GLIBS
13-07-2021
उत्तराखंड सरकार का फैसला, कांवड़ यात्रा की स्थगित, कोरोना संक्रमण के कारण दूसरे साल भी लगाई रोक

देहरादून। उत्तराखंड सरकार ने कोरोना महामारी को देखते हुए कांवड़ यात्रा को स्थगित कर दिया है। कोरोना संक्रमण के कारण कांवड़ यात्रा पर लगातार दूसरे साल रोक लगाई गई है। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कांवड़ यात्रा के संबंध में सचिवालय में वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक की। बैठक में कोविड के डेल्टा प्लस वैरियेंट पाए जाने और कोविड की तीसरी लहर की आशंका व देश-विदेश में इसके दुष्प्रभावों पर गहन विचार-विमर्श किया गया। इस संबंध में विशेषज्ञों की राय पर भी विचार किया गया। सीएम ने कहा कि मनुष्य के जीवन की रक्षा को सर्वोच्च प्राथमिकता देते हुए आगामी कांवड़ यात्रा को स्थगित रखने का निर्णय लिया गया। 

मुख्यमंत्री ने सचिव गृह और पुलिस महानिदेशक को यथोचित कार्यवाई करने के निर्देश दिए हैं। सीएम ने ये भी निर्देश दिए कि पड़ोसी राज्यों के अधिकारियों से समन्वय स्थापित करते हुए प्रभावी कार्यवाई के लिए अनुरोध किया जाए। इससे वैश्विक माहमारी को रोकने में सफलता मिल सके। मुख्यमंत्री ने बैठक में कहा कि कोविड 19 महामारी को देखते हुए कांवड़ यात्रा का संचालन करना उचित नहीं होगा। यात्रा के दौरान लाखों की संख्या में श्रद्धालु उत्तराखंड आएंगे और उन सभी का कोविड टेस्ट कराना संभव नहीं होगा। यात्रा को सीमित करने के लिए भी बहुत सारे इंतजाम करने पड़ सकते हैं।

11-07-2021
12वीं कक्षा के अलावा तकनीकी कॉलेजों में पढ़ाई शुरू होगी 15 जुलाई से गुजरात में, 50 प्रतिशत क्षमता के साथ अनुमति

अहमदाबाद/रायपुर। गुजरात सरकार ने 15 जुलाई से 12वीं कक्षा के अलावा कॉलेजों और तकनीकी संस्थानों में पढ़ाई शुरू करने का फैसला लिया है। इन सभी जगहों पर 50 फीसदी क्षमता के साथ क्लास शुरू करने की अनुमति दे दी गई है। गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने सरकार की कोर कमेटी की बैठक में कोरोना महामारी के हालात की समीक्षा करने के बाद यह निर्णय लिया। नए आदेश में कहा गया है कि छात्रों के लिए कक्षाओं में उपस्थिति होना अनिवार्य नहीं होगा, लेकिन यदि छात्रों को व्यक्तिगत रूप से उपस्थित होने के लिए कहा जाता है तो इसके लिए स्कूलों और कॉलेजों के अधिकारियों को माता-पिता की सहमति लेनी होगी। गुजरात में कोरोना के केस में लगातार कमी के बाद ज्यादातर बंदिशें पहले ही हटा ली गई है। हालांकि लोगों ने कोविड प्रोटोकॉल का पूरी तरह पालन करते हुए मास्क पहनने और सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने को कहा गया है।

08-07-2021
मानसिक स्वास्थ्य सेवाओं में उत्कृष्टता के लिए छत्तीसगढ़ को एक्सीलेंस अवार्ड

रायपुर। कोरोना महामारी काल में भी छत्तीसगढ़ ने राष्ट्रीय स्तर पर अपनी स्वास्थ्य सेवाओं का लोहा मनवाया है। पब्लिक हेल्थ फाउंडेशन ऑफ इंडिया संस्था ने स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग, छत्तीसगढ़ को कोरोना काल में मानसिक स्वास्थ्य कार्यक्रम के अंतर्गत राज्य में उत्कृष्ट सेवा प्रदान करने के लिए एक्सीलेंस इन मेन्टल हेल्थ अवार्ड के लिए चयनित किया है। राज्य को यह पुरस्कार राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के अंतर्गत मानसिक स्वास्थ्य कार्यक्रम में उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए दिया जा रहा है।

संस्था के अनुसार मानसिक स्वास्थ्य से जुड़ी सेवाओं को राज्य के दूरस्थ क्षेत्रों तक पहुँचाने के लिए राज्य की ओर से किए गए वृहद प्रयास प्रशंसनीय हैं। राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन, छत्तीसगढ़ ने मानसिक स्वास्थ्य कार्यक्रम में राज्य स्तरीय नवाचार चैम्प प्रोजेक्ट के अंतर्गत 1400 से अधिक मेडिकल ऑफ़िसर्स और ग्रामीण चिकित्सा सहायकों को देश की उत्कृष्ट संस्था नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ मेंटल हेल्थ एंड न्यूरो साइंसेज (NIMHANS) बैंगलोर से प्रशिक्षण कराया गया है जो सभी स्वास्थ्य संस्थाओं तक मानसिक स्वास्थ्य से जुड़ी सभी सेवाओं को पहुँचाने में कारगर रहा है। इन प्रशिक्षित मेडिकल ऑफिसर्स और ग्रामीण चिकित्सा सहायकों की सहायता से अब तक हज़ारों की संख्या में मानसिक स्वास्थ्य से जुड़ी समस्याओं से प्रभावित व्यक्तियों की काउन्सलिंग की जा चुकी है। यहाँ यह उल्लेखनीय है कोविड-19 महामारी के समय जब बहुत से लोग मानसिक स्वास्थ्य समस्याओं से जूझ रहे थे, तब विभाग ने मानसिक स्वास्थ्य कार्यक्रम के अंतर्गत टेलीकम्युनिकेशन सेवा के माध्यम से उनका मनोबल बढ़ाया गया एवं अन्य स्वास्थ्य सेवाएं भी मुहैया कराई गईं। नई दिल्ली में 30 जुलाई को आयोजित कार्यक्रम में छत्तीसगढ़ को यह पुरस्कार प्रदान किया जाएगा।

05-07-2021
कोरोना महामारी से लड़ने के लिए वैक्सीनेशन मानवता के लिए सबसे बड़ी उम्मीद : नरेंद्र मोदी

नई दिल्ली।  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को वैश्विक कोविन कॉन्क्लेव को संबोधित किया। इस दौरान पीएम मोदी ने कहा कि कोई भी राष्ट्र अलग रहकर के कोविड की चुनौती का समाधान नहीं कर सकता है। हमें मानवता के लिए मिलकर काम करना होगा। साथ ही उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी से सफलतापूर्वक लड़ने के लिए वैक्सीनेशन मानवता के लिए सबसे अच्छी उम्मीद है। इस दौरान उन्होंने महामारी में जान गंवाने वाले सभी देशों के लोगों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त की।


पीएम मोदी ने इस दौरान महामारी की भयावहता को रेखांकित करते हुए कहा कि 100 साल में ऐसी कोई भी महामारी नहीं आई है। अनुभव से पता चलता है कि कोई भी राष्ट्र चाहे वह कितना भी शक्तिशाली हो, इस तरह की चुनौती का समाधान अकेले रहकर हल नहीं कर सकता है। उन्होंने कहा कि भारतीय सभ्यता दुनिया को एक परिवार मानती है। इस महामारी ने कई लोगों को इस मौलिक सत्य का अहसास कराया है। कोरोना के खिलाफ लड़ाई में उन्होंने टेक्नोलॉजी को अहम हथियार करार दिया। उन्होंने कहा कि हमारी लड़ाई में टेक्नोलॉजी अहम है। उन्होंने कहा कि सौभाग्य से सॉफ्टवेयर ऐसा क्षेत्र है, जहां पर संसाधनों की कमी नहीं है। पीएम मोदी ने कहा कि कोविड के खिलाफ विजेता के तौर पर उभरने के लिये मानवता के पास टीकाकरण की सर्वश्रेष्ठ उम्मीद है। उन्होंने कहा कि महामारी की शुरुआत से ही भारत अपने अनुभव, विशेषज्ञता, संसाधनों को वैश्विक समुदाय के साथ साझा करने के लिये प्रतिबद्ध रहा है। 

 

03-07-2021
Breaking : छत्तीसगढ़ में लगातार घट रहा कोरोना संक्रमण,आज 300 से कम नए मरीज,कल से स्वस्थ हुए अधिक

रायपुर। छत्तीसगढ़ में फिर कोरोना की रफ्तार लगातार कम हो रही है। शनिवार 3 जुलाई की स्थिति में प्रदेश की पॉजिटिविटी दर 1.1 प्रतिशत है। शनिवार को प्रदेश भर में हुए 26073 सैंपलों की जांच में से 294 व्यक्ति कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। आज 581 मरीज स्वस्थ हुए हैं। 3 मरीजों की मौत हुई है। राहत की बात है कि जहां एक ओर नए मरीजों की संख्या में कमी आई है तो वहीं कल से अधिक मरीज स्वस्थ हुए हैं और मरीजों की मौत कम हुई है।

 

 

03-07-2021
मास्क अप बिलासपुर अभियान में मस्तूरी थाना प्रभारी ने बांटे दो हजार मास्क, लोगों को कर रहे जागरूक

मस्तूरी। बिलासपुर जिले के सभी थाने में "मास्क अप बिलासपुर" अभियान चलाया जा रहा है। यहां फ्री में मास्क दिया जा रहा है। साथ ही वैक्सीन लगवाने की अपील भी की जा रही है। यह अभियान 2 जुलाई को शुरू हुआ है और 4 जुलाई को खत्म होगा। अभियान में मस्तूरी थाना प्रभारी गांव-गांव में कैंप लगाकर लोगों को कोरोना महामारी के प्रति जागरूक कर रहे हैं। उन्होंने अब तक 2 हजार लोगों को मास्क बांटा है।

 

27-06-2021
'ट्रांसपोर्ट 4 आल' सार्वजनिक परिवहन व्यवस्था को दुरुस्त करने आप भी दे सकते हैं सुझाव, जानिए कैसे

रायपुर। आवासन एवं शहरी कार्य मंत्रालय भारत सरकार की ओर से कोरोना महामारी के दौर में सार्वजनिक परिवहन सेवा में उन्नयन के लिए "ट्रांसपोर्ट 4 आल" कैंपेन चलाया जा रहा है। इसके अंतर्गत देशभर में शहरों से सार्वजनिक परिवहन सेवाओं के सुधार के लिए आम नागरिकों, गैर सरकारी संगठनों, सामाजिक उद्यमों, शैक्षणिक और अनुसंधान संस्थानों से शहर के बेहतर सार्वजनिक परिवहन व्यवस्था के लिए सुझाव साझा करने की अपील की जा रही है। इससे वर्तमान सार्वजनिक परिवहन व्यवस्था को दुरुस्त किया जा सके। भारत सरकार के इस कैंपेन में हिस्सा लेकर रायपुर स्मार्ट सिटी लि. भी शहर के नागरिकों से इसके लिए www.transport4all.in साइट पर विजिट कर सुझाव साझा करने की अपील कर रहा है।

कोरोना महामारी के भीषण दौर में भी सरकारी अधिकारियों-कर्मचारियों, नर्सेस-डाॅक्टर्स एवं फ्रंटलाइन पर काम करने वाले कर्मचारियों को समय से कार्य स्थल तक पहुंचाने में सार्वजनिक ऑटो, ई-रिक्शा आदि परिवहन सेवाओं की मदद मिलती रही है। अब वक्त है कि सार्वजनिक परिवहन सेवाओं के संचालन व्यवस्था को दुरुस्त कर व्यापक गतिशीलता प्रदान की जाए। इससे नौकरी पेशा व आवश्यक सेवाओं के लिए सार्वजनिक परिवहन का सहारा लेने वालों को त्वरित मदद मिल सके। आम नागरिकों, गैर सरकारी संगठनों, सामाजिक उद्यमों, शैक्षणिक और अनुसंधान संस्थाओं आदि से भी अपील है कि "ट्रांसपोर्ट 4 आल" साइट विजिट कर अपने सुझाव साझा करें। इस कैंपेन से जुड़कर सामाजिक संगठन अपने  सोशल मीडिया एवं इवेंट के माध्यम से भी आम नागरिकों के सुझाव संकलित कर सकते हैं।

20-06-2021
80 दिन बाद लौटी संडे बाजार की रौनक, दोपहर 2 बजे तक ही खुलेंगे बाजार, ब्यूटी-पार्लर और सेलून शाम 7 बजे तक

रायपुर। कोरोना महामारी का संक्रमण कम होते ही शासन और प्रशासन ने संडे को भी पाबंदियों का ताला खोल दिया है। करीब 80 दिन बाद कोरोना क‌र्फ्यू में छाई खामोशी टूटी तो सड़कों पर भीड़ ने खाली स्थान भर दिया। रविवार को संडे बाजार खुलते ही लोगों की भीड़ खरीदारी के लिए पहुंची। हालांकि आदेश के मुताबिक दोपहर 2 बजे तक ही दुकाने खुलेंगी। जबकि ब्यूटी पार्लर और सेलून 7 बजे तक खुले रहेंगे।

18-06-2021
बच्चों की कक्षा के अनुरूप उनकी दक्षता का स्तर सुधारने सेतु अभियान, स्कूल शिक्षा मंत्री ने किया शुभारंभ

रायपुर। स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम ने शुक्रवार को अपने निवास कार्यालय से वीडियो कांफ्रेंसिंग से कक्षा पहली से आठवीं तक के बच्चों में उनकी वर्तमान कक्षा के अनुरूप दक्षता सुधारने के लिए तैयार किए गए सेतु अभियान का शुभारंभ किया। उल्लेखनीय है कि कोरोना महामारी के दौर में बच्चों की पढ़ाई-लिखाई जिस तरह से चलनी चाहिए थी, वह उस तरह नहीं हो पाई। इसका परिणाम यह हुआ कि वह बच्चे जिस कक्षा में हैं, उनकी दक्षता का स्तर उस कक्षा के अनुरूप नहीं है। शासन की मंशानुसार राज्य शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद की ओर से सेतु पाठ्यक्रम तैयार किया गया है। इस पाठ्यक्रम का उद्देश्य एक माह में कक्षा पहली से आठवीं तक के शत-प्रतिशत बच्चों में पाठ्य विषयों की बुनियादी दक्षताओं और कौशल का विकास करना है। 

स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम ने कहा कि सेतु पाठ्यक्रम बच्चों की पिछली कक्षा के पूर्व ज्ञान को नई कक्षा के नए ज्ञान से जोड़कर किसी अवधारणा की एक स्पष्ट समझ बनाने में मददगार साबित होगा। उन्होंने सभी जिला शिक्षा अधिकारियों, डीएमसी, प्राचार्य डाइट, बीआरसी, सीआरसी, प्रधानअध्यापकों एवं शिक्षकों को संबोधित किया। स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. टेकाम ने कहा कि वर्तमान में कोविड-19 महामारी के संक्रमण से पूरा विश्व जूझ रहा है। कोरोना काल में आई इन विषम परिस्थितियों का सामना स्कूल शिक्षा विभाग ने विभिन्न नवाचारी प्रक्रियाओं का उपयोग सफलतापूर्वक कर बच्चों की शिक्षा को जारी रखने का सतत प्रयास किया। इसके लिए राज्य स्तर पर शासन ओर तैयार पढ़ई तुंहर दुआर, पढ़ई तुंहर मोहल्ला, लाउडस्पीकर, बुल्टु के बोल जैसे नवाचारी आॅनलाइन या आॅफलाइन माध्यम से बच्चों को शिक्षा प्रदान की गई। 

उन्होंने कहा कि इन सब प्रयासों के बावजूद भी जो बच्चे वर्तमान में जिस कक्षा में हैं, उनकी दक्षता का स्तर उस कक्षा के अनुरूप नहीं है। नए शिक्षा सत्र की शुरुआत की ओर बढ़ रहे इन बच्चों को उनकी वर्तमान कक्षा में अवधारणा को समझाने में कठिनाई का अनुभव हो सकता है, क्योंकि वे अपनी पिछली कक्षा में सीखी गई बातों अर्थात पूर्व अनुभवों को भूल चुके हैं। इसी निरंतरता को बरकरार रखने के लिए सेतु पाठ्यक्रम के माध्यम से एक माह के भीतर कक्षा पहली से आठवीं तक के शत-प्रतिशत बच्चों में पाठ्य विषयों की बुनियादी दक्षताओं का कौशल विकास करना है, जिससे बच्चे अपनी वर्तमान कक्षा की पाठ्य वस्तु को आसानी से समझ सके। मंत्री डॉ. टेकाम ने कहा कि सभी जिला शिक्षा अधिकारी यह तय करें कि विद्यार्थियों की पढ़ाई प्रारंभ करने के पूर्व 30 दिवसीय सेतु पाठ्यक्रम अनिवार्य रूप से पूर्ण किया जाए।

14-06-2021
कोरोना महामारी से दिवंगतों को गृह मंत्री ने अपने स्टाफ के साथ मौन रखकर दी श्रद्धांजलि 

रायपुर। कोरोना महामारी से दिवंगत लोगों को गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू ने सोमवार को श्रद्धांजलि दी। गृह मंत्री ने रायपुर सिविल लाइन स्थित अपने निवास कार्यालय परिसर में कार्यालयीन स्टाफ के साथ 2 मिनट का मौन रखा।

13-06-2021
दुखद खबर : पॉपुलर यूट्यूबर भुवन बाम ने माता-पिता दोनों को खोया, तस्वीरें शेयर कर कहा- दोनों लाइफलाइन खो दी मैंने

मुंबई/रायपुर। पॉपुलर यूट्यूबर भुवन बाम ने अपने माता-पिता दोनों को खो दिया है। कोरोना महामारी की वजह से भुवन बाम के पेरेंट्स की मृत्यु हो गई है। इस बारे में भुवन ने अपने सोशल मीडिया पोस्ट से जानकारी दी है। यूट्यूबर भुवन बाम ने पेरेंट्स को खोने का दुख व्यक्त करते हुए दिल दहला देने वाला नोट लिखा है। इसके साथ उन्होंने अपने माता- पिता के साथ की कई तस्वीरें शेयर की हैं। इन तस्वीरों को शेयर करते हुए भुवन ने कैप्शन में लिखा, 'कोविड की वजह से मैंने अपनी दोनों लाइफलाइंस को खो दिया। आई और बाबा के बिना कुछ भी पहले जैसा नहीं रहेगा। एक महीने में सब बिखर चुका है। घर, सपने, सब कुछ।' आगे भुवन ने लिखा, 'मेरी आई मेरे पास नहीं है, मेरे बाबा मेरे पास नहीं हैं। अब शुरू से जीना सीखना पड़ेगा। मन नहीं कर रहा। क्यां मैं एक अच्छा बेटा था? क्या मैंने उन्हें बचाने के लिए सबकुछ किया? मुझे अब इन सवालों के साथ जीना होगा। मैं उन्हें दोबारा देखने के लिए इंतजार नहीं कर सकता। मैं दुआ करता हूं कि वो दिन जल्दी आए।'

 

10-06-2021
BREAKING : इस राज्य में 9वीं और 11वीं परीक्षाएं रद्द

रायपुर/नई दिल्ली। कोरोना महामारी की वजह से दिल्ली सरकार के स्कूलों में कक्षा 9वीं और 11वीं की परीक्षाएं रद्द कर दी हैं। उपमुख्यमंत्री और शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया ने इसकी जानकारी स्वयं दी है। प्रेस कॉन्फ्रेंस कर आज मनीष सिसोदिया ने कहा कि दिल्ली में 9वीं और 11वीं की परीक्षाओं को अब रद्द कर दिया गया है। जो प्राइवेट स्कूल मिड टर्म ओर सालाना परीक्षाएं करवा चुके थे वे मिड टर्म परीक्षाओं के आधार पर 9वीं और 11वीं के छात्रों के नतीजे घोषित कर सकते हैं।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804