GLIBS
28-10-2020
देश में 43893 नए कोरोना पॉजिटिव, 500 से ज्यादा की मौत

नई दिल्ली। देश में कोरोना संक्रमण का प्रकोप थमने का नाम नहीं ले रहा है। पिछले 24 घंटों में कोविड-19 के 43,893 नए मामले सामने आए और 508 लोगों की मौत हुई। केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की ओर से बुधवार को जारी आंकड़ों के अनुसार पिछले 24 घंटों में कोरोना के नए मामले 43,893 नए मामले सामने आए जबकि एक दिन पहले इनकी संख्या 36,470 थी। इस दौरान 58,439 लोगों ने इस महामारी को मात दी। इससे सक्रिय मामले 15,054 घटकर 6,10,803 रह गए हैं। इस दौरान 508 मरीजाें की मौत होने से इससे जान गवाने वालों की संख्या एक लाख 20 हजार से अधिक हो गई है। काेरोना से अबतक 79.90 लाख लोग संक्रमित हुए है जिनमें से 72.59 लाख स्वस्थ्य हो चुके हैं। इससे स्वस्थ होने वालों की दर बढ़कर 90.85 प्रतिशत और सक्रिय मामलों की दर 7.64 प्रतिशत रह गई है, जबकि मृत्यु दर 1.50 फीसदी है।

27-10-2020
स्कूलों में जल्द पढ़ाई शुरू कराने की मांग, निजी विद्यालय संचालक कल्याण संघ ने किया कलेक्टोरेट में प्रदर्शन

धमतरी। कोरोना संक्रमण से लोगों को बचाने के लिए लगाए गए लाॅक डाउन में सब कुछ बंद हो गया था। इसी क्रम में स्कूलों-काॅलेजों की कक्षाएं भी बंद कर दी गई। ऐसे में पढाई नहीं होने से हजारों छात्र-छा़त्राओं का भविष्य संकट में पड़ चुका है। स्थिति को देखते हुए निजी विद्यालय संचालक कल्याण संघ ने मंगलवार को कलेक्टोरेट में जल्द स्कूलों में पढ़ाई शुरू कराने की मांग को लेकर प्रदर्शन किया। संघ के पदाधिकारियों ने बताया कि जिले में करीब 216 प्राइवेट स्कूल हैं, जिनमें नर्सरी से लेकर 12 वीं तक की पढ़ाई होती है। लॉक डाउन के बाद से स्कूलों में कक्षाएं नहीं लग रही हैं। पदाधिकारियों का कहना है कि देश में जब अन्य संस्थाएं खुल गई हैं, तो स्कूलों को भी खोल देना चाहिए,क्योंकि इससे हजारों छात्रों का भविष्य जुड़ा हुआ है। उन्होंने आगे बताया कि सरकार ने आरटीई की राशि अब तक नहीं दी है। इस कारण शिक्षकों को वेतन देने में काफी दिक्कत हो रही है। संघ के संरक्षक दीपक लखोटिया, धीरज अग्रवाल, अध्यक्ष सुबोध राठी, उपाध्यक्ष विनोद पांडे, सचिव टीआर सिन्हा, गोविन्द, अशोक देशमुख, एमके मसीह, सूर्यप्रभा चेटियार, कमलेश सिंह राठौर, तरुण भांडे, पारखदास आदि ने सरकार से इस मामले में शीघ्र ही सकारात्मक पहल करने की मांग की।

 

27-10-2020
कोरोना प्रोटोकॉल के बीच शहर में कई स्थानों में किया गया रावण दहन

जांजगीर-चांपा। जिले में सोमवार को कई स्थानों पर विजयदशमी का पर्व मनाया गया। इस अवसर पर जांजगीर के हाई स्कूल मैदान में शहर के कुछ नगरवासियों ने एसडीएम से अनुमति लेकर रावण दहन का कार्यक्रम किया गया। कोरोना संक्रमण की वजह से इस वर्ष जिलेवासियों में विजयदशमी पर्व का उत्साह देखने को नहीं मिला। कार्यक्रम में समिति के सदस्यों ने कोविड 19 के प्रोटोकॉल का पालन करते हुए 10 फीट के रावण का पुतला बनाया था। समिति के सदस्यों ने विजयदशमी कि परंपरा को बनाए रखने के लिए बच्चों को राम लक्ष्मण बनाकर उनकी झांकी निकली। पुलिस और जिला प्रशासन के अधिकारीयों के उपस्थित में शांति पूर्ण तरीके से रावण के पुतले का दहन किया। रावण दहन के कार्यक्रम में समिति के सदस्यों सहित 50 से भी कम लोग मौजूद थे।

27-10-2020
देश में कोरोना के 40 हजार से कम नए मामले, कुल संक्रमितों का आंकड़ा 80 लाख के करीब

नई दिल्ली। देश में कोरोना संक्रमण का प्रकोप थमने का नाम नहीं ले रहा है। पिछले 24 घंटों में कोविड-19 के 36,470 नए मामले सामने आए और 488 लोगों की मौत हुई। केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की ओर से मंगलवार को जारी आंकड़ों के अनुसार पिछले 24 घंटों में कोरोना 36,470 नए मामले सामने आए जबकि 63,842 लोगों ने इस महामारी को मात दी। इससे सक्रिय मामले 27,860 घटकर 625,857 रह गए हैं। इस दौरान 488 मरीजाें की मौत होने से इससे जान गवाने वालों की संख्या 119,502 हो गई है। कारोना से अबतक 79.46 लाख लोग संक्रमित हुए है, जिनमें से 72.01 लाख स्वस्थ्य हो चुके हैं। इससे स्वस्थ होने वालों की दर बढ़कर 90.62 प्रतिशत और सक्रिय मामलों की दर 7.88 प्रतिशत रह गई है, जबकि मृत्यु दर 1.50 फीसदी है।

27-10-2020
मावली परघाव देखने के लिए श्रद्धालुओं का उमड़ा जनसैलाब 

रायपुर/जगदलपुर। रियासत कालीन ऐतिहासिक बस्तर दशहरा में कल रात्रि में जोगी उठाई के बाद मावली परघाव पूजा विधान में माता मावली की डोली का भव्य स्वागत किया गया। कोरोना संक्रमण काल में बस्तर दशहरा में श्रद्धालुओं को शामिल नहीं होने और बस्तर दशहरा का लाइव प्रसारण से दर्शन करने का आह्वान प्रशासन करता रहा, लेकिन कल रात्रि में मावली परघाव पूजा विधान को देखने के लिए हजारों की संख्या में श्रद्धालुओं का जनसैलाब उमड़ पड़ा जिसे नियंत्रित करने में प्रशासन के हाथ पैर फूल गए। लोगों में कोरोना संक्रमण का भय देखने को नहीं मिला।  उल्लेखनीय है कि बस्तर दशहरा अपने अंतिम पड़ाव में पहुंच गया है, आज रात्रि में भीतर रैनी रथ परिक्रमा पूजा किया जाएगा।

इसमें 8 पहियों के नए दुमंजिला रथ परिक्रमा के बाद रथ को रात्रि में ही परंपरानुसार चोरी कर ले जाने की परंपरा का निर्वहन किया जाएगा जिसे कुम्हड़ाकोट के जंगल में पहुंचाया जाएगा जिसके बाद रात्रि में रथ कुम्हड़ाकोट रहेगा। 27 अक्टूबर को बाहर रैनी रथ संचालन पूजा विधान के तहत कुम्हड़ाकोट के जंगल में राज परिवार पहुंचकर नया खानी पूजा विधान की परंपरा का निर्वहन करते हुए पूजा अर्चना के बाद मां दंतेश्वरी के छत्र को पु रथारुण कर बाहर रैनी रथ संचालन पूजा कर वापस दंतेश्वरी मंदिर पहुंचाया जाएगा। कोरोना संक्रमण के खतरे को देखते हुए भीतर रैनी रथ संचालन और बाहर रैनी रथ संचालन पूजा विधान के दौरान यहां लगने वाले मेले को निरस्त कर दिया है। प्रशासन ने बस्तर दशहरे के सभी पूजा विधान का सीधा प्रसारण किया जा रहा है। इसे घर में रहते हुए लोग देख सकते हैं।

27-10-2020
हृदय रोगियों को ठंड में विशेष सावधानी की जरूरत : डॉ. जावेद खान

रायपुर। कोरोना संक्रमण के ठंड में और अधिक बढ़ने की संभावनाओं को देखते हुए विशेषज्ञ बार-बार सलाह दे रहे हैं कि इस दौरान अत्यधिक सतर्कता बरतने की जरूरत है। राजधानी रायपुर के प्रसिद्ध हृदय रोग विशेषज्ञ डॉ जावेद अली खान, हृदय रोग से ग्रस्त मरीजों को विशेष सावधानी रखने की सलाह देते हैं। उनका कहना है कि ठंड में हमारी धमनियां सिकुड़ जाती हैं और हृदय को भी रक्त आपूर्ति कम होती है।

इसलिए इस समय ठंड से और कोरोना से दोनों से अपने आप को बचा कर रखना है। बुजुर्गों को भी खासकर इसका ध्यान रखना है। संक्रमण से बचने के लिए अभी आपस में मेल जोल कम रखना चाहिए और भीड़ वाली जगह जाने से बचना चाहिए। त्यौहार मनाते समय भी कोविड प्रोटोकाल जैसे मास्क लगाना, दो गज की दूरी और समय पर हाथ धोना, इन सबका पालन, सभी को करना होगा। डॉ जावेद ने कहा कि सर्दियों में सामान्य फ्लू, स्वाइन फ्लू आदि भी फैलते हैं। इसलिए अभी किसी भी प्रकार के लक्षण दिखने पर तुरंत चिकित्सक के पास जाना चाहिए। सर्दी, खांसी के मरीजों को स्वयं दवाई न लेकर, डॉक्टर की सलाह से ही दवाई लेनी चाहिए।

26-10-2020
ठंड में और अधिक बढ़ सकता है कोरोना संक्रमण का खतरा,हृदय रोगियों को बरतनी होगी विशेष सावधानी

रायपुर। कोरोना संक्रमण के ठंड में और अधिक बढ़ने की संभावनाओं को देखते हुए विशेषज्ञ बार-बार सलाह दे रहे हैं कि इस दौरान अत्यधिक सतर्कता बरतने की जरूरत है। राजधानी रायपुर के प्रसिद्ध हृदय रोग विशेषज्ञ डॉ.जावेद अली खान ने हृदय रोग से ग्रस्त मरीजों को विशेष सावधानी रखने की सलाह दी है। उनका कहना है कि ठंड में हमारी धमनियां सिकुड़ जाती हैं और हृदय को भी रक्त आपूर्ति कम होती है। इसलिए इस समय ठंड से और कोरोना से दोनोें से अपने आप को बचा कर रखना है। बुजुर्गों को भी खासकर इसका ध्यान रखना है। संक्रमण से बचने के लिए अभी आपस में मेलजोल कम रखना चाहिए और भीड़ की जगह जाने से बचना चाहिए। त्यौहार मनाते समय भी कोविड प्रोटोकाल जैसे मास्क लगाना, दो गज की दूरी और समय पर हाथ धोना, इन सबका पालन, सभी को करना होगा। डॉ.जावेद ने कहा है कि सर्दियों में सामान्य फ्लू,स्वाइन फ्लू आदि भी फैलते हैं। इसलिए अभी किसी भी प्रकार के लक्षण दिखने पर तुरंत चिकित्सक के पास जाना चाहिए। सर्दी,खांसी के मरीजों को स्वयं दवाई न लेकर ,डॉक्टर की सलाह से ही दवाई लेनी चाहिए।

 

26-10-2020
दशहरा मैदान में रावण दहन, कोरोना गाइडलाइन का हुआ पालन

आरंग। कोरोना संक्रमण के गाइडलाइन का पालन करते हुए बीते दिन दशहरा मैदान में रावण का पुतला दहन हुआ। नगरपालिका प्रशासन की ओर से दस फ़ीट का रावण बनाया गया था जिसे नगर की परम्परानुसार दहन कर विजयादशमी त्यौहार मनाई गई। स्थानीय रावण भाठा मैदान में लोगों की ज्यादा भीड़ इकट्ठा न हो इसके मद्देनजर नगर पालिका प्रशासन और जनप्रतिनिधियों ने शाम को रावण दहन हुआ। इस अवसर पर नगर पालिका अध्यक्ष चंद्रशेखर चंद्राकर उपाध्यक्ष नरसिंग साहू सहित पार्षद, एल्डरमेन, मुख्य नगर पालिका अधिकारी सौरभ शर्मा और पुलिस प्रशासन के अधिकारी उपस्थित थे। वहीं रविवार को सुबह से देर शाम तक माँ दुर्गा के प्रतिमा का विसर्जन किया जा रहा था।

26-10-2020
देश में 45149 नए कोरोना पॉजिटिव, 480 की मौत

नई दिल्ली। देश में कोरोना संक्रमण का प्रकोप थमने का नाम नहीं ले रहा है। पिछले 24 घंटों में कोविड-19 के 45,149 नए मामले सामने आए और 480 लोगों की मौत हुई। केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की ओर से सोमवार को जारी आंकड़ों के अनुसार पिछले 24 घंटों के दौरान कोविड-19 के 45,149 नए मामले सामने आए और इसके बाद देश में संक्रमितों की कुल संख्या 79,09,960 हो गई। इसी अवधि में 59,165 लोगों ने इस जानलेवा विषाणु को मात दी है और इसे मिलाकर देश में अब तक 71,37, 228 मरीज कोरोनामुक्त हो चुके हैं। कोविड-19 नए मामलों की तुलना में स्वस्थ होने वालों की संख्या अधिक होने से सक्रिय मामले 14,437 घटकर 6,53,717 हो गए हैं। वहीं पिछले 24 घंटे में 480 मरीजों की मौत होने के बाद इससे जान गंवाने वाले लोगों की संख्या 1,19,014 हो गई है। देश में स्वस्थ होने वालों की दर बढ़कर 90.23 प्रतिशत और सक्रिय मामलों की दर 8.26 प्रतिशत रह गई है, जबकि मृत्यु दर घटकर 1.50 फीसदी पर आ गई है।

25-10-2020
कोरोना संक्रमण से भारत में कम नुकसान हुआ :  संघ प्रमुख मोहन भागवत

 नागपुर। दशहरा पर संघ प्रमुख मोहन भागवत ने रविवार को नागपुर स्थित आरएसएस कार्यालय में शस्त्र पूजा की। इस अवसर पर मोहन भागवत ने अपना संबोधन भी दिया। संघ प्रमुख मोहन भागवत ने मोदी सरकार की तारीफ करते हुए कहा कि कोरोना वायरस से भारत में कम नुकसान हुआ क्योंकि देश का प्रशासन पहले से ही जनता को सतर्क कर दिया था। एहतियाती कदम उठाए गए थे और नियम भी बनाए गए थे। लोगों को सावधानी बरतने के लिए कही गई थी। उन्होंने कहा कि कोरोना काल में सभी ने अपना काम किया।मोहन भागवत ने कहा कि 2019 में जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 को खत्म कर दिया गया, फिर सुप्रीम कोर्ट ने 9 नवंबर को अयोध्या का फैसला दिया।

पूरे देश ने इस फैसले को स्वीकार किया। 5 अगस्त 2020 को राम मंदिर का आधारशिला रखी गई। हमने इन घटनाओं के दौरान भारतीयों के धैर्य और संवेदनशीलता को देखा। उन्होंने अपने संबोधन में सीएएम के विरोध में हुए प्रदर्शनों का भी जिक्र किया। उन्होंने कहा कि सीएए पर चर्चा हो सके इससे पहले कोरोना ने ध्यान खींच लिया। कुछ लोगों के दिमाग में सांप्रदायिकता को भड़काना होता है।

 

25-10-2020
Breaking : डोंगरगढ़ मां बम्लेश्वरी मंदिर के पट दर्शनार्थियों के लिए खुले, समय तय और रोप वे भी शुरू

डोंगरगढ़। राजनांदगांव जिले के डोंगरगढ़ में विश्व प्रसिद्ध मां बम्लेश्वरी मंदिर के पट रविवार से आम श्रद्धालुओं के लिए खुल गए हैं। दोपहर दो बजे से दर्शनार्थियों के मंदिर प्रवेश में लगी रोक को हटा दिया गया है। अब दर्शनार्थी माता के दर्शन सुबह 6 बजे से रात 10 बजे तक कर सकेंगे। दर्शनार्थियों के लिए रोप वे का संचालन भी शुरू किया है। सुबह 7 बजे से शाम 7 बजे तक रोप वे का संचालन किया जाएगा। उल्लेखनीय है कि कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए नवरात्र पर्व पर मंदिर में दर्शनार्थियों के प्रवेश पर प्रशासन ने रोक लगा दी थी।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804