GLIBS
15-10-2020
जापान की मियावाकी तकनीक से विकसित मिनी फारेस्ट का विधायक ने किया शुभारंभ 

कांकेर। विधायक व विधानसभा उपाध्यक्ष मनोज मंडावी ने जापान की मियावाकी तकनीक से विकसित मिनी फारेस्ट का उद्घाटन किया है। इस अवसर पर विधायक ने वनों व प्रकृति के सरंक्षण के लिए सभी को संकल्पित होने का आहवान किया। उन्होंने कहा कि वन विभाग भानुप्रतापपुर व राज्य का वन मंत्रालय इस प्रोजेक्ट के लिए धन्यवाद का पात्र है। यह प्रोजेक्ट फिलहाल भानुप्रतापपुर में प्रयोग के तौर पर शुरू किया गया है, जिसके सफल होने पर इसे छत्तीसगढ़ के सभी नगरीय क्षेत्रों में लगाया जाएगा। वर्तमान में बढ़ते वायु प्रदूषण एवं प्रकृति में हो रही अनियमितता को देखते हुए यह प्रोजेक्ट बेहद महत्वपूर्ण है।

इससे आम लोगों को न केवल शुद्ध ऑक्सीजन मिलेगी और यह छोटे पशु पक्षियों का भी आश्रय बनेगा। इस अवसर पर  नगर पंचायत अध्यक्ष सुनील बबला पाढी, जनपद पंचायत अध्यक्ष बृजबती मरकाम, उपाध्यक्ष सुनाराम तेता, अंतागढ जनपद पंचायत अध्यक्ष बद्रीनाथ गावड़े, विश्राम गावडे, किसान कांग्रेस उपाध्यक्ष जनकनंदन कश्यप, ब्लाक कांग्रेस अध्यक्ष वीरेंद्र सिंह ठाकुर, युकां विधानसभा अध्यक्ष मोहसीन खान, नगर पंचायत के पार्षद भगवान सिहं कुंजाम, मनीष योगी, रूपेंद्र मरकाम, हेमलता नाग, नरेंद्र कुलदीप ने भी इस मिनी फारेस्ट में अपने अपने नाम का पौधा रोपण किया। आयोजन के दौरान वन विभाग के सभी बड़े अधिकारी व कमर्चारी भी उपस्थित थे।

29-09-2020
कलेक्टर ने कोरोना संक्रमित मरीजों के लिए महंगे इंजेक्शन रेडक्रास के माध्यम से उपलब्ध कराने के दिए निर्देश

रायपुर/रायगढ़। कलेक्टर भीम सिंह ने कलेक्टोरेट के सभाकक्ष में आयोजित बैठक में कोरोना महामारी से संक्रमित मरीजों के इलाज के लिए ऑक्सीजन सुविधायुक्त बेड की उपलब्धता और ऑक्सीजन आपूर्ति व सिलेण्डरों की रिफिलिंग किए जाने के संबंध में स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों तथा मेडिकल कॉलेज के डॉक्टरों को आवश्यक निर्देश दिए है। उन्होंने कोविड अस्पतालोंं में मरीजों के मृत्यु प्रकरणों की केश हिस्ट्री तैयार कर प्रस्तुत करने को कहा, जिससे मृत्यु के वास्तविक कारणों का पता चल सके। जैसे मरीजों को पूर्व से कोई गंभीर बीमारी, कोरोना के प्रारंभिक लक्षणों को मरीज द्वारा अनदेखी करने और देरी से जांच कराने, पॉजिटिव आने के बाद अस्पताल पहुंचने में देरी अथवा मरीजों को अस्पताल पहुंचाने के लिये ट्रान्पोर्टेशन (वाहन की व्यवस्था) न होने या ऑक्सीजन सुविधा उपलब्ध न होने जैसे महत्वपूर्ण तथ्यों का पता लगाया जा सके और मृतक द्वारा की जाने वाली लापरवाही के बारे में उसके परिवार एवं आम नागरिकों को जानकारी हो सके कि कोरोना बीमारी में लापरवाही कितना घातक हो सकता है। उन्होंने जिले में कोरोना संक्रमित मरीजों के मृत्यु वाले प्रकरणों की ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों का विकासखण्डवार पृथक-पृथक जानकारी तैयार कर प्रस्तुत करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि डेथ रेट (मृत्यु दर)में कमी लाना बहुत आवश्यक है।

कलेक्टर ने कहा कि ऑक्सीजन की आवश्यकता वाले किसी भी मरीज को होम आईसोलेशन की अनुमति नहीं दी जाये और सभी कोविड अस्पतालों में ऑक्सीजन सिलेण्डरों की उपलब्धता, उपयोग एवं खाली सिलेण्डरों की रिफिलिंग हेतु ड्रिस्टिक ऑक्सीजन कमेटी का गठन करने के निर्देश दिये। मेडिकल कालेज के आईसीयू प्रभारी डॉ.लकड़ा ने बताया कि वर्तमान में 300 से अधिक भरे हुये ऑक्सीजन सिलेण्डर उपलब्ध है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया कि पूर्व में चयनित नर्सेस भर्ती की प्रतीक्षा सूची में से बचे 20 नर्सेस की नियुक्ति प्रदान कर दी गई है। आवश्यकतानुसार अतिरिक्त नर्सिंग स्टाफ की नियुक्ति की प्रक्रिया भी प्रारंभ कर दी गई है। कलेक्टर ने कोविड अस्पतालों में अल्प अवधि के लिये नर्सेस स्टाफ की पूर्ति के लिये राज्य शासन को प्रस्ताव भेजकर नियमानुसार स्वीकृति प्राप्त करने के निर्देश दिये। उन्होंने कोविड अस्पतालों के लिये डॉक्टरों की पूर्ति हेतु आयुर्वेद डॉक्टरों को आवश्यक प्रशिक्षण प्रदान कर कोविड अस्पतालों में उनकी सेवायें लेने के निर्देश दिये।

कलेक्टर सिंह ने रेल्वे स्टेशन पर होर्डिंग्स लगाकर कोरोना सेंपल कलेक्शन सेंटर की जानकारी और कोरोना महामारी हेतु बनाये गये आदर्श कंट्रोल रूम के सभी इमरजेंसी फोन नंबर तथा रेल यात्रियों के लिये आवश्यक दिशा-निर्देश प्रदर्शित करने तथा जिले के सभी कोविड अस्पतालों में कुल सामान्य बेड तथा ऑक्सीजन सुविधायुक्त बेड की जानकारी प्रतिदिन मीडिया बुलेटिन के माध्यम से प्रसारित करने के निर्देश दिये। उन्होंने सेंपल जांच केन्द्रों के बाहर कुर्सियां लगवाकर जांच कराने आने वाले व्यक्तियों के बैठने की व्यवस्था करने को कहा। कलेक्टर ने कोरोना संक्रमित ऑक्सीजन आवश्यकता वाले मरीज की स्थिति 3-4 दिनों में ठीक महसूस होने पर सामान्य कोविड अस्पताल में शिफ्ट करने को कहा ताकि अन्य मरीजों को ऑक्सीजन सुविधायुक्त बेड उपलब्ध हो सकेगा। उन्होंने होम आईसोलेशन में रहने वाले मरीजों की सतत् निगरानी करने और घर के सदस्यों को बाहर न निकलने के निर्देश देने को कहा और होम आईसोलेशन मरीजों के घर के सभी सदस्यों को दवाइयां मिलती रहे इसकी मॉनिटरिंग करने के निर्देश दिये। कलेक्टर ने ड्रग इंसपेक्टरों को दवाई दुकानों में बिक्री होने वाले मास्क, चिकित्सा उपकरण तथा दवाईयों की नियमित जांच करने और दुकानों में अमानक स्तर की मेडि

22-09-2020
स्वास्थ्य विभाग ने निजी अस्पतालों से कहा, कोविड-19 के मरीजों के इलाज लिए 24 घंटे रखे ऑक्सीजन

रायपुर। कोविड-19 के मरीजों की सुविधा के लिए निजी अस्पतालों में कुल संचालित बिस्तरों कोविड एवं नॉन-कोविड सहित में से 50 प्रतिशत बिस्तरों में ऑक्सीजन की 24x7 उपलब्धता कराया जाना सुनिश्चित करने के निर्देश दिए गए हैं।
स्वास्थ्य संचालनालय द्वारा इस संबंध में सभी जिलों के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारियों को निर्देश जारी किए गए हैं। जारी निर्देश में कहा गया है कि विभिन्न जिलों में निजी चिकित्सालयों में कोविड-19 मरीजों के उपचार के लिए चिन्हांकित अस्पतालों के कुल संचालित बिस्तरों कोविड एवं नॉन-कोविड सहित में से 50 प्रतिशत बिस्तरों को आवश्यकतानुसार आरक्षित कर इन बिस्तरों का उपयोग कोविड-19 मरीजों के उपचार के लिए किया जा सकेगा।  इस संबंध में निजी चिकित्सालयों के संचालकों को अवगत कराने और आवश्यक कार्यवाही सुनिश्चित करने के निर्देश स्वास्थ्य विभाग ने दिए हैं।

 

16-09-2020
राहत भरी खबर : प्रदेश में जल्द कोविड मरीजों के लिए 2 हजार ऑक्सीजन युक्त बेड की होगी व्यवस्था

रायपुर। पूरे प्रदेश में जल्द ही ऑक्सीजन युक्त बेड की संख्या 2000 और बढ़ाई जा रही है। इसे मिलाकर अब राज्य में इसकी संख्या 4283 हो जाएगी । वर्तमान  में यह संख्या 2283 है,जिसमें 787 ऑक्सीजन युक्त बेड सरकारी अस्पतालोें, 616 बेड निजी और 880 बेड कोविड केयर सेंटर में हैं। राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन की संचालक डॉ.प्रियंका शुक्ला ने कहा कि राज्य में वर्तमान में कोविड मरीजों के लिए कुल 32938 जनरल बेड हैं। उन्होंने कहा है कि,  शासकीय अस्पतालों में 3727 कुल बेड हैं, जिनमें 2940 जनरल, 787 ऑक्सीजन युक्त और 406 आईसीयू हैं। इसी प्रकार कोविड केयर सेंटर में कुल जनरल बेड 26758 और ऑक्सीजन बेड 880 हैं। निजी अस्पतालों में कोविड मरीजों के लिए 957 जनरल बेड , 616 ऑक्सीजनयुक्त बेड और 436 आईसीयू बेड निर्धारित किए गए हैं। विभाग की ओर से लगातार कोविड मरीजों के लिए स्वास्थ्य सुविधाएं बढ़ाई जा रही हैं।

 

16-09-2020
कलेक्टर ने कहा-कोरोना मरीज के घर में स्टीकर चिपकाना अनिवार्य, निकालने और छेड़छाड़ करने पर होगी कार्रवाई

रायपुर। कलेक्टर डॉ. एस. भारतीदासन ने कोरोना संक्रमण के रोकथाम और नियंत्रण के लिए शहर में किए जा रहे जोनवार कार्यों की मंगवार को समीक्षा कर आवश्यक निर्देश दिए। उन्होंने कहा है कि, जिस घर में कोरोना मरीज हैं, वहां पर अनिवार्य रूप से स्टीकर चिपकाना है। स्टीकर को निकालने या छेड़छाड़ करने पर एपेडिमिक एक्ट के तहत कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा है कि, ऐसे क्षेत्र जहां पर ज्यादा कोरोना मरीज की पहचान होती है,वहां पर टेस्टिंग, काढ़ा, कांटेक्ट ट्रेसिंग आदि कार्य तत्काल प्रारंभ किया जाएगा। कलेक्टर ने जोन में परीक्षण अधिक से अधिक करने और जोनवार सैंपलिंग के लिए लक्ष्य बनाकर कार्य करने के निर्देश दिए हैं।

मरीजों के परिवहन के लिए तत्काल वाहन उपलब्ध कराने और सक्रिय मरीजों की संख्या को ध्यान में रखते हुए आवश्यक समस्त व्यवस्था रखने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने घर में बुजुर्ग,गर्भवती महिला और गंभीर बीमारी से पीड़ित व्यक्तियों के संदर्भ में सम्पूर्ण जानकारी रखने कहा है। गंभीर कोरोना मरीज को यथाशीघ्र चिकित्सा उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने सर्विलांस दल को व्यक्तियों के ऑक्सीजन लेवल और पल्स रेट का परीक्षण करने में लापरवाही ना करने के सख्त निर्देश दिए हैं। कलेक्टर ने जनता से अपील की है कि, कोरोना से बचने के लिए आवश्यक सावधानी बरतें।

10-09-2020
ऑक्सीजन की सुविधायुक्त बेड बढ़ाने में सहयोग करने के लिए निजी अस्पतालों के प्रबंधन से कहा कलेक्टर भीम सिंह ने

रायपुर/रायगढ़। जिले में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। इसमें गंभीर मरीजों को ऑक्सीजन सुविधा वाले बेड की आवश्यकता होती है। कलेक्टर भीम सिंह ने कलेक्टोरेट सभाकक्ष में शहर के निजी अस्पतालों के प्रबंधक चिकित्सकों से ऑक्सीजन सुविधा युक्त बेड उपलब्ध कराने के लिये सहयोग करने को कहा। शहर के अपेक्स अस्पताल में 20 बेड, मेट्रो अस्पताल में 10 और मिशन अस्पताल में 10 बेड उपलब्ध कराने के लिये इन अस्पतालों ने सहमति प्रदान किया। अस्पतालों में कोरोना संक्रमित मरीजों की देखभाल और इलाज के लिये आईएमए (इंडियन मेडिकल एसोसियेशन) की ओर से चिकित्सकों तथा स्टॉफ की सेवायें उपलब्ध करायी जायेगी। इन्हें स्वास्थ्य विभाग की ओर से कोरोना अस्पतालों में सेवा देने का प्रशिक्षण भी दिया जायेगा।

कलेक्टर सिंह ने निजी अस्पतालों के चिकित्सकों से उनके अस्पतालों में आने वाले सर्दी, खांसी, बुखार से संबंधित मरीजों का अनिवार्यत: कोरोना टेस्ट कराये जाने के निर्देश दिये। उन्होंने निजी अस्पतालों में कोरोना संक्रमित मरीजों को आवश्यक दवाईयां उपलब्ध कराये जाने मुख्य चिकित्सा व स्वास्थ्य अधिकारी को निर्देशित किया। कलेक्टर सिंह ने कोविड अस्पतालों में सेवा कर रहे डॉक्टरों को निर्देशित किया कि बिना किसी दबाव या सिफारिश में आये कोरोना संक्रमित मरीजों का इलाज करें और मरीज की हालत और मेरिट के अनुसार तय करें कि उसे कौन से अस्पताल में भर्ती किया जाना है।

कलेक्टर सिंह ने कहा कि वर्तमान स्थिति में कोरोना संक्रमित मरीजों के लिये शासन की ओर से होम आइसोलेशन के नियमों में शिथिलता प्रदान की है। इसमें किसी व्यक्ति को कोरोना पॉजिटिव पाये जाने पर स्वास्थ्य विभाग की टीम जाकर जांच करेगी कि मरीज के रहने के लिये पृथक रूम और शौचालय है कि नहीं इस आधार पर बिना लक्षण तथा प्रारंभिक लक्षणों वाले व्यक्ति को अण्डर टेकिंग (वचन-पत्र) भरवाकर होम आइसोलेशन की अनुमति प्रदान की जायेगी। होम आइसोलेशन में रहने वाले मरीजों को थर्मामीटर, आक्सीमीटर और पल्सरेट मीटर जैसे आवश्यक उपकरण स्वयं क्रय करना होगा, स्वास्थ्य विभाग की टीम प्रतिदिन निगरानी करेगी और दवाईयों का किट प्रदान करेगी और मरीज स्वयं मोबाइल फोन के माध्यम से डॉक्टर्स से संपर्क कर सकते हैं।

07-09-2020
वेंटिलेटर एवं ऑक्सीजन की सुविधा सहित प्रदेश में 25 एडवांस्ड लाइफ सपोर्ट एम्बुलेंस का संचालन

रायपुर। प्रदेश में 108-संजीवनी एक्सप्रेस निःशुल्क एम्बुलेंस सेवा के तहत 270 बीएलएस (Basic Life Support) और 25 एएलएस (Advanced Life Support) एम्बुलेंस का संचालन किया जा रहा है। इनके जरिए आपात एवं त्वरित चिकित्सा की जरूरत वाले मरीजों को घर या दुर्घटना स्थल से अस्पताल तथा रिफर्ड मरीजों को उच्चतर स्वास्थ्य संस्थानों तक निःशुल्क पहुंचाया जा रहा है। गंभीर मरीजों के लिए एडवांस्ड लाइफ सपोर्ट एम्बुलेंस में वेंटिलेटर और ऑक्सीजन की सुविधा भी मौजूद है। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने बताया कि एडवांस्ड लाइफ सपोर्ट एम्बुलेंस की सुविधा सुकमा, दंतेवाड़ा, राजनांदगांव, सरगुजा, दुर्ग, जांजगीर-चांपा, कोण्डागांव, बिलासपुर, रायगढ़, कांकेर, रायपुर, कोरबा, कबीरधाम, कोरिया, बालोद, बस्तर, बीजापुर, बलरामपुर-रामानुजगंज, नारायणपुर, जशपुर, सूरजपुर, गरियाबंद, महासमुंद, धमतरी और मुंगेली जिले में उपलब्ध है। टोल-फ्री नंबर 108 पर फोन कर संजीवनी एक्सप्रेस निःशुल्क एम्बुलेंस सेवा का लाभ लिया जा सकता है।

 

05-09-2020
सेना के जवान ने की 3 चीनी नागरिकों की मदद, दिए खाना और गर्म कपड़े, ठंड में भटक गए थे रास्ता

नई दिल्ली। भारतीय सेना ने तीन चीनी नागरिकों की शनिवार को सिक्किम में जान बचाई है। इसमें एक महिला भी शामिल थीं। भारतीय सेना की ओर से जारी बयान के मुताबिक चीन के तीन नागरिक, जिसमें एक महिला भी शामिल थी, गत तीन सितंबर को उत्तरी सिक्किम में 'जीरो डिग्री' तापमान के दौरान परेशानी में थे, जब सेना के जवानों ने उनकी मदद की। सेना ने अपने बयान में बताया है कि तकरीबन 17,500 फीट की उंचाई पर उत्तरी सिक्किम के पठार क्षेत्र में ये तीनों चीनी नागरिक रास्ता भटक गए थे। उसी दौरान देश के जवानों ने उनकी मदद की। भारतीन सेना के मुताबिक जीरो डिग्री से भी कम तापमान के कारण सभी परेशान थे। भारतीय सेना के जवानों ने उन्हें बचाने के लिए ऑक्सीजन, खाना और गर्म कपड़े सहित मेडिकल हेल्प भी दी। इसके बाद भारतीय सैनिकों ने उन्हे अपने गंतव्य तक पहुंचने के लिए रास्ते की भी जानकारी दी। चीनी नागरिकों ने भारतीय सेना की मदद के लिए आभार जताया है। 

 

02-09-2020
भाजपा नवनियुक्त जिलाध्यक्ष श्रीचंद सुंदरानी ने किया पौधारोपण

रायपुर। भारतीय जनता पार्टी महर्षि बाल्मीकि वार्ड के कार्यकर्ताओं ने नवनियुक्त जिलाध्यक्ष श्रीचंद सुंदरानी के साथ एटीएम चौक प्रस्तावित अटल चौक स्थित गार्डन में पौधारोपण किया। इस अवसर पर सुंदरानी ने आम एवं सीताफल के फलदार पौधे लगाएं। साथ ही आम लोगों से अपील की है कि पर्यावरण की रक्षा के लिए अधिक से अधिक पौधों का रोपण कर उसकी देखरेख करें। इससे न केवल हमारा शहर हरा भरा रहेगा बल्कि नागरिकों को ऑक्सीजन भी पर्याप्त मात्रा में मिलेगी। पौधारोपण कार्यक्रम में प्रमुख रूप से जिला मीडिया प्रभारी राजकुमार राठी, मंडल अध्यक्ष रविंद्र सिंह ठाकुर, जितेंद्र नाग ,मेघुराम साहू, अशोक गुप्ता, मिनी पांडे, डॉ विवेक श्रीवास्तव, अखिल चटर्जी, किशोरचंद नायक, अजय राणा, गज्जू साहू, अनिल यादव, अमलेश सिंह, जयराम कुकरेजा, चयन जैन, विकास शुक्ला, प्रहलाद क्षत्रिय, जूही कुमारी, जुबेदा बानो उपस्थित रही।

31-08-2020
Video: कोरोना संक्रमित 55 वर्षीय महिला की मौत, सीएमएचओ डॉ. बंजारे ने की पुष्टि

जांजगीर-चांपा। जांजगीर के कोविड केयर सेंटर में कोरोना से पीड़ित एक 55 साल की महिला की मौत हो गई है। कोरोना पॉजिटिव पाए जाने पर महिला को रविवार को बलौदा से जांजगीर के कोविड केयर हॉस्पिटल में एडमिट किया गया था। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ एसआर बंजारे ने पुष्टि  की है। उन्होंने कहा है कि, महिला की स्थित काफी गंभीर थी। महिला डायबिटिक थी, साथ ही हाइपरटेंशन की भी पेशेंट थी। इलाज के दौरान उनका ऑक्सीजन लेवल काफी नीचे चला गया था। काफी प्रयासों के बावजूद उन्हें बचाया नहीं जा सका।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804