GLIBS
20-05-2020
फैज़ल सिद्दीकी का टिक-टॉक अकाउंट बैन, ‘एसिड अटैक’ को बढ़ावा देते हुए बनाया था वीडियो

मुंबई। सोशल मीडिया एप्लीकेशन टिक-टॉक का लगातार भारत में विरोध हो रहा है। अपने कंटेंट को लेकर अक्सर ही सुर्खियों में रहने वाला टिकटॉक एक बार फिर अपने आलोचकों के निशाने पर है। टिकटॉक स्टार फैजल सिद्दीकी का एसिड अटैक वाला वीडियो वायरल होने के बाद देश भर में टिकटॉक बैन करने की मांग जोरों शोरों से उठने लगी। ट्विटर पर लोग हैशटैग बैन टिकटॉक के साथ ट्वीट कर रहे हैं और देश भर में ये ट्रें कर रहा है। इन सबसे टिकटॉक की रेटिंग 4.5 से सीधे 3.2 पर आ गिरी है। यह एक बहुत ही बड़ी गिरावट है। टिकटॉक की खुमारी लोगों को ऐसी चढ़ी हैं कि हर कोई स्टार बनना चाहता है, लेकिन स्टार बनने की चाह में विवादित वीडियो बनाकर भी अपलोड कर रहे हैं। कुछ ऐसा ही करना टिकटॉक के स्‍टार फैज़ल सिद्दीकी को करना बहुत महंगा पड़ा अपने इस नए वीडियो में वह एसिड अटैक करने की एक्टिंग करते नजर आए, जिसके बाद फैज़ल के टिकटॉक अकाउंट को बैन कर दिया गया है।

उन पर आरोप है कि  वीडियो द्वारा उन्होंने कई सामुदायिक दिशा निर्देशों का उल्लंघन किया है। फैज़ल सिद्दीकी के टिकटॉक पर 13.4 मिलियन फॉलोअर है। एसिड अटैक वीडियो अपलोड होने के बाद लोगों ने उनका विरोध करना शुरू किया। दरअसल, उन्होंने जो वीडियो पोस्ट किया था ,उसमें वो एक लड़की के चेहरे पर एसिड फेंकते हुए देखा जा सकता था। बाद में उसी क्लिप में वह लड़की विचित्र मेकअप में नजर आती है। इसके बाद वीडियो में एक लाइन आती है, जिसमें फैजल कहते नजर आते हैं कि तुम्हें उसने छोड़ दिया, जिसके लिए तुमने मुझे छोड़ा था। फैजल के इस वीडियो के सामने के बाद सिर्फ यूजर्स ही नहीं बल्कि सेलेब्स से लेकर राष्ट्रीय महिला आयोग का गुस्सा भी फूटा था। महाराष्ट्र पुलिस और राष्ट्रीय महिला आयोग ने टिकटॉक इंडिया को पत्र लिखकर कार्रवाई की मांग की थी। मामला बढ़ता देख फैजल ने अपने वीडियो को हटा लिया था और साथ में अपनी सफाई भी पेश की थी।

टिकटॉक के एक प्रवक्ता ने कहा कि हमने वीडियो को हटा दिया है, साथ ही खाते को निलंबित कर दिया है। उन्होंने बताया कि अब वो इस मामले में कानून प्रवर्तन एजेंसियों के साथ काम कर रहे हैं। बताया जा रहा है कि टिकटॉक के ऐसे ही कई वीडियो क्लिप्स ट्विटर पर सामने आए हैं, जो महिलाओं के खिलाफ यौन शोषण को बढ़ावा देने वाले हैं। ऐसे वीडियोज सामने आने के बाद नेटिजन्स #BanTikTokinIndia के साथ ट्वीट करने लगे और ये ट्रेंड करने लगा। कई ऐसे फोटोज और स्क्रीनशॉट शेयर किए गए हैं, जिसमें उन्होंने लिखा है कि हमने ऐप को केवल निगेटिव रेटिंग देने के लिए ही डाउनलोड किया था। ऐपल ऐप स्टोर और गूगल प्ले स्टोर पर ऐप पर 1-स्टार रिव्यूज की बाढ़ आ गई है। टिकटॉक ऐप 1-स्टार रिव्यूज की सीरीज के बाद गूगल प्ले स्टोर पर कुछ दिनों के भीतर ही रेटिंग 4.5 स्टार्स से घटकर 2 स्टार्स तक पहुंच गया है। इसके अलावा टिकटॉक कंटेंट क्रिएटर्स और यूट्यूब कंटेंट क्रिएटर्स की नोक-झोंक भी पिछले काफी दिनों से जारी ही है।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804