GLIBS
22-10-2020
होम आइसोलेशन में रह रहे पॉजिटिव मरीजों के घरों को चिन्हित कर लगाया जा रहा स्टीकर

भिलाई। कोरोना संक्रमित व्यक्तियों के कांटेक्ट ट्रेसिंग एवं होम आइसोलेशन में रह रहे पॉजिटिव मरीजों के घर स्टीकर चस्पा करने कलेक्टर डॉ. सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे से प्राप्त निर्देश के तहत नगर पालिक निगम आयुक्त  ऋतुराज रघुवंशी ने इसके बेहतर क्रियान्वयन के लिए समस्त जोन आयुक्तों को निर्देश दिए हैं। निर्देशानुसार होम आइसोलेशन में रह रहे कोरोना पॉजिटिव वाले व्यक्तियों के मकानों को चिन्हित करने का कार्य किया जा रहा है। निगम एवं स्वास्थ्य विभाग के संयुक्त कर्मचारी घरों के बाहर दीवारों पर लाल रंग के स्टीकर चस्पा कर होम आइसोलेशन में रह रहे कोविड-19 के पॉजिटिव मरीजों की संख्या सहित अन्य जानकारी एकत्रित कर रहे हैं। जिससे स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों को मानिटरिंग करने में किसी भी प्रकार की दिक्कत न हो। स्टीकर लगाने संबंधी कार्य के लिए स्वास्थ्य विभाग के सुपरवाइजर, ग्रामीण स्वास्थ्य संयोजक एवं निगम के राजस्व विभाग की टीम प्रशिक्षित हो चुके हैं। लक्षण युक्त मरीज, गंभीर मरीज और बिना लक्षण वाले मरीजों को वर्ग वार अलग कर सूचीबद्ध करते हुए रिपोर्ट तैयार की जा रही है।

मरीज के संपर्क में आए हुए हाई रिस्क कांटेक्ट एवं लो रिस्क प्राइमरी कांटेक्ट के बारे में भी जानकारी एकत्रित की जा रही है।
 होम आइसोलेशन में रह रहे पॉजिटिव मरीज के घरों में जोन क्रमांक 1 के 928 घर, जोन क्रमांक 2 के 177 घर, जोन क्रमांक 3 के 244 घर, जोन क्रमांक 4 के 135 घर एवं जोन क्रमांक 5 के 532 घरों में स्टीकर चस्पा किया जा चुका है। जिले में लागू गाइडलाइन के अनुसार कोविड-19 के मरीजों को होम आइसोलेशन में रहने की सुविधा दी गई है। इस व्यवस्था के अंतर्गत निगम क्षेत्र में कोविड-19 के पॉजिटिव कई मरीज अपने घरों में रह कर इलाज करा रहे हैं। स्टीकर लगाने संबंधी कार्य के लिए आयुक्त रघुवंशी ने फील्ड में कार्य करने वाले राजस्व और स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों की जिम्मेदारी तय किया है। इसके अतिरिक्त कर्मचारियों की ड्यूटी निगम क्षेत्र में संचालित फीवर क्लीनिक सेंटर, प्राथमिक चिकित्सालय और जिला चिकित्सालय से कोविड-19 पॉजिटिव मरीजों की प्रतिदिन की जानकारी जुटाने में लगाई गई हैं। उसी रिपोर्ट के अनुसार ही निगम के कर्मचारी होम आइसोलेशन वाले मकानों का सर्वे करने घरों में पहुंच रहे हैं और घरों में स्टीकर लगाने का कार्य कर रहे हैं।

 

 

16-09-2020
कलेक्टर ने कहा-कोरोना मरीज के घर में स्टीकर चिपकाना अनिवार्य, निकालने और छेड़छाड़ करने पर होगी कार्रवाई

रायपुर। कलेक्टर डॉ. एस. भारतीदासन ने कोरोना संक्रमण के रोकथाम और नियंत्रण के लिए शहर में किए जा रहे जोनवार कार्यों की मंगवार को समीक्षा कर आवश्यक निर्देश दिए। उन्होंने कहा है कि, जिस घर में कोरोना मरीज हैं, वहां पर अनिवार्य रूप से स्टीकर चिपकाना है। स्टीकर को निकालने या छेड़छाड़ करने पर एपेडिमिक एक्ट के तहत कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा है कि, ऐसे क्षेत्र जहां पर ज्यादा कोरोना मरीज की पहचान होती है,वहां पर टेस्टिंग, काढ़ा, कांटेक्ट ट्रेसिंग आदि कार्य तत्काल प्रारंभ किया जाएगा। कलेक्टर ने जोन में परीक्षण अधिक से अधिक करने और जोनवार सैंपलिंग के लिए लक्ष्य बनाकर कार्य करने के निर्देश दिए हैं।

मरीजों के परिवहन के लिए तत्काल वाहन उपलब्ध कराने और सक्रिय मरीजों की संख्या को ध्यान में रखते हुए आवश्यक समस्त व्यवस्था रखने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने घर में बुजुर्ग,गर्भवती महिला और गंभीर बीमारी से पीड़ित व्यक्तियों के संदर्भ में सम्पूर्ण जानकारी रखने कहा है। गंभीर कोरोना मरीज को यथाशीघ्र चिकित्सा उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने सर्विलांस दल को व्यक्तियों के ऑक्सीजन लेवल और पल्स रेट का परीक्षण करने में लापरवाही ना करने के सख्त निर्देश दिए हैं। कलेक्टर ने जनता से अपील की है कि, कोरोना से बचने के लिए आवश्यक सावधानी बरतें।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804