GLIBS
27-09-2020
राजधानी में लॉक डाउन बढ़ेगा या नहीं फैसला सोमवार को,रविन्द्र चौबे करेंगे समीक्षा

रायपुर। राजधानी रायपुर में जारी 1 सप्ताह के लॉकडाउन का सोमवार 28 सितंबर को अंतिम दिन है। 21 सितंबर की रात 9 बजे से 28 सितंबर की रात 12 बजे तक कलेक्टर डॉ. एस.भारतीदासन ने पूरे जिले को कंटेनमेंट जोन घोषित किया था। अब लॉकडाउन को लेकर महत्वपूर्ण फैसला सोमवार को मंत्री रविन्द्र चौबे की अध्यक्षता में होने वाली समीक्षा बैठक में होगा। मंत्री चौबे ने रविवार को मीडिया को बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि सोमवार को कलेक्टर डॉ. एस. भारतीदासन व जिला प्रशासन के अधिकारियों और जनप्रतिनिधियों के साथ बैठक में चर्चा होगी। जिले की वर्तमान स्थितियों पर विचार-विमर्श किया जाएगा। बता दें कि रायपुर में लगातार बढ़ रहे कोरोना संक्रमण के मामले को देखते हुए जारी लॉकडाउन में व्यवस्थाओं का जायजा लेने गत दिनों जिले के प्रभारी मंत्री रविन्द्र चौबे सड़क पर उतरे थे। उन्होंने शहर में घूमकर तमाम व्यवस्थाओं को देखा था और पुलिस टीम की सराहना भी की थी। उन्होंने उस दौरान भी मीडिया से चर्चा के दौरान कहा था कि समीक्षा के बाद ही कोई फैसला लिया जाएगा। मंत्री चौबे के साथ व्यवस्थाओं का जायजा लेने संसदीय सचिव व विधायक विकास उपाध्याय, विधायक कुलदीप जुनेजा, कलेक्टर डॉ.एस.भारतीदासन और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अजय यादव भी निकले थे। इधर रोजाना के आंकड़ों पर गौर करें तो लॉकडाउन के बाद भी राजधानी में कोरोना मरीजों के मिलने की संख्या में कोई कमी नहीं हुई है। रोजाना प्रदेश में सर्वाधिक रायपुर जिले में कोरोना मरीज मिल रहे हैं। अब देखना है कि,सोमवार की बैठक में क्या निर्णय लिया जाता है। लॉक डाउन को लेकर जो भी फैसला हो,सभी को बेसब्री से इंतजार है।

26-09-2020
लॉक डाउन में समस्याओं से जूझ रहे किसान,निजात दिलाने प्रभारी मंत्री को ज्ञापन

रायपुर। 28 सितंबर तक जिले को कंटेनमेट जोन घोषित किए जाने के चलते कृषि दवाई दुकानें व बैंक बंद हैं। इस वजह से किसानों को खरीफ खेती के मौसम में समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। इसके मद्देनजर समय निर्धारित करवाकर कृषि दवा दुकानें व बैंकों को किसान हित में खुलवाने की मांग कृषि और जिला प्रभारी मंत्री रवीन्द्र चौबे को ज्ञापन प्रेषित कर किसान संघर्ष समिति के संयोजक भूपेन्द्र शर्मा ने की है। व्हाट्सऐप के जरिए प्रेषित ज्ञापन में बतलाया गया है कि प्रतिकूल मौसम के चलते खरीफ धान की फसल पर दिनोदिन कीट व्याधि बढ़ रही है।  कृषि दवा दुकाने बंद पड़े  है,जिसकी वजह से किसान दवाइयों के लिए भटक रहे हैं। बिलासपुर जिले में किसानों की इस समस्या को दृष्टिगत रखते हुए समय निर्धारित कर दवाई दुकाने खोलने का संशोधित आदेश जिलाधीश ने जारी किए है।

रायपुर जिला में भी संशोधित आदेश जारी कर नगरीय व ग्रामीण क्षेत्रों के शासन के अनुमति प्राप्त दवाई दुकानों को खुलवाने के संबंध में विचार कर खुलवाने का आग्रह किया है। ज्ञापन में बैंकों के भी बंद रहने व‌ किसानों द्वारा कृषि दवाईयों सहित अन्य आवश्यक खर्चों के लिये रकम की आवश्यकता महसूस किये जाने की ओर ध्यानाकर्षित कराते हुए बतलाया गया है कि अधिकांश किसानों के खाते जिला केन्द्रीय सहकारी बैंक के ग्रामीण शाखाओं में है। इनमें से अधिकतर एटीएम कार्डधारी नहीं हैं,जिसकी वजह से उनको नगदी की भी किल्लत का सामना करना पड़ रहा है। इस परिप्रेक्ष्य में ग्रामीण क्षेत्रों के ऐसे बैंकों को भी खुलवाने विचार करने का आग्रह किया गया है। 

 

26-09-2020
नहीं सुधर रहे लोग, होम आइसोलेशन में रह रहे संक्रमित मरीज तोड़ रहे नियमों को

धमतरी। जिले में बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए कलेक्टर जयप्रकाश मौर्य ने 22 सितंबर से 30 सितंबर तक का कंटेनमेंट जोन घोषित कर लॉकडाउन किया है। वही रोजाना बड़ी संख्या में जिले से संक्रमित मिलने लगे हैंं। साथ ही सरकार द्वारा नई गाइडलाइन भी जारी की गई है, जिसमें कोरोना संक्रमित मरीजों को होम आइसोलेशन में रखे जाने का प्रावधान भी है। जिले में 70 से 80 प्रतिशत मरीजों को होम आइसोलेशन में रखा गया है। लेकिन होम आइसोलेशन में रखे गए मरीजों के परिवार के सदस्य या खुद संक्रमित व्यक्ति घर से बाहर निकल रहे हैं और कुछ घर से व्यवसाय भी कर रहे हैं। बता दें कि होम आइसोलेशन में रखे जाने वाले संक्रमित मरीज के घर को कंटेनमेंट जोन घोषित कर घर को सील किए जाने का नियम बनाया गया है। होम आइसोलेशन में रह रहे संक्रमित मरीज वे उनके घर के सदस्य बनाए गए नियमों को तोड़ रहे हैं।

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार धमतरी शहर के एक पॉश कॉलोनी में एक संक्रमित की पहचान हुई थी। संक्रमित मरीज को होम आइसोलेशन में रखा गया है,लेकिन संक्रमित मरीज के द्वारा घर से व्यवसाय करने की बात सामने आई है। साथ ही कुछ लोगों के द्वारा यह भी कहा जा रहा है कि संक्रमित मरीज के घर के बाहर विभाग के द्वारा लगाए गए करोना वायरस संक्रमित मरीज के पर्चा को फाड़ दिया जाता है। वहीं सरकार के द्वारा बनाए गए नियमों के उल्लंघन किए जाने पर कार्यवाही करने का प्रावधान है। अब देखना यह होगा कि प्रशासन द्वारा नियमों को तोड़ने वाले लोगों पर कार्रवाई की जाती है या ऐसे ही ढ़ील दी जाती रहेगी। ऐसे लोगो पर एफआईआर दर्ज करने की मांग की गई है।

 

25-09-2020
डभरा व मालखरौदा के विभिन्न गांवों में 6 नए कंटेनमेंट जोन घोषित, जिला दण्डाधिकारी ने जारी किए आदेश

जांजगीर-चांपा। कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी यशवंत कुमार ने केंद्र सरकार के गृह,स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय तथा छत्तीसगढ़ शासन के जारी मार्गदर्शन के परिपालन में डभरा तहसील के ग्राम देवरघटा का वार्ड क्रमांक 10, मालखरौदा तहसील के ग्राम मालखरौदा के वार्ड क्रमांक 1 और ग्राम भडोरा के वार्ड क्रमांक 1,2,6,7, सकर्रा के वार्ड क्रमांक 15, नगझर के वार्ड नंबर 6 और  ग्राम मोहदीकला के वार्ड क्रमांक-6 में कोरोना वायरस से संक्रमित व्यक्ति पाए जाने के कारण संबंधित वार्ड के चिन्हांकित क्षेत्र को कंटेनमेंट जोन घोषित किया है। कंटेंनमेंट जोन में अतिआवश्यक वस्तुओं एवं सेवाओं की आपूर्ति तथा अपरिहार्य स्वास्थगत आपातकालीन परिस्थितियों को छोड़कर कंटेनमेंट जोन में आने-जाने पर पूर्ण प्रतिबंध रहेगा। कंटेनमेंट जोन के निवासी बिना अनुमति के अपने घरों से बाहर किसी भी परिस्थिति में नहीं निकलेंगे। क्षेत्र के अंतर्गत सभी दुकानें, आफिस एवं अन्य वाणिज्यिक प्रतिष्ठान आगामी आदेश तक पूर्णतः बंद रहेंगे। वाहनों के आवागमन पर भी पूर्ण प्रतिबंध लगाया गया है। अति आवश्यक होने पर पृथक से आदेश प्रसारित किया जाएगा। कंटेनमेंट जोन में घर पहुंच सेवा के माध्यम से आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति उचित दरों पर की जाएगी। स्वास्थ्य विभाग द्वारा संबंधित क्षेत्र में स्वास्थ्य निगरानी, सैंपल की जांच आदि की व्यवस्था की जाएगी। कानून-व्यवस्था, कंटेनमेंट जोन को सील करने एवं गश्त करने के लिए आवश्यक पुलिस व्यवस्था के लिए पुलिस अधीक्षक एवं अतिरिक्त जिला दंडाधिकारी को जिम्मेदारी सौंपी गई है। 

 

25-09-2020
लॉक डाउन के दौरान अनावश्यक घूमने वालों को पुलिस ने करवाई उठक बैठक

जांजगीर चाम्पा। जिले में सभी नगरीय निकायों और जुड़े हुए ग्राम पंचायतों को 25 सितम्बर से 1 अक्टूबर तक कंटेनमेंट जोन घोषित किया गया है। कलेक्टर यशवंत कुमार ने आज जांजगीर के बीटीआई चौक, कचहरी चौक, नेता जी चौक में कंटेनमेंट जोन के नियमों के पालन का जायजा लिया। इस दौरान पुलिस अधीक्षक पारूल माथुर भी उपस्थित थीं। कंटेनमेंट जोन में 1 अक्टूबर तक अपरिहार्य चिकित्सा कारणों से ही आवागमन की अनुमति होगी। अन्य कारणों से आवागमन, गतिविधियां प्रतिबंधित रहेंगी। लॉक डाउन के दौरान अनावश्यक घूमने वालों को पुलिस ने उठक बैठक कराया। कलेक्टर ने कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने और आम जनता के हित में कंटेनमेंट जोन के नियमों का कड़ाई से पालन करने की अपील आम जनता से की है।

23-09-2020
धमतरी में मिले 113 कोरोना पॉजिटिव, 2 की मौत, 209 लोग स्वस्थ होकर लौटे घर

धमतरी। कोरोना संक्रमण से बचाव और सुरक्षा के लिए लागू कंटेनमेंट जोन घोषित होने के दूसरे दिन 23 सितंबर को धमतरी जिले में कोरोना का रिकॉर्ड टूट गया है। एक ही दिन में 113 मरीजों की पुष्टि हुई है और 2 लोगों की मौत हुई। स्वास्थ्य विभाग से जारी कोरोना बुलेटिन के अनुसार गुजरा में 43, कुरूद में 27, मगरलोड में 3, नगरी में 1 और धमतरी शहर में 39 मरीज मिले हैं। इस तरह धमतरी जिले में अब तक कोरोना मरीजों कुल संख्या 1812 और 27 संक्रमित मरीजों की मौत हो चुकी है। वही आज 209 संक्रमित मरीजों को स्वस्थ होने के बाद डिस्चार्ज किया गया है। धमतरी कोविड-19 अस्पताल में 38 मरीजों का इलाज किया जा रहा है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.तुर्रे ने बताया कि आज शहर के दो लोगों की मौत हुई है, दोनों संक्रमित मरीजों में से एक को अन्य बीमारी भी थी एवं दूसरे मरीज अनकॉन्शियस था,अभी फिलहाल कुछ स्पष्ट नहीं कहा जा सकता। दोनों ही संक्रमित मरीजों की डेथ ऑडिट के बाद ही कुछ कहा जाएगा। वही शहर से से आज 39 संक्रमित मरीज मिले हैं,जिसमें से रामबाग से 1, सोरीद से 3,मराठापारा से 2, विवेकानंद कॉलोनी से 1, सिहावा चौक से 2, गुजराती कॉलोनी से 3, बनियापारा से 2, जालमपुर से 1, अंबेडकर चौक से 2, हाउसिंग बोर्ड से 1, श्रद्धा नगर से 1,स्टेशन पर से 2, रिसाई पारा मंदिर के पास से 1, शीतलापारा वार्ड से 4, बनियापारा से 1, रामसागर पारा से 2, दानिटोला से 1, सोरम से 1, आमा तालाब से 1, गोकुलपुर वार्ड से 1,जीएडी कॉलोनी से 1, रत्नाबांधा से 1 वे धमतरी से 4 संक्रमित मरीजों की पहचान हुई है।

धमतरी ग्रामीण
बीएमओ वंदना व्यास ने बताया कि आज 43 संक्रमित मरीजों की पहचान हुई है। इसमें से रुद्री से 2, उसलापुर से 12, तुमकला से 1, सोरम से 1, कसावाही से 1, आमदी से 1, सीएचसी गुज्जर से 1, पीपरछेड़ी से 1,श्यामतराई से 6, दर्री करेंगा से 2, बेन्द्रनावगओ से 5, संबलपुर से 4 ,देमर अर्जुनी से 1, मोंगरागहं से 1, देमन से 1, टेलिंशत्ति से 1, रुद्री कॉलोनी से 1 व 1 अन्य जगह से संक्रमित मरीज मिले हैं।

कुरुद
बीएमओ यूएस नवरत्न ने बताया कि कुरुद से आज 27 संक्रमित मरीज मिले हैं। इसमें से कुरूद से 6,करगा से 1,पहुसेरा से 2 ,बालादही से 1,उमर्दा नवागांव से 6 व बाकी अन्य जगहों से संक्रमित मरीज मिले हैं।

 

23-09-2020
जिला और पुलिस प्रशासन ने ग्रामीण क्षेत्रों में किया पैदल मार्च

गुंडरदेही। बालोद जिले को कंटेनमेंट जोन घोषित होने के बाद अधिकारियों द्वारा लॉकडाउन का सख्ती से पालन करवाने के लिए पैदल मार्च किया गया। गुंडरदेही एसडीएम भूपेंद्र अग्रवाल के नेतृत्व में तहसीलदार अश्वन कुमार पुशाम तथा थाना प्रभारी गुंडरदेही रोहित मालेकर ने ग्रामीण क्षेत्रों में पैदल मार्च कर व्यापारियों को दुकानें बंद कराने की अपील की। गौरतलब है कि जिला प्रशासन द्वारा जारी किए अपने आदेश में 23 सितंबर बुधवार को शाम 6 बजे के बाद से लॉक डाउन किए जाने का आदेश जारी किया गया था। उक्त आदेश को मौखिक तौर पर बदलते हुए  अधिकारियों द्वारा दुकाने बंद कराए जाने के लिए नगरीय तथा ग्रामीण क्षेत्रों में पैदल मार्च कर आदेश दिया गया।

इससे व्यापारियों में अफरा-तफरी का माहौल देखा गया। क्योंकि जिला प्रशासन की ओर से 23 सितंबर को शाम 6 बजे तक दुकानें खुली रखने का आदेश दिया गया था वहीं दुकानदारों द्वारा शाम तक दुकानें खुलने के हिसाब से होटल तथा अन्य दुकान वालों ने अपने-अपने प्रतिष्ठान उसी तैयारी के हिसाब से खोल रखे थे। स्थानीय प्रशासन द्वारा तत्काल प्रभाव से दुकान बंद किए जाने का आदेश देते हुए ग्रामीण क्षेत्रों में भी पैदल मार्च करते हुए दुकानें बंद कराई गई। इसके कारण कई व्यापारियों में खासकर होटल व्यवसाय से जुड़े हुए लोगों ने स्थानीय प्रशासन के उक्त रवैए को लेकर नाराजगी देखी गई।


शब्बीर रिजवी की रिपोर्ट

 

21-09-2020
जिले के नगरीय निकाय क्षेत्रों में 23 से 27 सितंबर तक कंटेनमेंट जोन घोषित

कोरिया। कलेक्टर एसएन राठौर की अध्यक्षता में बैठक हुई। इसमें जिले में कंटेनमेंट जोन घोषित किए जाने की आवश्यकता पर विचार किया गया। बैठक में एसपी चंद्रमोहन सिंह, सीईओ जिला पंचायत, सीएमएचओ,एसडीएम बैकुंठपुर एवं नगर पालिक निगम चिरमिरी की आयुक्त शामिल हुए। 23 से 27 सितंबर रात्रि 12 बजे तक जिले के नगरीय क्षेत्र नगरपालिका परिषद बैकुंठपुर, ग्राम पंचायत क्षेत्र रामपुर, तलवापारा, ओड़गी, भाड़ी, सहित जिले समस्त अन्य नगरीय निकायों, सभी विकासखण्ड मुख्यालय के साथ ग्राम पंचायत पटना, केल्हारी, पंडोपारा, पोड़ी बचरा, नागपुर, रामगढ़, कोटाडोल तथा कटकोना अंतर्गत सम्पूर्ण क्षेत्र को कंटेनमेंट ज़ोन घोषित किया गया है। इस दौरान क्षेत्र में सुबह 7 से 10 बजे तक दूध, सब्जी, फल, किराना और चिकन आदि की दुकानों को संचालित करने की अुनमति जिला प्रशासन ने प्रदान की है। इसके अलावा अन्य दुकानों का संचालन पूर्णत प्रतिबंधित रहेगा। 

21-09-2020
कोरोना संक्रमणः नियमों का उल्लंघन,6 दुकान सील, जिला, पुलिस व नपा की संयुक्त टीम ने की कार्यवाही

कवर्धा।कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामले को देखते हुए जिला प्रशासन द्वारा 14 सिंतबर से आगामी आदेश दिनांक तक कवर्धा शहर सहित आसपास के कई क्षेत्रों को कंटेनमेंट जोन घोषित करते हुए सुबह 7 बजे से 11 बजे तक आवश्यक सेवा वस्तुओं को छोड़कर बाकि शेष सभी दुकाने बंद रखा जाने का आदेश जारी किया है। कंटेनमेंट जोन होने के बाद भी दुकानदार अपनी दुकानों के आधे शटर खोलकर व्यवसाय करने में लगे है। ऐसी 6 दुकानों को प्रशासन ने सील किया। इसके साथ ही लालपुर रोड में घूमने वाले व्यक्तियों के खिलाफ कार्यवाही करते हुए 1050 रूपये वसूल किए।शहर के नागरिकों को कंटेनमेंट जोन लाॅकडाउन का पालन किये जाने के लिए जिला प्रशासन व नगर पालिका प्रशासन द्वारा लगातार मुनादी व अन्य माध्यमों से सूचित कर रहे हैं। उसके बाद भी कई व्यापारी लाॅक डाउन का उल्लंघन कर रहे हैं। जिला प्रशासन द्वारा निर्देशित किया गया है कि जो नियमों का पालन नही कर रहे हैं उनके दुकान की सिलींग कर कार्यवाही प्रस्तावित किया जावे।

कंटेनमेंट जोन के दौरान सब्जी दुकान, दूध, मेडिकल सहित अन्य जरूरी सामानों के लिए शासन द्वारा समय का निर्धारण किया गया है उसके बाद भी कई लोगों द्वारा नियमों  का बार-बार उल्लंघन किया जा रहा है। जिला प्रशासन के आदेशानुसार 22 सितंबर से आगामी आदेश दिनांक तक थोक सब्जी विक्रेताओं का दुकान बंद किया जावेगा। दुकान बंद किये जाने के लिए मुनादी भी करा दी गई है। कार्यवाही में अनुविभागीय अधिकारी विपुल गुप्ता,उप पुलिस अधीक्षक, तहसीलदार मनोज रावटे, नायब तहसीलदार हेमंत पैकरा, उपअभियंता विरेन्द्र नवघरे, तेजस्विनी जिरापुरे,, राजस्व उप निरीक्षक संतोष वानखेडे, सहायक राजस्व निरीक्षक मनीष ठाकुर, जीवनलाल शर्मा, लियाकत अली, हुलास ठाकुर, सुनील कुर्रे, बलबीर ठाकुर, दिलीप ठाकुर शामिल थे।

 

20-09-2020
कोरबा के नगरीय निकाय क्षेत्र कंटेनमेंट जोन घोषित,बैंक केवल 2 घंटे खुलेंगे

कोरबा। कोविड के बढ़ते मामलों को देखते हुए कोरबा 23 सितंबर की सुबह 5 बजे से 2 अक्टूबर रात 12 बजे तक बंद रहेगा। कलेक्टर किरण कौशल ने 10 दिन का कंटेनमेंट जोन घोषित करने का निर्णय लिया है। कोरबा नगर निगम के अलावा दीपका, कटघोरा, छुरी और पाली क्षेत्र भी पूर्णतः बंद रहेगा। इस दौरान सब्जी मार्केट और किराना दुकान भी बंद रहेंगी। पेट्रोल डीजल केवल शासकीय गाड़ी और एम्बुलेंस को ही दिया जाएगा। बैंक भी केवल दो घंटे के लिए ही खुलेंगे।

 

 

19-09-2020
अंबिकापुर नगरीय निकाय 21 से 28 सितंबर तक कंटेनमेंट जोन घोषित,जिले की सीमाएं रहेगी सील

अंबिकापुर। नगर पालिक निगम अम्बिकापुर के सम्पूर्ण क्षेत्र को कलेक्टर संजीव कुमार झा ने कंटेनमेंट जोन घोषित किया है। कंटेनमेंट जोन में 21 सितंबर रात 9 बजे से 28 सितम्बर रात्रि 12 बजे तक की अवधि में दंड प्रक्रिया संहिता, 1973 की धारा 144 लागू रहेगी। जारी आदेशानुसार उपरोक्त दर्शित अवधि में सरगुजा जिले की सभी सीमाएं पूर्णतः सील रहेगी। उपरोक्त अवधि में केवल मेडिकल दुकानों को अपने निर्धारित समय में खुलने की अनुमति होगी। मरीज एवं मेडिकल दुकान संचालन दवाओं की होम डिलिवरी व्यवस्था को प्राथमिकता देंगे। पेट्रोल पंप संचालकों द्वारा केवल शासकीय वाहनों व शासकीय कार्य  में प्रयुक्त वाहन, मेडिकल इमरजेन्सी से संबंधित निजी वाहन एवं एम्बुलेंस तथा एलपीजी परिवहन कार्य में प्रयुक्त वाहनों को ही पीओएल प्रदान किया जाएगा। अन्य सभी वाहनों के लिए पीओएल प्रदान करना पर्णतः प्रतिबंधित रहेगा।

केन्द्रीय, शासकीय, अर्द्धशासकीय, निजी कार्यालय बंद रहेगें
दुग्ध पार्लर व वितरण की समयावधि प्रातः 6 बजे से प्रातः 8 बजे तक एवं संध्या 5 बजे से शाम 7 बजे तक ही होगी। साथ ही यह स्पष्ट किया जाता है कि दुग्ध व्यवसाय के लिए कोई भी दुकान एवं पार्लर नही खोले जायेंगे। केवल दुकान एवं पार्लर के सामने फिजिकल डिस्टेंसिंग एवं मास्क संबंधी निर्देशों का पालन करते हुए उपरोक्त समयावधि में केवल दुग्ध विक्रय की अनुमति होगी। पैट शॉप एवं एक्वेरियम को केवल पशुओं को पशुचारा देने के लिए प्रातः 6 बजे से प्रातः 8 बजे तक एवं संध्या 5 बजे से 6.30 बजे तक शॉप खोलने की अनुमति होगी। एलपीजी गैस सिलेन्डर की एजेसिंयों केवल टेलीफोनिक या ऑनलाइन ऑर्डर लेंगे तथा ग्राहकों को सिलेन्डरों की घर पहुंच सेवा उपलब्ध करायेंगे। औद्योगिक संस्थानों एवं निर्माण इकाईयों को अपने कैम्पस के भीतर मजदूरों को रखकर व अन्य आवश्यक व्यवस्था करते हुए उद्योगों के संचालन व निर्माण कार्यों की अनुमति होगी। उक्त अवधि के दौरान सम्पूर्ण नगर पालिक निगम क्षेत्र अंतर्गत संचालित समस्त शराब दुकाने बंद रहेंगी। सभी धार्मिक, सांस्कृतिक एवं पर्यटन स्थल आम जनता के लिए पूर्णतः बंद रहेंगे। उपरोक्त अवधि में नगर निगम अम्बिकापुर क्षेत्र अन्तर्गत सभी केन्द्रीय, शासकीय, अर्द्धशासकीय एवं निजी कार्यालय बंद रहेगें। सभी प्रकार की सभी, जुलूस, आयोजन आदि प्रतिबंधित रहेगें। होम आईसोलेशन में रह रहे कोविड़ पॉजिटिव मरीजों को भोजन की समस्या उत्पन्न होने पर कोविड़ केयर सेंटर आवश्यकतानुसार भेजा जाएगा। आपात स्थिति में मोबाइल नंबर 7999647868, 9770527199, 9340764699, 9340711176 में आवश्यकतानुसार सम्पर्क किया जा सकता है।

4 पहिया वाहनों में ड्राइवर सहित अधिकतम 3 लोग जा सकेंगे
कोविड़ संक्रमण के रोकथाम के लिए नगर निगम अम्बिकापुर में समस्त कार्य जैसे कांटेक्ट ट्रेसिंग, एक्टिव सर्विलांस, होम आइसोलेशन, दवाई, वितरण आदि पूर्वानुसार चलते रहेंगे। इन कार्य में संलग्न सभी शासकीय कर्मचारियों की उपस्थिति पूर्वानुसार अनिवार्य होगी। कोविड केयर सेन्टर से डिस्चार्ज होने वाले मरीजों के परिवहन में संलग्न वाहन पूर्वानुसार पूर्वानुसार संचालित रहेंगे। अपरिहर्य परिस्थितियों में नगर निगम अम्बिकापुर से अन्यत्र जाने वाले यात्रियों को ई-पास के माध्यम से पूर्व अनुमति लिया जाना अनिवार्य होगा।
आपात स्थिति में यात्रा के दौरान 4 पहिया वाहनों में ड्राइवर सहित अधिकतम 3 एवं दो पहिया वाहन में केवल 2 व्यक्तियों को यात्रा की अनुमति होगी। इस निर्देश का उपल्लंघन किए जाने पर 15 दिवस के लिए वाहन जब्त करते हुए चालानी व अन्य कानूनी कार्यवाही की जाएगी। मीडियाकर्मी यथासंभव वर्क फ्राम होम द्वारा कार्य संपादित करेगें। अत्यावश्यक स्थिति में कार्य के लिए बाहर निकलने पर अपना आई-कार्ड साथ रखेगें तथा फिजिकल डिस्टेंसिंग एवं मास्क संबंधी निर्देशों का कड़ाई से पालन सुनिश्चित करेगें। यह आदेश पुलिस महानिरीक्षक कार्यालु, कलेक्टर, पुलिस अधीक्षक, अतिरिक्त जिला दण्डाधिकारी, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक,  नगर पुलिस अधीक्षक,  मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी कार्यालय एवं उनके अधीनस्थ समस्त कार्यालय, अनुविभागीय दण्डाधिकारी, तहसील, थाना एवं पुलिस चौंकी पर लागू नही होगा। इसके अतिरिक्त कानून व्यवस्था एवं स्वास्थ्य सेवा से संबंधित पदाधिकारी एवं कर्मी, बिजली, पेयजल आपूर्ति एवं नरगपालिका सेवाएं,जिसमें सफाई, सिवरेज एवं कचरे का डिस्पोजल इत्यादि भी शामिल है तथा अग्निशमन सेवाएं। इन शासकीय कार्यालयों में उपरोक्त अवधि में आम जनता का प्रवेश प्रतिबंधित रहेगा। उपरोक्त बिन्दुओं को छोड़कर नगर पालिक निगम अम्बिकापुर में समस्त गतिविधियों पूर्णतः प्रतिबंधित रहेगी। आदेश का उल्लंघन करने वाले व्यक्ति एवं प्रतिष्ठानों पर भारतीय दण्ड संहिता 1860 की धारा 188 तथा अन्य सुसंगत विधि अनुसार कड़ी कार्यवाही की जाएगी।

 

19-09-2020
बिल्हा क्षेत्र के पूर्व घोषित अनेक कंटेनमेंट जोन हुए पाबंदियों से मुक्त

रायपुर/बिलासपुर। प्रदेश की राजधानी रायपुर में 21 सितंबर की रात्रि से 7 दिनों के सख्त लॉक डाउन की घोषणा की गई है। वहीं बिलासपुर में ऐसे ही लॉकडाउन की घोषणा संभव बताई जा रही है। ऐसी विपरीत स्थिति में बिल्हा क्षेत्र के लिए एक राहत खबर यह है कि वहां के पूर्व घोषित अनेक कंटेनमेंट जोन को शनिवार को कंटेनमेंट की पाबंदियों से मुक्त कर दिया गया। वही मस्तूरी विकासखंड के एरमशाही गांव में पॉजिटिव मरीज मिलने के कारण संबंधित क्षेत्र को कंटेनमेंट जोन घोषित कर उससे जुड़ी पाबंदियों को सख्ती से लागू कर दिया गया है। बिल्हा विकासखंड में पूर्व घोषित जिन कंटेनमेंट जोन को विमुक्त घोषित करते हुए पाबंदियों से मुक्त किया गया है।

उनमें बोदरी के वार्ड क्रमांक 11, वार्ड क्रमांक 8, वार्ड क्रमांक 3, वार्ड क्रमांक 14 शामिल हैं। वही बोदरी के ही वार्ड क्रमांक 3 और रामावैली एरिया को भी कंटेनमेंट की पाबंदियों से मुक्त किया गया है। इसी तरह बिल्हा नगर पंचायत के वार्ड क्रमांक 14, बिल्हा के ही वार्ड क्रमांक दो और देव किरारी तथा दगौरी व रहंगी के पूर्व घोषित कंटेनमेंट को कंटेनमेंट संबंधित पाबंदियों से मुक्त कर दिया गया है। जबकि मस्तूरी के एरमशाही में पॉजिटिव मरीज पाए जाने के कारण संबंधित क्षेत्र को कंटेनमेंट जोन घोषित किया गया है।

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804