GLIBS
30-05-2021
मौसम में उतार चढ़ाव रहेगा जारी, आज हल्की बारिश की संभावना

रायपुर। जेठ माह की तपती दोपहरी के मौसम में जहां कड़ाकेदार गर्मी पड़नी चाहिए वहीं मौसम में आए बदलाव के कारण प्रदेश में वैसी गर्मी नहीं पड़ रही है जैसी आमतौर पर मई-जून माह में पड़ती है। मार्च से ही लगातार मौसम में उतार-चढ़ाव के कारण देश के विभिन्न पहाड़ी क्षेत्रों में पश्चिम बंगाल अथवा अन्य देशों के आए तूफान या चक्रवाती घेरे के कारण प्रदेश के दक्षिणी और उत्तरी भागों में आए दिन हल्की वर्षा हो रही है। मिली जानकारी के अनुसार मौसम में उतार चढ़ाव जारी रहेगा। पूर्वी उत्तर प्रदेश और आस-पास चक्रीय चक्रवाती घेरा 4.5 किमी तक विस्तारित है। एक द्रोणिका पूर्वी उत्तर प्रदेश और आस-पास के ऊपरी हवा का चक्रीय चक्रवाती घेरा से विदर्भ तक 1.5 किमी से 2.1 किमी के बीच मध्य मध्यप्रदेश होते हुए स्थित है। एक चक्रीय चक्रवाती घेरा दक्षिण-पूर्व मध्य प्रदेश और आस-पास 0.9 किमी ऊपर तक विस्तारित है। एक द्रोणिका दक्षिण-पूर्व मध्य प्रदेश और आस-पास से विदर्भ, तेलंगाना और रायलसीमा होते हुए दक्षिण तमिलनाडु तक 0.9 किमी ऊंचाई तक स्थित है। रविवार को प्रदेश के एक दो स्थानों पर हल्की से मध्यम वर्षा होने या गरज चमक के साथ छीटें पड़ने की संभावना है। अधिकतम तापमान में विशेष परिवर्तन नहीं होने की सम्भावना है।

15-04-2021
उतार चढ़ाव के बाद हरे निशान पर बंद हुआ शेयर बाजार, सेंसेक्स में 259.62 अंक का उछाल, निफ्टी में बढ़त

मुंबई। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज में बुधवार के बाद गुरुवार को भी सुधार देखने को मिला है। बीएसई का प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स 259.62 अंक उछलकर 48,803.68 पर बंद हुआ। इसी तरह एनएसई निफ्टी 76.65 अंक की बढ़त के साथ 14,581.45 पर बंद हुआ। बता दें कोरोना महामारी का प्रकोप बढ़ने के कारण सोमवार को सेंसेक्स में करीब 1700 अंकों की भारी गिरावट दर्ज हुई थी।
गुरुवार को वैश्विक स्तर पर सकारात्मक रुख के बीच एचडीएफसी बैंक, एचडीएफसी लिमिटेड, टीसीएस और आईसीआईसीआई बैंक की अगुवाई में तेजी आई। यही वजह रही कि उतार-चढ़ाव भरे कारोबार में बीएसई सेंसेक्स 260 अंक की बढ़त के साथ बंद हुआ। तीस शेयरों पर आधारित सेंसेक्स में कारोबार के दौरान 877 अंक का उतार-चढ़ाव आया। अंत में यह 259.62 अंक यानी 0.53 प्रतिशत मजबूत होकर 48,803.68 अंक पर बंद हुआ।

 

17-03-2021
उतार चढ़ाव के बाद लाल निशान पर बंद हुआ शेयर बाजार, सेंसेक्स और निफ्टी में रही गिरावट

मुंबई। दिनभर के उतार-चढ़ाव के बाद आज सप्ताह के तीसरे कारोबारी दिन यानी बुधवार को शेयर बाजार लाल निशान पर बंद हुआ। बाजार में गिरावट का सिलसिला चार दिनों से जारी है। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स 562.34 अंक यानी 1.12 फीसदी नीचे 49801.62 के स्तर पर बंद हुआ। वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 189.15 अंक यानी 1.27 फीसदी की गिरावट के साथ 14721.30 के स्तर पर बंद हुआ। पिछले सप्ताह बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 386.76 अंक या 0.78 फीसदी के लाभ में रहा था।
बुधवार को शुरुआती कारोबार में सेंसेक्स 58.75 अंक (0.12 फीसदी) की नीचे के साथ 50305.21 के स्तर पर खुला था। वहीं निफ्टी 24.90 अंक यानी 0.17 फीसदी नीचे 14885.60 के स्तर पर खुला था। वहीं पिछले कारोबारी दिन मंगलवार को शेयर बाजार मामूली गिरावट के साथ बंद हुआ था। सेंसेक्स 31.12 अंक यानी 0.06 फीसदी नीचे 50363.96 के स्तर पर बंद हुआ था और निफ्टी 19.05 अंक यानी 0.13 फीसदी की गिरावट के साथ 14910.45 के स्तर पर बंद हुआ था।

 

28-01-2021
दिनभर के उतार चढ़ाव के बाद गिरावट के साथ बंद हुआ शेयर बाजार

नई दिल्ली। दिनभर के उतार-चढ़ाव के बाद गुरूवार को शेयर बाजार में भारी गिरावट आई और यह लाल निशान पर बंद हुआ। गिरावट का यह सिलसिला पिछले पांच दिनों से जारी है। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स 535.57 अंक यानी 1.13 फीसदी की भारी गिरावट के साथ 46874.36 के स्तर पर बंद हुआ। वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 149.95 अंक (1.07 फीसदी) की गिरावट के साथ 13817.55 के स्तर पर बंद हुआ। पिछले पांच दिनों में सेंसेक्स तीन हजार अंकों से ज्यादा गिरा है। इंडेक्स 21 जनवरी को 50,184 पर पहुंचा था। सरकारी डाटा के अनुसार, पिछले साल अप्रैल-नवंबर के दौरान फॉरेन डायरेक्ट इन्वेस्टमेंट निवेश 58.37 अरब डॉलर रहा, जो पिछले साल की समान अवधि में निवेशित 47.67 अरब डॉलर की तुलना में 22 फीसदी ज्यादा है।

आठ महीनों एफडीआई का यह आंकड़ा सबसे अधिक है। इसी अवधि के दौरान शेयर बाजार में एफडीआई 43.85 अरब डॉलर रहा, जो पिछले साल के मुकाबले 37 फीसदी ज्यादा है। वैश्विक बाजारों की बात करें, तो 28 जनवरी को वैश्विक बाजारों में भी भारी गिरावट है। बीते सप्ताह बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 156.13 अंक या 0.31 फीसदी नीचे आया। विश्लेषकों ने कहा कि अब सभी की निगाहें वित्त वर्ष 2021-22 के बजट पर है। बजट से सेंसेक्स की आगे की यात्रा को दिशा मिलेगी। बीते साल कोरोना वायरस महामारी के बीच बाजार में काफी उतार-चढ़ाव देखने को मिला। वहीं आज सुबह शुरुआती कारोबार में सेंसेक्स 377.99 अंक (0.80 फीसदी) की गिरावट के साथ 47,031.94 के स्तर पर खुला था। निफ्टी 113.10 अंक यानी 0.81 फीसदी की गिरावट के साथ 13,854.40 के स्तर पर खुला था। बता दें कि बुधवार को दिनभर के उतार-चढ़ाव के बाद शेयर बाजार में भारी गिरावट आई और यह लाल निशान पर बंद हुआ था। 

 

11-06-2020
उतार चढ़ाव के बाद गिरावट के साथ बंद हुए सेंसेक्स और निफ्टी

मुंबई। दिन भर के उतार चढ़ाव के बाद गुरुवार को बीएसई सेंसेक्स 33,480.42 अंक का न्यूनतम स्तर छूने के बाद 708.68 अंक या 2.07 फिसल कर गिरावट के साथ 33,538.37 अंक के स्तर पर बंद हुआ। इसी प्रकार एनएसई निफ्टी भी 214.15 अंक या 2.12 प्रतिशत लुढ़क कर 9,902 अंक के स्तर पर बंद हुआ। सेंसेक्स पैक में एसबीआई के शेयरों में सबसे ज्यादा गिरावट देखने को मिली। इसके शेयर 5 प्रतिशत तक फिसल गए।इक्विटी रिसर्च के फंडामेंटल प्रमुख नरेंद्र सोलंकी के अनुसार ग्लोबल स्तर पर नकारात्मक रुख के कारण भारतीय बाजार में गिरावट देखने को मिली। कोरोना वायरस से संक्रमण की दूसरी लहर के कारण निवेशकों में अनिश्चितता का माहौल है। इधर यूएस फेडरल रिजर्व ने कहा कि वह बांडों की खरीद जारी रखेगा ताकि ब्याज की दरें कम बनी रहे। वह ऐसा अमेरिकी अर्थव्यवस्थ को मंदी से बचाने की कोशिश में कर रहा है।

 

 

12-05-2020
उतार चढ़ाव के बाद गिरावट पर बंद हुआ शेयर बाजार, डॉलर के मुकाबले रुपया हुआ मजबूत

मुंबई। सप्ताह के दूसरे कारोबारी दिन मंगलवार को भी दिनभर के उतार-चढ़ाव के बाद शेयर बाजार गिरावट पर बंद हुआ। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स 190.10 अंक यानी 0.60 फीसदी की गिरावट के साथ 31371.12 के स्तर पर बंद हुआ। वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 42.65 अंक यानी 0.46 फीसदी की गिरावट के साथ 9196.55 के स्तर पर बंद हुआ। मंगलवार को शेयर बाजार की शुरुआत लाल निशान पर हुई थी। सेंसेक्स 1.19 फीसदी की गिरावट के साथ 374.31 अंक नीचे 31186.91 के स्तर पर खुला था। वहीं निफ्टी 1.11 फीसदी की गिरावट के साथ 102.50 अंक नीचे 9136.70 के स्तर पर खुला था। इसके बाद दोपहर 2.46 बजे सेंसेक्स में 63.06 अंक (0.52 फीसदी) की गिरावट देखी गई और यह 31398.16 के स्तर पर पहुंच गया।

वहीं निफ्टी 36.80 अंक (0.40 फीसदी) नीचे 9202.40 के स्तर पर था।सोमवार को दिनभर की सारी बढ़त गंवाकर शेयर बाजार गिरावट पर बंद हुआ था। सेंसेक्स 81.48 अंक यानी 0.26 फीसदी की गिरावट के साथ 31561.22 के स्तर पर बंद हुआ था। वहीं निफ्टी 12.30 अंक यानी 0.13 फीसदी की गिरावट के साथ 9239.20 के स्तर पर बंद हुआ था।डॉलर के मुकाबले रुपया हुआ 22 पैसे मजबूतइधर अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपया मंगलवार को 22 पैसे मजबूत होकर 75.51 (अस्थायी) पर बंद हुआ। दुनिया की अन्य प्रमुख मुद्राओं की तुलना में डॉलर के कमजोर होने के साथ रुपया मजबूत हुआ। अंतरबैंक विदेशी विनिमय बाजार में डॉलर के मुकाबले रुपया सोमवार के बंद स्तर से गिरावट के साथ 75.89 पर खुला। लेकिन बाद में शुरूआती नुकसान से उबरा और अंत में 22 पैसे की बढ़त के साथ 75.51 पर बंद हुआ।

 

28-04-2020
उतार चढ़ाव के बाद बढ़त पर बंद हुआ शेयर बाजार, सेंसेक्स और निफ्टी ने छुआ हरा निशान

मुंबई ।  दिनभर के उतार-चढ़ाव के बाद मंगलवार को शेयर बाजार हरे निशान पर बंद हुआ। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स 371.44 अंक यानी 1.17 फीसदी की बढ़त के साथ 32114.52 के स्तर पर बंद हुआ। वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 98.60 अंक यानी 1.06 फीसदी की तेजी के साथ 9380.90 के स्तर पर बंद हुआ।  म्यूचुअल फंड पर तरलता दबाव को कम करने के लिए आरबीआई ने 50 हजार करोड़ रुपये की विशेष लिक्विडिटी सुविधा की घोषणा की, जिससे शेयर बाजार हरे निशान पर बंद हुआ। बता दें कि मंगलवार सुबह सेंसेक्स की शुरुआत 0.94 फीसदी की बढ़त के साथ 298.34 अंक ऊपर 32041.42 के स्तर पर हुई थी। वहीं निफ्टी 0.98 फीसदी की तेजी के साथ 91.25 अंक ऊपर 9373.55 के स्तर पर खुला था। इसके बाद से ही बाजार में उतार-चढ़ाव जारी रहा। दोपहर 2.34 बजे सेंसेक्स 1 फीसदी की तेजी के साथ 316.54 अंक ऊपर 32059.62 के स्तर पर और निफ्टी 0.91 फीसदी की तेजी के साथ 84.65 अंक ऊपर 9366.95 के स्तर पर कारोबार कर रहा था। सप्ताह के पहले दिन यानि सोमवार को म्यूचुअल फंड पर तरलता दबाव को कम करने के लिए, भारतीय रिजर्व बैंक ने 50,000 करोड़ रुपये की विशेष लिक्विडिटी सुविधा की घोषणा की थी, जिससे शेयर बाजार हरे निशान पर बंद हुआ था। 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804