GLIBS

29-04-2021
आम के दिवानों के लिए हम लेकर आए हैं ये रेसिपी, बनाना है बेहद आसान 

रायपुर। गर्मियों में सबसे अच्छी चीज क्या है? आम! रसेदार, मीठे और फलों के राजा आम को सभी लोग पसंद करते हैं। इसमें अल्फोंसो, चौंसा, दशहरी, लंगड़ा, केसर, टोटोपूरी आदि आम की वैरायटी के लोग दिवाने हैं। आज हम आपको कुछ ऐसे रेसिपीज बताएंगे जिसे घरवाले भी बहुत पसंद करेंगे। खासकर छोटे बच्चे तो और भी चाव से खाना पसंद करेंगे। तो आइए जानते हैं।

1.मैंगो कोकोनट बर्फी बनाएं
सामग्री
आम का गूदा- 1 पीस, दूध-1/2 कप, चीनी-1/2 कप, नारियल-3 कप कद्दूकस किया हुआ, इलायची पाउडर-1/2 कप, बेसन-2 चम्मच, बटर-1/2 चम्मच। 

बनाने का तरीका
— सबसे पहले आप आम गूदा, दूध और बेसन को मिक्सर में डालकर अच्छे से मिक्स कर लीजिए।
— अब इसमें आप कद्दूकस नारियल और चीनी को भी डालकर अच्छे से मिक्स कर लीजिए और किसी प्लेट में निकाल लीजिए।
— इधर एक पैन में बटर डालकर गरम करें। बटर गरम होने के बाद दोनों मिश्रण को मिलाकर लगभग 10 मिनट पका लीजिए।
— 10 मिनट बाद इलायची पाउडर को डालकर गाढ़ा होने तक पका लीजिए और किसी प्लेट में निकालकर फैला लीजिए।
— अब इसे बर्फी के आकार में काट लीजिए और कुछ देर ठंडा होने के बाद खाने के लिए सर्व कीजिए।

2.आम का हलवा
सामग्री
सूजी-1 कप, घी-1/2 कप, आम का गूदा-1 कप, दूध-1 कप, ड्राई फ्रूट्स-1 कप, इलायची पाउडर-1/2 चम्मच, मैंगो एसेंस-1/2

बनाने का तरीका
— सबसे पहले एक पैन में घी डालकर गरम करें। घी गर्म होने के बाद सूजी को डालकर सुनहरा होने तक भून लीजिए।
— अब आप इसमें आम का गुदा और दूध को डालकर कुछ देर चलते हुए पका लीजिए।
— लगभग 8 मिनट बाद इसमें बाकी अन्य सामग्री को भी डालकर भी पका लीजिये और गैस को बंद कर लीजिए।
— अब इसे किसी प्लेट में निकाल लीजिए और सर्व करें।

25-04-2021
रोजाना करें इन चीजों का सेवन, फेफड़ों को मजबूत बनाने में कारगर 

रायपुर। फेफड़ों से फिल्टर होने के बाद ही ऑक्सीजन आपके पूरे शरीर में पहुंचती हैं। ऐसे में लंग्स का खास ख्याल रखना बहुत ही ज्यादा जरूरी है। अगर आपके फेफड़े ठीक ढंग से काम नहीं करेंगे तो आपको अस्थमा, ब्रोंकाइटिस, निमोनिया, टीबी, कैंसर जैसी जानलेवा बीमारियों का सामना करना पड़ सकता है। वहीं दूसरी ओर कोरोना वायरस जैसी महामारी से बचने के लिए आपके फेफड़ों का मजबूत होना बहुत ही जरूरी हैं। क्योंकि यह सीधे आपके लंग्स पर ही अटैक करता है। इसके कारण आपको सांस लेने में अधिक समस्या होती है। बता दें कि इस बार 60 से 65 फीसदी मरीजों को सांस लेने में काफी दिक्कत आ रही है। उनका ऑक्सीजन लेवल तेजी से घटता है। ऐसे में जरूरी है कि फेफड़ों का पहले ही ध्यान रखें। जानिए ऐसे कुछ फूड्स के बारे में जिससे आपके फेफड़े तेजी से मजबूत हांगे। 

1.हल्दी

हल्दी में भरपूर मात्रा में एंटी ऑक्सीडेंट और एंटी इंफ्लामेट्री गुण पाए जाते हैं, जो आपको हर तरह के संक्रमण से बचाते हैं। रोजाना सोने से पहले दूध में हल्दी डालकर इसका सेवन करें। इसके साथ-साथ आप हल्दी, गिलोय, दालचीनी, लौंग, अदरक और तुलसी का काढ़ा बनाकर पिएं। इससे लंग्स मजबूत रहने के साथ इम्यूनिटी मजबूत होगी। 

2. शहद

आयुर्वेद में शहद का बहुत अधिक महत्व बताया गया है, क्योंकि एंटी-बैक्टीरियल गुण पाए जाते हैं। इसका सेवन करने से आपके फेफड़े मजबूत होते हैं। इसके अलावा फेफड़ों से विषाक्त तत्वों को बाहर निकालने के लिए सुबह गर्म नींबू पानी में शहद डालकर पिएं। इसके अलावा काढ़ा में भी शहद डालकर पी सकते हैं।

24-04-2021
अगर चाहिए सफाई के साथ पोषण भी तो इन चीजों से धोएं अपने बाल 

रायपुर। इस प्रदूषण से भरे वातावरण में अक्सर हमे बालों से सम्बंधित समस्याओं का सामना करना पड़ता है। ऐसे में हम सिर्फ अपने बालों में शैम्पू का इस्तेमाल करते हैं। अगर आप शैम्पू न करना चाहें तो आप अपने बालों को धोने  के लिए यहां बताई जा रही चीज़ों का इस्तेमाल कर सकते हैं। ये सफाई के साथ बालों की सेहत भी सवारेंगे। कई बार ऐसा होता है कि जब हम शैम्पू करने की सोचते हैं, तब याद आता है कि शैम्पू तो खत्म हो चुका है। ऐसे में बाल धोए बिना ही हम बाथरूम से बाहर आ जाते हैं। अगर कभी आपके साथ भी ऐसा हो, तो आप शैम्पू की जगह कुछ और चीजों का इस्तेमाल भी कर सकते हैं। ये चीजें सफाई के साथ आपके बालों को पोषण भी देंगी। आइए जानते हैं उन चीजों के बारे में जिनको आप शैम्पू की जगह इस्तेमाल कर सकते हैं। 

1. मुल्तानी मिट्टी

बालों को धोने के लिए शैम्पू की जगह आप मुल्तानी मिट्टी का इस्तेमाल भी कर सकते हैं। इसके लिए मुल्तानी मिट्टी को 15 मिनट के लिए थोड़े से पानी में भिगो कर रख दें। जब ये घुल जाए तो इस पेस्ट को अपने सिर और बालों पर लगाकर कुछ देर मसाज करें, फिर बाल धो लें। अगर आप और भी बेहतर रिजल्ट चाहते हैं तो मुल्तानी मिट्टी में एक चम्मच शहद और दो चम्मच दही भी मिला सकते हैं। ये सफाई के साथ आपके बालों को पोषण भी देगा।

2. अंडे की सफेदी

अंडे का इस्तेमाल भी आप अपने बालों को धोने के लिए कर सकते हैं। इसके लिए दो अंडे लेकर इसके पीले भाग को हटा दें। इसके सफेद भाग को अच्छी तरह से फेंटकर अपने स्कैल्प और बालों पर लगाएं। इसको 10 मिनट तक ऐसे ही लगा रहने दें फिर अच्छी तरह से बाल धो लें। इससे आपके स्कैल्प और बालों की सफाई भी होगी और बालों की सेहत भी बेहतर होगी। 

3. एलोवेरा जेल

एलोवेरा जेल को भी बालों को धोने के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है। इसके लिए 4-5 चम्मच एलोवेरा जेल लेकर इसको अच्छी तरह से फेंट लें। इसको अपने सिर और बालों में लगाकर 10 मिनट तक मसाज करें। फिर बालों को धो लें। इससे बालों में चमक भी आएगी और बालों की सफाई भी होगी।

16-04-2021
कोरोना विशेष : शरीर का ऑक्सीजन लेवल बढ़ाने के लिए पिएं तुलसी का पानी

रायपुर। कोरोना काल में लोगों का ऑक्सीजन लेवल कम हो रहा है। ऐसे में आप अपने शरीर में ऑक्सीजन लेवल बढ़ाने के लिए भिन्न-भिन्न प्रकार के उपाय करने चाहिए। शरीर को अपनी दैनिक क्रियाओं को सही प्रकार से करने के लिए 90-100 फीसदी ऑक्सीजन की जरूरत होती है, लेकिन अगर प्रदूषण की वजह से ऑक्सीजन का स्तर 90 फीसदी से नीचे चला जाता है तो इससे थकान, स्किन एलर्जी, आंखों में जलन, सर्दी-जुकाम जैसी प्रॉब्लम्स फील होने लगती हैं।

प्रदूषण की समस्या से पार पाने के लिए स्वच्छ वातावरण में रहना बहुत जरूरी है। इस लिहाज से घर में तुलसी का पौधा लगाना बहुत लाभकारी है। तुलसी का पौधा लगाने का सबसे बड़ा फायदा यह है कि यह आसपास के वातावरण के प्रदूषण के स्तर को 30 फीसदी तक कम कर देता है, जिससे आपको मिलने वाली वायु स्वच्छ और निर्मल हो जाती है। यदि तुलसी से बने काढ़े का नियमित रूप से सेवन किया जाए तो इससे प्रदूषण के असर को प्रभावी तरीके से कम किया जा सकता है। इसके लिए तुलसी के 10 पत्तों, जरा सी अदरक, गुड़ और दो कालीमिर्च डालकर एक गिलास पानी के साथ उबाल लें। जब यह पानी उबल कर एक चौथाई रह जाए तो इसे छान लें और पी लें।

15-04-2021
उपवास में इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए खाए सिंघाड़े के लड्डू, ये है रेसिपी

रायपुर। नवरात्रि में व्रत के दौरान कई बार हमें शरीर में कमजोरी महसूस होती है। इसके कारण कभी-कभी चक्कर आ जाता है। ऐसे में बेहद आवश्यक है कि आप अपने शरीर का ध्यान रखें। हम आपको व्रत की ऐसी ही हेल्दी रेसिपी बता रहे हैं, जिसे व्रत के दौरान खाने से आपको कमजोरी और ज्यादा भूख भी नहीं लगेगी। रोजाना एक लड्डू के सेवन करने से आपकी इम्युनिटी भी बढ़ेगी।

सिंघाड़े के आटे के फायदे :
सिंघाड़े में प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट, विटामिन बी व सी, आयरन, कैल्शियम, मैग्नीशियम, फॉस्फोरस जैसे मिनरल्स, रायबोफ्लेबिन जैसे तत्व पर्याप्त मात्रा में मिलते हैं। आयुर्वेद में कहा गया है कि सिंघाड़े में भैंस के दूध की तुलना में 22 प्रतिशत अधिक खनिज लवण और क्षार तत्व पाए जाते हैं। वैज्ञानिकों ने तो अमृत तुल्य बताते हुए इसे ताकतवर और पौष्टिक तत्वों का खजाना बताया है। इस फल में कई औषधीय गुण हैं, जिनसे शुगर, अल्सर, हृदय रोग, गठिया जैसे रोगों से बचाव हो सकता है। बुजुर्गों व गर्भवती महिलाओं के लिए तो यह काफी गुणकारी है।

सामग्री : 
सिंघाड़े का आटा, गुड़, सोंठ पाउडर, देसी घी, काजू-बादाम।           

विधि : 
सबसे पहले सिंघाड़े के आटे को छान लीजिए। अगर सिंघाड़े का आटा थोड़ा मोटा रहेगा तो लड्डू सोंधे बनेंगे। गुड़ को अच्छी तरह से फोड़ लीजिए। गुड़ में एक भी गांठ नहीं रहनी चाहिए। कटे हुए मेवे को तवे पर हल्का सा भून लीजिए। कड़ाही में करीब 150 ग्राम घी गर्म कर लीजिए। आपका करीब 100 ग्राम घी बचा रहेगा, इसका बाद में इस्तेमाल करेंगे। गैस की आंच मीडियम करके सिंघाड़े के आटे को अच्छी तरह से भून लीजिए। जब आटे से सोंधी खुशबू आने लगे और ये गुलाबी हो जाए तो समझिए की ये भून गया है। अब पिटे हुए गुड़ के ऊपर गरम-गरम सिंघाड़े के आटे को इस तरह से डालिए कि गुड़ पूरी तरह से ढक जाए। आटे की गर्मी से गुड़ नरम हो जाएगा और सिंघाड़े का लड्डू बनाने में आसानी होगी।आटे के ऊपर अब सोंठ, घी और मेवे डालकर चम्मच की मदद से अच्छी तरह मिला लीजिए। ध्यान रहे कि मिश्रण ठंडा होने से पहले ही आप इसे मिला लें। जब मिश्रण इतना गरम रह जाए कि आप इसे हाथ से छू सकें, तब इसे एक बार हाथ से भी अच्छी तरह मिक्स कर लीजिए। अब आपको फटाफट लड्डू बनाना है क्योंकि अगर मिश्रण ठंडा हो गया तो लड्डू बनाना मुश्किल हो जाएगा। दोनों हाथ से लड्डू बनाने की कोशिश करें इससे ये मिश्रण के गर्म रहते ही बन जाएंगे।

14-04-2021
गर्मियों में हो रही है स्किन डल तो ऐसे निखारें अपनी त्वचा  

रायपुर। गर्मियों के समय में अगर हम अपनी स्किन को लेकर थोड़ी सी सावधानी रखें तो स्किन ज्यादा बेहतर हो सकती है। ऐसे में क्यों न कुछ झटपट करने वाले हैक्स देखे जाएं, जो चंद मिनटों में हमारी स्किन को और भी ज्यादा बेहतर बना सकते हैं। चलिए जानते हैं उन हैक्स के बारे में।

1. ग्लिसरीन वाले क्लींजर से मुंह को धोएं :
ग्लिसरीन वाले क्लींजर्स को हमेशा यूज करें। दरअसल क्लींजिंग एक ऐसी स्टेप है जो खराब हो जाए तो स्किन पर स्पॉट्स के साथ-साथ स्किन डल लगने लगेगी। अगर आप ग्लिसरीन वाले क्लींजर्स का इस्तेमाल करते हैं तो ये हर वॉश के साथ चेहरे को ताजगी देंगे और हाइड्रेट भी रखेंगे। बस अपने परफेक्ट क्लींजर से मुंह धो लें और ध्यान रखें कि आप इसे ओवर डू न करें। दिन में बार-बार इसे न करें।

2. स्किन टोनर मिक्स :

ये दूसरा हैक गर्मियों के लिए सबसे अच्छा साबित हो सकता है। इसमें 1 चम्मच ग्लिसरीन/ बादाम तेल और विटामिन ई कैप्सूल ऑयल, 1 चम्मच खीरे का रस, 1 चम्मच गुलाब जल को मिलाकर किसी स्प्रे बॉटल में भरकर फ्रिज में रख लें। इसके बाद जब भी आप अपनी स्किन पर इंस्टेंट फ्रेशनेस चाहें तो इसे स्प्रे कर लें। ये टोनर आपके चेहरे को हाइड्रेशन देने के साथ-साथ स्किन में ताजगी भी लाएगा। साथ ही गुलाबजल और खीरे का रस मिक्स होकर आपके चेहरे के पोर्स को छोटा करेगा।

3. गर्मियों के लिए फेसपैक 

1 चम्मच बेसन, हल्दी पाउडर, थोड़ा सा गुलाबजल, थोड़ा सा ग्लिसरीन को मिलाकर फेसपैक बना लें। ये आपके दाग-धब्बों को ठीक करेगा और स्किन को मॉइश्चराइज भी करेगा। ध्यान रखें कि इसे ठंडे पानी से धोएं।

4. स्किन एक्सफोलिएशन :

गर्मियों में डल स्किन को ठीक करने के लिए इसे एक्सफोलिएट करना भी जरूरी है। रोजाना इसे करने की जरूरत नहीं और सिर्फ 5 मिनट ही काफी हैं। 1/2 चम्मच कॉफी ग्राउंट्स, 1/2 चम्मच ब्राउन शुगर को मिलाकर अपनी स्किन पर 2-3 मिनट के लिए मसाज करें फिर ठंडे पानी से धो लें।

5. मिनट फेशियल मसाज : 

स्किन को ठीक करने के लिए आप 5 मिनट का फेशियल मसाज जरूर कर सकते हैं। फेशियल मसाज स्किन को स्टिम्यूलेट करने के लिए बहुत जरूरी होते हैं और ब्लड सर्कुलेशन भी अच्छा करते हैं। ये सभी टिप्स आपकी स्किन को इंस्टेंट ग्लो देने के काम आ सकते हैं।

01-04-2021
गर्मी के मौसम में आहार में शामिल करें तरबूज, शरीर में नहीं होगी पानी की कमी

रायपुर। आप जानते हैं कि तरबूज गर्मी के मौसम में शरीर के लिए बेहद फायदेमंद है। तरबूज शरीर में पानी की कमी को दूर करने का सबसे बेहतरीन विकल्‍प है। अध्‍ययन भी इस बात की पुष्टि करता है कि तरबूज की उच्‍च तरल सामग्री शरीर को शांत और हाइड्रेट प्रदान करती है। इसके अलावा तरबूज का सेवन करने से पानी की भरपूर मात्रा मिलने के कारण आपकी भूख को भी नियंत्रित किया जा सकता है। तरबूज में लाइकोपीन नामक एक सक्रिय घटक होता है जो त्‍वचा की कोशिकाओं को सूरज की क्षति से बचाता है। आप भी गर्मी के मौसम में अपने आहार के साथ तरबूज को शामिल करें।

30-03-2021
क्या आप भी गर्मी में टैनिंग से बचने लगाते हैं सनस्क्रीन लोशन? तो ध्यान रखें ये बातें

रायपुर। गर्मी का सीजन शुरू होने वाला है और ऐसे धुप में निकलने से पहले लोग सनस्क्रीन लोशन लगाना पसंद करते हैं। खासकर लड़कियां इस बात का ध्यान रखती हैं ताकि उनकी स्किन पर टैनिंग ना पड़ जाए। आप धुप से बचने के लिए लोशन का इस्तेमाल तो करती हैं, लेकिन कुछ बातों का ध्यान रखना भी जरूरी है। कभी-कभी लड़कियां सही जानकारी ना होने के कारण गलत सनस्क्रीन लोशन खरीदती हैं। इससे उनकी त्वचा को नुकसान पहुंच सकता है। सूरज की हानिकारक किरणें जब हमारे शरीर पर पड़ती हैं तो त्वचा काली होने लगती है। आज हम बताने जा रहे हैं कुछ ऐसे ही टिप्स जिन्हें आपको जानकारी मिलेगी।

-अगर आपकी त्वचा ऑयली है तो आप हमेशा स्प्रे और जेल सनस्क्रीन लोशन का इस्तेमाल करें। ऐसा करने से आपकी त्वचा ऑयली नहीं होगी।

-हमेशा ऐसी सनस्क्रीन लोशन खरीदें जो आपकी त्वचा को नेचुरल लुक दे और साथ ही आपकी त्वचा के चिपचिपापन और पसीने को भी रोक सके।

-सूरज की यूवीए और यूवी किरणों के प्रभाव से त्वचा को बचाने के लिए सनस्क्रीन का इस्तेमाल जरूरी होता है। इससे त्वचा काली नहीं पड़ती है और टैनिंग की समस्या से भी छुटकारा मिलता है।

-सनस्क्रीन लोशन खरीदते वक़्त उसकी एक्सपायरी डेट जरूर चेक करें, जिससे आपकी त्वचा को कोई नुकसान ना हो।

25-03-2021
गर्मी के मौसम में खान-पान का रखें खास ध्यान, ऑयली और मसालेदार खाने से करें तौबा

रायपुर। गर्मी शुरू होते ही लोगों को अनेक प्रकार की परेशानियां शुरू हो जाती है। गर्मियों में खाई जाने वाली कुछ चीजें शरीर के अंदर गर्मी को बढ़ा देती हैं, जोकि कब्‍ज, बदहजमी, पेट दर्द और नींद खराबी का कारण बनती हैं। इसलिए गर्मियों में इन चीजों से करें परहेज - मसालेदार भोजन का सेवन शरीर में गर्मी पैदा करता है, जिससे आप कई बीमारियों के शिकार हो सकते हैं। इसलिए गर्मी के मौसम में मिर्च, अदरक, काली मिर्च, दालचीनी और जीरा जैसे मसालों का सेवन न करें।

ऑयली और जंक फूड : सर्दी हो या गर्मी, जंक फूड का सेवन तो शरीर के  लिए हानिकारक होता है। लेकिन गर्मियों में इसका सेवन कब्ज और पेट खराब जैसी समस्याओं को पैदा करता है। गर्मी के मौसम में हर व्यक्ति को अपने खान-पान का खास ध्यान रखना पड़ता है। क्योंकि गर्मियां शुरू होते ही कई परेशानियां आपको घेर लेती हैं। गर्मियों में खाई जाने वाली कुछ चीजें शरीर के अंदर गर्मी को बढ़ा देती हैं, जोकि कब्‍ज, बदहजमी, पेट दर्द और नींद खराबी का कारण बनती हैं। इसलिए गर्मियों में आपको ऐसी चीजों का सेवन करना चाहिए जो शरीर को अंदर से ठंडक दे।

24-03-2021
भोजन से पहले सलाद खाना सेहत के लिए बेहद अच्छा, जानिए क्यों...

रायपुर। रेस्टोरेंट, होटल या फिर घर सभी जगह खाने में सलाद दिया जाता है। लेकिन आपको पता है कि सलाद के क्या-क्या फायदे हैं। आपको ये भी पता होना चाहिए कि सलाद कितनी मात्रा में और कितनी बार खाना चाहिए, जिससे आपके शरीर को उसका लाभ मिल सके। सलाद खाने से आप पर्याप्त विटामिन, मिनरल आदि पा सकते हैं। सलाद में आजकल बहुत विभिन्नता हैं, जैसे फलों का सलाद, सब्जियों का सलाद या स्प्राउट सलाद। कुछ लोग खाने के बाद भी सलाद खाते हैं। खाना खाने से पहले सलाद खाने से आप अधिक सब्जियां ग्रहण करते हैं, जिससे स्वास्थ्य को लाभ मिलता है। ऐसा इसलिए है, जब आप कुछ खाने बैठते हैं, तो आप अपने सामने रखी हर चीज को खा लेते हैं।

यहीं कारण है कि खाने से पहले सलाद खाने से आपका पेट काफी हद तक भर जाता है। इससे आप अधिक कैलोरी युक्त आहार को खाने से बच जाते हैं, जो लोग वजन कम करना चाहते हैं, उनके लिए सलाद एक बेहतरीन विकल्प है। अगर पाचन की दृष्टि से देखा जाए, तो हमें भोजन से पहले ऐसा कुछ खाना चाहिए, जो जल्दी पच जाए और जिससे हमारा पाचन तंत्र भी सही रहे। सब्जियां न केवल जल्दी पच जाती हैं, बल्कि इनसे हमारा पाचन तंत्र भी सही रहता है। इसलिए, भोजन से पहले सलाद खाना सेहत के लिए अच्छा है। यदि आप दोपहर और रात के खाने से पहले सलाद खाते हैं, तो उससे आपके शरीर बहुत ज्यादा फायदे मिलते हैं।  

21-03-2021
दिनभर बिजी रहने की वजह से नहीं मिलता टाइम, तो घर पर ही 10 मिनट करे ये एक्‍सरसाइज

रायपुर। योग और एक्सरसाइज स्वास्थ्य के लिए लाभदायक होते हैं। योग शरीर में ताजगी का अनुभव कराता है और पूरे दिन ऊर्जा से परिपूर्ण रखता है। अगर योग व एक्सरसाइज के लिए समय नहीं निकाल पा रहे हैं या फिर आप अपने कामों में बहुत ही व्यस्त रहते हैं तो यह अभ्यास आपके शरीर की पूरी एक्सरसाइज सिर्फ 10 से 20 मिनट में ही करवा देगा।

आंखों की कसरत के लिए
सबसे पहले हम आंखों की कसरत करेंगे। इसके लिए आप खड़े हो जाएं और अपने आंखों को दाएं से बाएं घुमाएं और इसी के विपरीत बाएं से दाएं की ओर एक पूर्ण गोलक की तरह घुमाएं। अगर आप को दिक्कत आ रही है तो आप अपनी उंगली की सहायता से एक गोलक की तरह घुमाते रहें और आंखों से देखते रहें, इसे आप 10 से 20 बार तक करें।

मुंह के लिए कसरत
आप उसी अवस्था में ही खड़े होकर अपने मुंह को ज्यादा से ज्यादा से खोलने का प्रयत्न करें। इसमें आप अपने मुंह से वाव को बोलने के लिए उसी प्रकार मुंह को खोलें। इससे आपके पूरे Face सहित Chin की भी कसरत हो जाती है, इसे आप 10 से 15 बार तक कर सकते हैं।

गर्दन के लिए कसरत
आप खड़े होकर ही अपने गर्दन को आगे की तरफ झुकाएं और इसके विपरित पीछे की तरफ ले जाकर झुकाएं और ध्यान रखें कि दांत एक दूसरे से मिले हुए हों और तथा इस क्रम को लगभग 15 से 20 बार लगातार दोहराएं। इससे आपकी ठुड्डी से लेकर पूरे गर्दन तक की कसरत होती है।

कंधों के लिए
इसके लिए आप अपने हाथों को कंधों पर रखकर आगे की तरफ से अंदर की तरफ 15 बार घुमाएं और इसके विपरीत पीछे की तरफ से आगे की तरफ 15 बार घुमाएं । आप इसकी गति कम या ज्यादा कर सकते हैं।

हाथों के लिए कसरत
आप अपने हाथों को सामने की तरफ सीधा ले जाएं और फिर मुट्ठी बंद कर उसे बाएं से दाएं घुमाएं और फिर इसे दाएं से बाएं की तरफ घुमाएं। इसे करीब आप 10 से 20 बार करें या उससे अधिक भी कर सकते हैं। इसके बाद अब हाथों को खोलकर कंधों के सहारे आगे से पीछे की ओर, फिर पीछे से आगे की ओर घुमाएं।

पेट/कमर के लिए
इसे करने के लिए आप अपने पैरों के बीच थोड़ी दूरी बना लें, फिर आप अपने कमर को दाएं से बाएं और फिर उसी प्रकार बाएं से दाएं की तरफ एक गोलक की तरह घुमाएं। इससे आपके पूरे कमर की एक्सरसाइज होती है। इसके बाद आप कमर से आगे की तरफ ज्यादा से ज्यादा झुककर अपने पैरों को छुएं और फिर पीछे की तरफ ज्यादा से ज्यादा झुकने की कोशिश करें, इसे 10 बार तक दोहराएं।

 

19-03-2021
भुना चना और गुड़ खाइए, शरीर रहेगा रोगमुक्त 

रायपुर। चना खाने का फायदा होता है ये बात तो हम सदियों से सुनते आ रहे हैं। लेकिन आपको पता है क्या रोजाना चना खाने से शरीर को कार्बोहाइड्रेट, चिकनाई, रेशा, कैल्शियम, आयरन और विटामिन्स जैसे पोषक तत्व मिलते है। साथ ही यदि आप गुड़ के साथ इसका सेवन कर रहे हैं तो इसके फायदे दोगुने हो जाते हैं। भुने चने और गुड़ खाने से शरीर रोग मुक्त रहता है। रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है। सेवन से कुष्ठ रोग समाप्त हो जाता है। भुने चने और गुड़ खाने से शरीर की चर्बी कम होती है। साथ ही वजन भी नियंत्रित रहता है। भुन चने और दूध का सेवन करने से मेल सीमन का पतलापन दूर होता है।

Please Wait... News Loading