GLIBS

ताज़ा खबरें
07-05-2021
फरार कैदियों में से तीन गिरफ्तार, दो की तलाश जारी, मुख्य सहित तीन प्रहरियों को किया गया निलंबित

महासमुंद । महासमुंद जिला जेल से दीवाल फांदकर 5 कैदियों के फरार होने की घटना पर गृह एवं जेल मंत्री ताम्रध्वज साहू ने जेल प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारियों को तत्काल कार्रवाई के निर्देश दिए थे। कर्तव्य के प्रति घोर लापरवाही बरतने के कारण मुख्य प्रहरी सहित तीन प्रहरी तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिए गए हैं। मुख्यालय जेल एवं सुधारात्मक सेवाएं छत्तीसगढ़ रायपुर की ओर से शुक्रवार को निलंबन पत्र जारी कर दिया गया है। 
पत्र के मुताबिक सीसीटीवी फूटेज और उत्पन्न परिस्थिति के आधार पर 6 मई को दोपहर 2 बजे से शाम 6 बजे तक तैनात मुख्य प्रहरी राजकुमार त्रिपाठी और प्रहरी गणेश कुमार एक्का, भरतलाल सेन और सुखीराम कोसले को कर्तव्य के प्रति घोर लापरवाही बरतना पाया गया। इस कारण चारों को तत्काल प्रभाव से निलंबित किया गया है। 

जेल मुख्यालय से जारी पत्र में कहा गया है कि जिला जेल महासमुंद में परिरुद्ध 5 विचाराधीन बंदी धनसाय (33 वर्ष), डमरूधर ( 24 वर्ष), राहुल (22 वर्ष), दौलत (23 वर्ष) और करन ( 21 वर्ष) विभिन्न धाराओं के तहत जेल में परिरुद्ध थे। ये पांचों कैदी ने लगभग अपरान्ह 3 से 3:30 बजे बैरक नंबर 5 से लगे दीवार में दो बंदियों के ऊपर एक बंदी चढ़कर टयूब राड की पट्टी के सहारे एक गमछा और एक शॉल को जोड़कर हुक को सोलर फ्रेंसिंग वायर के क्लेम्प में फंसाया।  उसके सहारे पांचों बंदी बारी-बारी से चढ़कर जेल से फरार हो गए। फरार पांच बंदियों में से तीन बंदी डमरूधर, दौलत और करन को पुन: गिरफ्तार कर लिया गया है। दो बंदियों धनसाय और राहुल की तलाश जारी है।

07-05-2021
लॉकडाउन के नियमों का उल्लंघन करने पर निगम ने दुकानों को किया सील

रायपुर। नगर निगम जोन 9 की टीम ने जोन के अंतर्गत जोन कमिश्नर संतोष पाण्डेय के नेतृत्व में लॉकडाउन नियमों का उल्लंघन किए जाने पर रिलायंस स्मार्ट बाजार को ताला लगाकर सीलबंद करने की कार्रवाई की। जोन 9 ने दलदलसिवनी बाजार को निर्धारित समय के बाद खुला पाकर तत्काल बंद करवाया। जोन 7 की टीम ने महोबा बाजार कोटा रोड में जोन कमिश्नर एन. आर. रत्नेश की अगुवाई में राजा पोल्ट्री फार्म और ब्रायलर हाउस मुर्गा दुकान को बंद करके सीलबंद करने की कार्रवाई की। जोन 7 की टीम ने तात्यापारा में शासकीय उचित मूल्य की दुकान में जमा भारी भीड़ को हटाने कोरोना प्रोटोकॉल नियमों के अंतर्गत कार्रवाई की। जोन 2 की टीम ने जोन के अंतर्गत जोन कमिश्नर विनय मिश्रा के नेतृत्व में लॉकडाउन नियमों का उल्लंघन करने पर विजय आलू कम्पनी दुकान को ताला लगाकर सीलबंद करने की कड़ी कार्रवाई। जोन 5 की टीम ने जोन कमिश्नर चन्दन शर्मा के नेतृत्व में सुन्दर नगर रोड में अभिषेक डेयरी और डंगनिया रोड में लक्ष्मी डेयरी को लॉकडाउन नियमों का पालन नहीं करने पर ताला लगाकर सीलबंद करने की कार्रवाई की। इसी प्रकार नगर निगम जोन 4 की टीम ने जोन कमिश्नर लोकेश चंद्रवंशी की अगुवाई में जोन के तहत गणेशराम नगर मार्ग में लॉकडाउन नियम को तोड़े जाने पर व्यवसायी घनाराम साहू की दुकान और रहेजा फ़्रूट दुकान को तत्काल ताला लगाकर सीलबंद करने की कार्रवाई की। जोन 4 की टीम ने नगर घड़ी चौक बाबा गुरू घासीदास टाइम स्क्वायर में सुबह पोहा और चाय विक्रय करने टपरी चालू कर लॉकडाउन नियम तोड़ने पर उन्हें तत्काल कड़ाई के साथ बंद करवाया। गोलबाजार, शास्त्री बाजार में भी अभियान चलाकर लॉकडाउन नियम का परिपालन व्यवहारिक रूप से करवाए जाने सतत मॉनिटरिंग जोन कमिश्नर के नेतृत्व में की गई। जोन 1 की टीम ने ख़मतराई, भनपुरी बाजार, जोन 8 ने हीरापुर, कबीर नगर रामनगर बाजार, जोन 5 की टीम ने दंतेश्वरी मंदिर चौक बाजार जोन 3 ने शंकर नगर बाजार, जोन 4 ने श्रीगणेश मंदिर बूढ़ापारा चौक बाजार को नियत समय के बाद भी खुले रहने पर जोन कमिश्नर की अगुवाई में पुलिस प्रशासन की टीम के साथ मिलकर कड़ाई से हटाने की कार्रवाई कोरोना प्रोटोकॉल नियमों का व्यवहारिक पालन करवाने के उद्देश्य से की।

07-05-2021
सुप्रीम कोर्ट ने की केंद्र की याचिका खारिज,कहा-हम कर्नाटक के लोगों को मुश्किल की घड़ी में नहीं छोड़ सकते

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने कर्नाटक हाईकोर्ट के उस आदेश को बरकरार रखा है,जिसमें केंद्र की ओर से राज्य के लिए मेडिकल ऑक्सीजन की सप्लाई बढ़ाने को कहा गया था। केंद्र सराकर हाईकोर्ट के आदेश के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट पहुंची थी और तत्काल इस आदेश पर रोक लगाने की गुजारिश की थी। हालांकि, सुप्रीमकोर्ट ने केंद्र की याचिका को खारिज करते हुए कहा, 'हम कर्नाटक के लोगों को इस तरह मुश्किल के समय में ऐसे नहीं छोड़ सकते हैं।' कोर्ट ने साथ ही कहा कि कर्नाटक हाई कोर्ट के आदेश के खिलाफ केंद्र की याचिका को देखने के कोई आधार नहीं है। जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ और एमआर शाह की पीठ ने कहा कि 5 मई का हाईकोर्ट का आदेश जांचा-परखा और शक्ति का विवेकपूर्ण प्रयोग करते हुए दिया गया है। सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र की उस दलील को स्वीकार करने से इनकार कर दिया कि अगर हर हाई कोर्ट ऑक्सीजन आवंटन करने के लिए आदेश पारित करने लगा तो इससे देश के आपूर्ति नेटवर्क के लिए परेशानी खड़ी हो जाएगी। इससे पहले गुरुवार को केंद्र ने सुप्रीम कोर्ट का रुख किया था हाई कोर्ट की ओर से कर्नाटक के लिए ऑक्सीजन का आवंटन 965 मीट्रिक टन से बढ़ाकर 1200 मीट्रिक टन करने का निर्देश देने संबंधी आदेश पर रोक लगाने की मांग की थी।
जस्टिस चंद्रचूड़ ने सुनवाई के दौरान कहा,'3.95 लाख केसों के साथ कर्नाटक ने 1700 टन ऑक्सीजन की मांग की है। ऐसे में 1100 मीट्रिक टन न्यूनतम जरूरत है।

 

07-05-2021
Breaking:  कोरोना से दुनियाभर में जान गवाने वालों में 25 प्रतिशत भारतीय

रायपुर। भारत में कोरोना के प्रकोप की दूसरी लहर काल बन गई है। रोजाना कोरोना संक्रमण के मामले वृद्धि हो रही है। साथ ही मौत का तांडव जारी है। अब डब्ल्यूएचओ ने बताया है कि पूरी दुनिया में कोरोना वायरस के 46 प्रतिशत मामले भारत में हैं और पिछले हफ्ते इस महामारी से दुनियाभर में जान गंवाने वाले लोगों में 25 प्रतिशत लोगों की मौत भारत में हुई। डब्ल्यूएचओ का कहना है कि हर घंटे 150 लोगों की कोरोना से जान जा रही है। 
गुरुवार को लगातार दूसरे दिन कोरोना के नए मरीजों की संख्‍या ने 4 लाख के आंकड़े को पार कर लिया है। भारत में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 4.14 लाख से अधिक मामले सामने आए हैं। वहीं 3,927 मरीजों की महामारी के कारण मौत हुई है।

07-05-2021
संकट के समय परोपकार फाउंडेशन की निरंतर सेवा जारी, निशुल्क दिए ऑक्सीजन सिलेंडर, कंसंट्रेटर, फेस मास्क 

रायपुर। कोरोना संकट के इस भीषण समय में परोपकार फाउंडेशन का सेवा कार्य निरतंर जारी है। लगातार जरुरतमंदों की मदद की जा रही है। कोरोना संक्रमित मरीजों और आमजनों को कोरोना से बचाने व राहत पहुंचाने के लिए परोपकार फाउंडेशन की ओर से जमीनी स्तर पर लगातार कार्य किए जा रहे हैं। इससे सैंकड़ों हजारों लोगों को बेहतर स्वास्थ्य का लाभ मिल रहा है। इसी कड़ी में बलौदाबाजार जिले के सकरी कोविड सेंटर के मरीजों की स्वास्थ्य सुविधाओं को ध्यान में रखकर ऑक्सीजन की कमी को पूरा करने विशेष पहल की गई। 10 जंबो ऑक्सीजन सिलेंडर की व्यवस्था की गई है। साथ ही 4 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर मशीन, 3000 फेस मास्क और 400 फेस शील्ड की व्यवस्था भी निशुल्क की गई है। कसडोल विधानसभा के पूर्व विधायक गौरीशंकर अग्रवाल निरंतर जरुरतमंदों की हरसंभव सहायता परोपकार फाउंडेशन के माध्यम से कर रहे हैं।

07-05-2021
नगर निगम ने विभिन्न नगरों को किया सैनिटाइज 

दुर्ग। कोरोना वायरस के रोकथाम के लिए शुक्रवार को विधायक अरुण वोरा ने पोलसाय पारा, तमेरपारा, शिक्षक नगर, चंडी मंदिर चौक और गयानगर में सैनिटाइजेशन महाअभियान चलाया। वोरा ने कहा कि मुख्यमंत्री की सजगता से व शहर की जागरुक जनता के कारण संक्रमण दर में लगातार गिरावट आ रही है। आगे भी स्वास्थ्य सुविधा में विस्तार एवं जनता की परेशानियों से शासन- प्रशासन को अवगत कराने का कार्य लगातार जारी रहेगा। महापौर धीरज बाकलीवाल ने कहा कि सोडियम हाइपोक्लोराइड के घोल से निगम की ओर से प्रतिदिन छिड़काव किया जा रहा है। हम अपने शहर को कोरोना मुक्त बनाए रखने में सफल होंगे। उन्होंने आमजन से वैक्सीन लगवाने में तत्परता दिखाए और सावधानी बरतने लोगों से अपील की। इस दौरान पार्षद भोला महोबिया, मनदीप सिंह भाटिया, नासिर खोखर, दुष्यंत देवांगन, भागवत देवांगन, मुरलीधर देशमुख आदि मौजूद थे।

07-05-2021
बेहतर होगा अजय चंद्राकर झूठा दुष्प्रचार न करें, अपने मानसिक स्वास्थ्य पर ध्यान दें : आरपी सिंह 

रायपुर। प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता आरपी सिंह ने अजय चंद्राकर के बयान पर पलटवार किया है। आरपी सिंह ने कहा है कि छत्तीसगढ़ भारतीय जनता पार्टी में पहले अध्यक्ष और फिर नेता प्रतिपक्ष बनने का दिवास्वप्न पाले हुए अजय चंद्राकर अपनी ही पार्टी से उपेक्षित किए जाने के बाद अलग-थलग पड़े हुए हताशा और निराशा में राजनीतिक जीवन जीने के लिए बाध्य हैं। राजनीतिक रूप से अपनी सक्रियता दिखाने के लिए और चर्चा मात्र में बने रहने के लिए वे राज्य की भूपेश बघेल सरकार पर मनगढ़ंत झूठे और मिथ्या आरोप लगाते हैं। इससे आम जनता में उनकी खुद की छवि के साथ साथ भाजपा की छवि भी धूमिल हो रही है। कांग्रेस प्रवक्ता आरपी सिंह ने अजय चंद्राकर को सलाह दी है कि वे झूठ और भ्रम का वातावरण न बनाएं इससे आम जनता में भय और अविश्वास पनपता है। सबसे पहले अजय चंद्राकर को राज्य की भूपेश बघेल सरकार और प्रदेश की जनता से गलत बयानी के लिए माफी माँगनी चाहिए। अजय चंद्राकर ने गुरुवार को जारी एक वीडियो में दावा किया था कि अभी तक भूपेश बघेल सरकार ने एक भी वैक्सीन का आर्डर नहीं दिया है और न ही किसी कंपनी को कोई भुगतान किया है।

यह सरासर झूठा आरोप है कांग्रेस पार्टी इस बयान का खंडन करती है। आरपी सिंह ने कहा है कि मैं आज वह तमाम दस्तावेज सार्वजनिक कर रहा हूं, जिससे प्रदेश की जनता को यह पता चल सके कि राज्य की भूपेश बघेल सरकार ने 18 से 44 युवा वर्ग के लिए ना सिर्फ 75 लाख वैक्सीन का आर्डर केंद्र सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त दो कंपनियों  सीरम इंस्टीट्यूट और भारत बायोटेक को दिया है, बल्कि अग्रिम भुगतान के रूप में 15 करोड रुपए से अधिक की राशि भी दी जमा कर दी है। युवा वर्ग के लिए पूर्व में प्राप्त वैक्सीन में से 5 मई तक लगभग 45 हजार युवाओं को वैक्सीन लगाई जा चुकी है। छत्तीसगढ़ सरकार ने एक दिन में 3 लाख 26 हजार लोगों को वैक्सीन लगाकर यह साबित भी कर दिया है कि अगर हमें पर्याप्त मात्रा में केंद्र सरकार वैक्सीन उपलब्ध कराती है तो हम लगभग 4 लाख लोगों को प्रतिदिन वैक्सीन लगाने की क्षमता रखते हैं, लेकिन केंद्र सरकार राज्य की जनता के हितों पर कुठाराघात करते हुए वैक्सीन उपलब्ध कराने में नाकाम रही है।

केंद्र की मोदी सरकार पूरी दुनिया में अपनी झूठी वाहवाही के लिए जब 6 करोड़ वैक्सीन निर्यात कर रही थी तब अजय चंद्राकर का यह दिव्य ज्ञान किस कोने में छुपा हुआ था? आज अगर केंद्र सरकार अपने ही नागरिकों को वैक्सीन उपलब्ध नहीं करवा पा रही है तो अजय चंद्राकर रमन सिंह और धरमलाल कौशिक समेत तमाम भाजपा के नेताओं को छत्तीसगढ़ की जनता को यह बताना चाहिए कि उन्होंने वैक्सीन के लिए क्या प्रयास किए हैं? आजादी के बाद 70 सालों में देश में अलग-अलग पार्टियों की सरकारें रही हैं लेकिन कभी भी किसी केंद्र सरकार ने वैक्सीन के लिए आम जनता और राज्य की सरकारों से पैसे नहीं लिए तो फिर भला मोदी सरकार क्यों ले रही है? चंद्राकर कोई जवाब देना चाहेंगे आप? जहां तक उत्तर प्रदेश सरकार के ग्लोबल टेंडर की बात है तो इस देश में किस वैक्सीन का इस्तेमाल होगा और किस वैक्सीन का नहीं होगा यह अनुमति केंद्र सरकार ही देती है। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी जी के प्रयासों के बाद अभी तक रूस की बनी वैक्सीन स्पुतनिक के सिवा किसी भी विदेशी कंपनी को भारत सरकार ने अनुमति प्रदान नहीं की है। ऐसी स्थिति में ग्लोबल टेंडर निकालना क्या जनता की आंख में धूल झोंकने का बराबर नहीं है। बेहतर होगा चंद्राकर जी झूठा दुष्प्रचार ना करें एवं अपने मानसिक स्वास्थ्य पर ध्यान दें। यदि आवश्यकता हो तो प्रदेश के मुख्यमंत्री माननीय भूपेश बघेल जी से चिकित्सकीय मदद हासिल करें। ईश्वर उन्हें जल्द स्वस्थ करें।

07-05-2021
अधिक कोरोना संक्रमित मिलने से 7 से 15 मई तक गांव लॉक, बाहरी लोगों के आवाजाही पर रोक

धमतरी। शहरी क्षेत्र के साथ अब ग्रामीण इलाके में भी कोरोना संक्रमण तेजी से फैल रहा है। वहीं ज्यादातर लोग कोरोना को मात देकर पूरी तरह से स्वस्थ भी हो रहे हैं। जिले के नगरी-सिहावा इलाके के ग्राम गढ़डोंगरी (माल) के ग्राम विकास समिति ने पंचायत प्रतिनिधियों के साथ मिल कर कोरोना माहामारी के बढ़ते आंकड़े को देखते हुए 7 से 15 मई तक अपने पंचायत क्षेत्र में सम्पूर्ण लॉकडाउन का प्रस्ताव किया है। इसमें बस स्टैंड में संचालित होने वाले किराना की दुकान को बन्द रखने का एवं जनता  हाटबाजार नहीं लगाने का प्रस्ताव लिया गया। इससे गाँव में बाहरी व्यक्ति का प्रवेश न हो सकें। यह निर्णय गांव के लोगों के सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए लिया गया है। साथ ही विकास समिति ने आस-पास के गाँव वालों से  निवेदन किया है कि ग्राम विकास समिति ग्राम गढ़डोंगरी (माल) के प्रस्ताव को स्वीकारते हुए हमें सहयोग प्रदान करें। गढ़डोंगरी सरपंच कपिल मरकाम ने बताया कि गाँव में एक्टिव मरीजों की संख्या 19 है। सभी का होम आइसोलेसन में उपचार जारी है। वहीं गाँव में एक व्यक्ति की कोरोना से मौत भी हुई है। इस दौरान ग्राम अध्यक्ष पवन नेताम, संरक्षक टिकेश्वर ध्रुव, मनोहर लाल सोनवानी, महेंद्र कुमार नेताम, रामदयाल यादव, सरपंच कपिल मरकाम, बृजलाल यादव, पंच मूलचंद मरकाम, लोकेश्वर मरकाम और कोटवार चंपालाल सोनवानी मौजूद रहे।