शाखा, न्यायालय कक्ष,  लोकसेवा केंद्र आदि का निरीक्षण किया।  कलेक्टर ने तहसील कार्यालय के लोक सेवा केंद्र में  प्राप्त आवेदनों और उनके निराकरण के संबंध में जानकारी ली। लोक सेवा केंद्र में प्राप्त आवेदनों का समय सीमा के बाद लंबित नहीं पाया गया।  वहां उपस्थित एक आवेदक से लिए गए सेवा शुल्क और निराकरण के संबंध में कलेक्टर ने जानकारी ली। आवेदक दिनेश कुमार ने बताया कि उससे निवास प्रमाण पत्र के लिए 30 शुल्क सेवा शुल्क लिया गया है और एक सप्ताह में ही उसे निवास प्रमाण पत्र प्राप्त हो गया है।  उन्होंने लोक सेवा केंद्र के कार्य के प्रति संतोष व्यक्त किया।


कलेक्टर ने एसडीएम और तहसीलदार को निर्देशित कर कहा कि ई डिस्ट्रिक्ट  से संबंधित आवेदन केवल ऑनलाइन ही स्वीकार करें और आवेदनों का समय सीमा में  राकरण सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि कोई भी आवेदन नियत समय सीमा से अधिक लंबित नहीं रहना चाहिए। कलेक्टर ने तहसील कार्यालय के बार कक्ष की मरम्मत करवाने के एसडीएम को निर्देशित किया। निरीक्षण के दौरान अपर कलेक्टर लीना कोसम, एसडीएम मेनका प्रधान, तहसीलदार अतुल वैष्णव सहित संबंधित कार्यालयों के अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित थे।

 

12-07-2021
शिकायतों की जांच के बाद बलौदाबाजार तहसील कार्यालय परिसर के दो स्टाम्प वेंडरों का लाइसेंस निलंबित

रायपुर/बलौदाबाजार। बलौदाबाजार तहसील कार्यालय परिसर में कार्यरत दो स्टाम्प वेन्डरों का लाइसेंस तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है। निलंबित वेन्डरों में रामप्रकाश बघेल एवं यशवन्त खुन्टे शामिल है। जिला पंजीयक ने प्राप्त शिकायतों की जांच के बाद सोमवार को निलम्बन की कार्रवाई की है। स्टाम्प वेन्डरों पर पक्षकारों से निर्धारित मूल्य से ज्यादा कीमत वसूलने की शिकायत प्राप्त हुई थी। शिकायतों की जांच में आरोप प्रारंभिक रूप से सही पाए गए हैं। कलेक्टर ने कहा है कि स्टाम्प में जो मूल्य अंकित होते हैं, वेन्डरों को उसी मूल्य पर पक्षकारों को बेचा जाना है। इससे अधिक मूल्य पर यदि कोई वेन्डर बेचने का प्रयास करे तो संयुक्त जिला कार्यालय स्थित जिला पंजीयक कक्ष क्रमांक 97 में शिकायत दर्ज करा सकते हैं।

 

10-07-2021
कलेक्टर ने किया तहसील कार्यालय का निरीक्षण, आदेश की अवहेलना पर लिपिक निलंबित

जगदलपुर। कलेक्टर रजत बंसल ने शुक्रवार को बस्तर तहसील कार्यालय का आकस्मिक निरीक्षण किया। उन्होंने निरीक्षण के दौरान तहसील कार्यालय की विभिन्न शाखाओं में संचालित कार्यों का अवलोकन करने के साथ ही लोक सेवा सेवा केंद्र का भी निरीक्षण किया और वहां दी जा रही सेवाओं की जानकारी ली। कलेक्टर ने तहसील कार्यालय बस्तर से राजस्व निरीक्षक मंडल के ग्रामों की दूरी अधिक होने की वजह से ग्रामीणों की सुविधा को देखते हुए ग्राम भानपुरी में उपयुक्त भवन का चयन कर लिंक कार्यालयआ स्थापित करने के निर्देश दिए। निरीक्षण के दौरान कार्यालय में पदस्थ कर्मचारियों को दी गई जिम्मेदारी के संबंध में भी जानकारी ली। इस दौरान उन्हें बताया गया कि नायब नाजिर की जिम्मेदारी का निर्वहन कर रहे कार्यालय में पदस्थ लिपिक मोहन ठाकुर को अनुविभागीय दंडाधिकारी कार्यालय द्वारा  पूर्व में जारी  आदेश के तहत वासिल वाकी नवीस शाखा का कार्य सौंपा गया है तथा लिपिक मुकेश जोशी को नायब नाजिर की जिम्मेदारी दी गई है, किन्तु मोहन ठाकुर द्वारा अभी तक कार्यभार नहीं सौंपा गया है। इस संबंध में मोहन ठाकुर से स्पष्टीकरण भी मांगा गया है। कलेक्टर रजत बंसल ने शासकीय आदेश की अवहेलना और अपने पदीय दायित्वों के प्रति उदासीनता के लिए मोहन ठाकुर को तत्काल निलंबित करने के निर्देश दिए।


कलेक्टर ने तहसील कार्यालय बस्तर में संचालित न्यायालय तहसीलदार बस्तर एवं न्यायालय नायब तहसीलदार भानपुरी के राजस्व प्रकरणों का निरीक्षण किया और प्रकरणों के प्रगति की जांच की गई। न्यायालय तहसीलदार बस्तर में लंबित 2 वर्ष से अधिक के खाता विभाजन के प्रकरणों की जांच करते हुए राजस्व प्रकरणों को समय सीमा में पूर्ण करने का निर्देश दिए गए। न्यायालय नायब तहसीलदार भानपुरी 2 वर्ष से अधिक लंबित खाता विभाजन के प्रकरणों का अवलोकन के दौरान पाया गया कि दो प्रकरणों में आदेश पत्र को अद्यतन नहीं किया गया है। पीठासीन अधिकारी नायब तहसीलदार जागेश्वरी पोयम को न्यायालयीन कार्य में लापरवाही बरतने के कारण स्पष्टीकरण मांगा गया है। दोनों न्यायालयों में वसूली के लंबित प्रकरणों को संबंधित बैंकों से समन्वय स्थापित करते हुए जल्द से जल्द निराकृत करने का निर्देश दिए गए। इसके साथ ही  2 वर्ष से अधिक के लंबित समस्त राजस्व प्रकरणों को दिनांक 25 अगस्त तक निराकृत करने के निर्देश भी दिए गए।


कलेक्टर ने छात्र-छात्राओं के आय, जाति एवं निवास प्रमाण पत्र के प्रकरणों को विकासखण्ड शिक्षा अधिकारी से समन्वय स्थापित करते हुए समय सीमा के भीतर ऑनलाइन माध्यम से निराकृत किये जाने के लिए निर्देशित किया। उन्होंने तहसील कार्यालय में आने वाले ग्रामीणों की सुविधा के लिए बैठक व्यवस्था को दुरुस्त करने के साथ ही पेयजल, स्वच्छता के संबंध में भी निर्देश दिए। इस अवसर पर अनुविभागीय दंडाधिकारी गोकुल रावटे, तहसीलदार कमल किशोर साहू उपस्थित थे।

08-07-2021
कलेक्टर ने किया तहसील कार्यालय बैकुंठपुर का निरीक्षण, दस्तवेज़ों को व्यवस्थित करने दिए निर्देश

कोरिया। कलेक्टर श्याम धावड़े ने तहसील कार्यालय बैकुंडपुर का निरीक्षण किया। उन्होंने लंबित प्रकरणों और दस्तावेजों की जांच की। कलेक्टर ने तहसील कार्यालय के हर कक्ष का निरीक्षण किया। दस्तवेज़ों को व्यवस्थित करने के निर्देश दिये। पीडब्ल्यूडी के एसडीओ और सीएमओ बैकुंठपुर भी मौजूद रहे। कार्यालय की आवश्यक मरम्मत और सफाई के लिए कलेक्टर ने निर्देशित किया।

 

08-07-2021
कलेक्टर ने किया तहसील कार्यालय का निरीक्षण, प्रकरणों को समय पर पूरा करने दिए निर्देश

कवर्धा। कलेक्टर रमेश कुमार शर्मा ने कवर्धा तहसील कार्यालय का औचक निरीक्षण किया। उन्होंने तहसील कार्यालय का निरीक्षण करते हुए तहसीलदार एवं नायब तहसीलदार के न्यायालय में प्रक्रियाधीन राजस्व प्रकरण के निराकरण की समीक्षा की। उन्होंने लंबित प्रकरणों को 15 दिवस के भीतर निराकरण करने का निर्देश दिए। भुइयां सॉफ्टवेयर में नामांतरण पंजी में दर्ज 30 दिन से अधिक समय सीमा वाले सभी 56 नामांतरण प्रकरणों को अगली समीक्षा बैठक से पूर्व निराकृत करने का निर्देश दिए। साथ ही अभिलेख दुरुस्ती के लिए लंबित 99 प्रकरणों का भी शीघ्र निराकरण करने का निर्देश दिए।  सीमांकन,  नामांतरण,  बंटवारा,  अभिलेख दुरुस्ती एवं कब्जा दिलाने संबंधी प्रकरण जो कि 3 माह से अधिक अवधि के है का भी आगामी समीक्षा बैठक से पूर्व निराकृत करने का निर्देश दिए हैं । 

 

25-06-2021
कोरिया जिले में हुई 219.4 मिमी वर्षा

कोरिया। जिले के सभी तहसील में शुक्रवार तक 4.7 मिमी औसत वर्षा दर्ज की गई। इस दौरान सर्वाधिक 12.0 मिमी औसत वर्षा सोनहत तहसील में दर्ज की गई है। इसे मिलाकर पूरे जिले में एक जून से अब तक 219.4 मिमी औसत वर्षा दर्ज की गई है। भूअभिलेख अधिकारी ने बताया कि 1 जून से 25 जून तक बैकुण्ठपुर तहसील में 251.9, सोनहत तहसील में 293.8, मनेन्द्रगढ तहसील में 138.5, खड़गवां तहसील में 254.4, चिरमिरी तहसील में 281.0, भरतपुर तहसील में 231.4 और केल्हारी तहसील में 84.9 मिमी औसत वर्षा दर्ज की गई है।

 

06-05-2021
लॉकडाउन की व्यवस्था देखने कलेक्टर, एसपी पहुंचे तहसील, ग्रामीणों को दी समझाइश

जगदलपुर। कलेक्टर रजत बंसल और पुलिस अधीक्षक दीपक झा ने गुरुवार को बस्तर तहसील में कोरोना की रोकथाम के लिए उठाए गए कदमों का जायजा लेने के लिए भ्रमण किया। इसके साथ ही बस्तर जनपद पंचायत कार्यालय में बैठक भी आयोजित की गई, जहाँ कलेक्टर ने अधिकारियों को निर्देशित किया कि कोरोना की रोकथाम के लिए सघन जांच करें और कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग पर जोर दें। इसके साथ ही होम आइसोलेशन और क्वारन्टीन सेंटर में रहने वालों पर भी कड़ी निगरानी रखने के निर्देश भी दिए, जिससे इसके संक्रमण की कोई संभावना न रहे। उन्होंने कहा कि ग्रामीणों को नियमों का पालन करने की समझाइश दी। ग्रामीण क्षेत्रों में रोजगार की समस्या न रहे, इसके लिए मनरेगा योजना के तहत रोजगारमूलक कार्य संचालित करने के निर्देश दिए। इस दौरान अनुविभागीय दंडाधिकारी गोकुल रावटे, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.डी.राजन, तहसीलदार कमल किशोर साहू, जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी आरके कर सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

 

06-05-2021
कोरोना पॉजिटिव चार युवक एम्बुलेंस आने के पहले हुए फरार, एफआईआर दर्ज

सुकमा/रायपुर। जिला मुख्यालय के तहसील अंतर्गत ग्राम पंचायत बुडदी के ग्राम काकड़ीआमा में कोरोना पॉजिटिव पाए गए चार युवक फरार हो गए हैं। कोविड की जांच के बाद फरार चार युवकों के विरूद्ध सुकमा जिला प्रशासन ने एफआईआर दर्ज किया है। मिली जानकारी के अनुसार ग्राम ककड़ीआमा के ग्रामीण मुचाकी मुड़ा को कोविड के लक्षण के संदेह पर एंटीजन किट से कोरोना जांच किया गया, जिसमें वे पॉजिटिव पाए गए। उनके संपर्क में आए लोगों का भी तत्काल कोरोना जांच किया गया। इसमें तीन अन्य व्यक्ति हिरमा मुचाकी, भीमा मूचाकी और माड़वी दोक्का पॉजिटिव पाए गए। चारों कोरोना पॉजिटिव व्यक्तियों को जिला अस्पताल सुकमा लाया जाना था। एंबुलेंस पहुंचने तक उन्हें घर से बाहर नहीं निकलने के लिए निर्देशित किया गया था। प्रशासन के निर्देशों का उल्लंघन करते हुए वे घर से फरार हो गए। सुकमा तहसीलदार प्यारेलाल नाग ने बताया कि मुचाकी मुड़ा, हिरमा मुचाकी, भीमा मुचाकी और माड़वी दोक्का के खिलाफ कोविड नियमों का उल्लंघन करने के परिणाम स्वरूप भारतीय दंड संहिता की धारा 269, 27 के तहत एफआईआर दर्ज करवाया गया है। इनके विरूद्ध वैधानिक कार्रवाई की जाएगी।

23-02-2021
बस्तर में बनेंगे 6 नए राजस्व निरीक्षक मंडल, दावा अपत्ति प्रस्तुत करने 15 दिनों का समय 

रायपुर। बस्तर जिले में 6 नए राजस्व मंडलों का गठन किया जाएगा। बस्तर जिले में बस्तर तहसील के लामकेर व मुंडागांव, लोहंडीगुड़ा तहसील में मारडूम, बास्तानार तहसील में बड़े किलेपाल, दरभा तहसील में नेगानार और तोकापाल तहसील में करंजी राजस्व निरीक्षक मंडल का गठन किया जाएगा। इससे बस्तर जिलें में राजस्व निरीक्षक मंडलों का संख्या 14 से बढ़कर 20 हो जाएगी। राजस्व निरीक्षक मंडल के पुनर्गठन का प्रस्ताव जिले के सर्व अनुविभागीय अधिकारी राजस्व एवं सर्व तहसीलदार के न्यायालय में उपलब्ध है। उक्त प्रस्ताव के संबंध में किसी भी व्यक्ति, या संस्था को किसी प्रकार का दावा आपत्ति हो तो इस उद्घोषणा के प्रकाशन के 15 दिवस के भीतर प्रस्तुत कर सकते हैं। वे  जिला बस्तर के कलेक्टर कार्यालय की रीडर शाखा में न्यायालयीन समय में उपस्थित होकर अपना दावा आपत्ति प्रस्तुत कर सकते हैं। नियत अवधि के समापन के बाद किसी भी दावा आपत्ति पर विचार नहीं किया जाएगा।

09-02-2021
किसान ने आत्महत्या की, सुसाइड नोट में सब-डिवीजनल मजिस्ट्रेट और रेवेन्यू ऑफिसर पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाए

रायपुर/लखनऊ। बसपा के नेता और स्थानीय किसान हरवीर ने अधिकारियों पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाते हुए कथित रूप से आत्महत्या कर ली है। 35 वर्षीय हरवीर ने अपने सुसाइड नोट में सब-डिवीजनल मजिस्ट्रेट और रेवेन्यू ऑफिसर के खिलाफ उत्पीड़न और भ्रष्टाचार का आरोप लगाया है। हरवीर दलित समुदाय से थे और अक्सर सहसवान तहसील जाते रहते थे। शनिवार को जहर खाने से पहले भी वे 2 बार तहसील गए थे। जहर खाने के बाद घर आकर अपने परिवार को उन्होंने इसकी जानकारी दी।  तत्काल उन्हें इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया, लेकिन उनकी जान नहीं बच सकी। 

अपने सुसाइड नोट में हरवीर ने आरोप लगाया कि कानूनगो अधिकारी ओमकार ने उन्हें आवंटित किए गए खेत के भूखंड के विस्तार के लिए 50,000 रुपये की मांग की थी और एसडीएम किशोर गुप्ता ने उनके साथ दुर्व्यवहार किया और उन्हें धमकाया था। घटना पर संज्ञान लेते हुए बदायूं के जिला मजिस्ट्रेट कुमार प्रशांत ने कानुनगो को निलंबित कर दिया है और एडीएम को जांच करने के निर्देश दिए हैं। लेकिन एसडीएम के खिलाफ अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की गई है।

24-01-2021
1860 में मुंगेली को तहसील का दर्जा मिला था, ऋषियों ने श्वेत गंगा का नाम दिया था लेकिन अब सेतगंगा...

रायपुर। 142 साल पुरानी प्रदेश की सबसे बडी तहसीलों में से एक मुंगेली को जिला बनाया गया। मुंगेली को तहसील का दर्जा 1860 में मिला था। इस तरह 142 बरस मुंगेली तहसील से जिला बन पाया। नये जिले में तीन तहसील मुंगेली, पथरिया और लोरमी शामिल है। जिले का कुल क्षेत्रफल 1 लाख 63 हजार 942 वर्ग किलो‍मीटर है। मुंगेली जिले में कई धार्मिक एवं पर्यटन स्थल मौजूद हैं। जहां पर हर साल एक बड़ा मेला भी लगता है। बताया गया कि फणीनागवंशी राजा के सपने में त्रिपथगामनी गंगा ने प्राकट्य होकर कुंड व मंदिर की स्थापना के निर्देश दिए थे। उन्होंने सेतगंगा में कुंड व मंदिर को भव्य रूप देने का निर्देश माना। कुंड का जल गंगा के समान शीतल व निर्मल था। इसलिए ऋषियों ने इसे श्वेत गंगा का नाम दिया था। जो बोलचाल में सेतगंगा हो गया। टेसुआ के तट पर बसा यह स्थान मुंगेली जिले का तीर्थ कहलाता है।

मुंगेली जिले में ही मदकू द्वीप, मो‍तीमपुर, हथनीकला मंदिर, सत्यनारायण मंदिर जैसे कई धार्मिक‍ स्थान भी हैं। लोरमी तहसील भी इसी जिले में हैं। इस तहसील में प्रसिदृ अचानकमार अभ्यांरण भी हैं जिसे 2009 में टाईगर रिजर्व घोषित किया गया। जिले में एक प्रसिदृ दर्शनीय स्थल खुडिया बांध भी है। जो तीनों ओर से पहाडियों से घिरा हुआ है। मनियारी नदी पर बने होने के कारण इसे मनियारी जलाशय के नाम से भी जाना जाता है। मदकू द्वीप में 10वीं-12वीं शताब्दी का अति प्रचीन शिव मंदिर है। शिवनाथ नदी की धारा के दो भागों में विभक्त होने के कारण यह स्थान द्वीप के रूप में बन गया है। मुंगेली से इसकी दूरी मात्र 45 किलोमीटर है।

जिले में कुल 669 गांव हैं इसके अलावा 1 नगरपालिका, 5 राजस्वू निरीक्षक सर्किल, 18 प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र एवं 711 प्राथमिक शाला, 71 हाई स्कूल, 6 महाविद्यालय भी इस जिले में हैं। मुंगेली जिले में 3 पुलिस चौकियां 13 आयुर्वेदिक औषधालय,4 कृषि उपज मंडी, 1 भूमि विकास बैंक, 4 जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक, 6 पशु औषधालय,3 नगर पंचायत और 149 पटवारी हल्के हैं! मुंगेली जिले में मिडिल स्कूकलों की संख्या 269, उच्चतर माध्यमिक विद्यालयों की संख्या 36 एवं छात्रावासों की संख्या 21 हैं! जिले में 5 आरक्षी केन्द्र, 3 सामु‍दयिक स्वास्थ्य केर्न्द्, 512 उचित मूल्य की दुकानें, 2 मिनी आईटीआई, 7 ग्रामीण बैंक, 4 पशु प्रजनन केन्द्र, 3 वन परिक्षेत्र और 4 नदियां है।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804