GLIBS
25-10-2020
तालाब खुदाई की राशि के सरपंच-सचिव पर गबन का आरोप

रायपुर/जगदलपुर। बस्तर ब्लॉक के ग्राम पंचायत इच्छापुर क्रमांक 2 में रोजगार गारंटी योजना के तहत 8 लाख 40 हजार रुपए की लागत से तालाब खुदाई की राशि आहरण कर गबन करने का आरोप पंचों व ग्रामीणों ने सरपंच व सचिव पर लगाया है। ग्रामीण व पचों ने कहा कि शिकायत के 1 माह बाद भी किसी प्रकार की कार्रवाई आज तक नहीं की गई है। जल्द कार्रवाई नहीं होने पर आंदोलन की चेतावनी दी है। पंचों व ग्रामीणों ने बताया कि सरपंच व सचिव के द्वारा इस तालाब की खुदाई का काम मजदूरों की जगह पर जेसीबी मशीन से 80 प्रतिशत किया है एवं 20 प्रतिशत काम मजदूरों से कराया गया है। साथ ही उन्होंने बताया कि तालाब खुदाई में जिन मजदूरों से काम लिया था, उन्हें भी 4 माह बीत जाने के बाद भी सभी मजदूरों को भुगतान सचिव लक्ष्मण राऊड़, सरपंच रूपसाय, रोजगार सहायक परशुराम मौर्य ने नहीं किया है। इसकी लिखित शिकायत पंच व ग्रामीणों ने बस्तर कलेक्टर, जनपद सीईओ बस्तर व विधायक लखेश्वर बघेल से की गई है। पंच सुखराम मंडावी, पंच गोविंद कश्यप, पंचायती कश्यप, जयंती कश्यप, पंच मनकी यादव, पंच जगबती कश्यप, पंच सावंली कश्यप ने आगे बताया कि 1 माह बीत जाने के बाद भी शिकायत पर किसी प्रकार की कार्रवाई आज तक नहीं की गई है। जनपद पंचायत बस्तर के सीईओ जयभान सिंह राठौर ने कहा कि जांच दल का गठन कर दिया गया है। जांच दल द्वारा तीन-चार दिनों के अंदर जांच दल द्वारा रिपोर्ट सौंपी जाएगी। जांच रिपोर्ट में गड़बड़ी पाए जाने पर संबंधितों पर कार्रवाई की जाएगी।

19-10-2020
शीतला तालाब का होगा सौंदर्यीकरण, महादेवा तालाब में लगाई जाएगी लाइटिंग

रायपुर। राजधानी में तालाबों का सौंदर्यीकरण किया जा रहा है। अब चंगोराभाठा शीतला तालाब का सौंदर्यीकरण स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट तहत किया जाएगा। सोमवार को महापौर एजाज ढेबर तालाब देखने पहुंचे। उनके साथ जोन 5 के अंतर्गत आने वाले वार्ड 67 और वार्ड 68 के पार्षद उत्तम साहू और मीनल चौबे उपस्थित थीं। इस दौरान एजाज ढेबर ने जोन 5 में पार्षद कार्यालय चंगोराभाठा शीतला तालाब सामुदायिक भवन में खोलने का काम 3 दिनों के अंदर करवाने का अधिकारियों को निर्देश दिए। महापौर ने वार्ड 64 में व्यवसायिक परिसर में संचालित डेयरी को हटाने के लिए जोन अधिकारियों से कहा, इसकी मांग वार्ड पार्षद ने की थी। महापौर ने महादेव नगर गली नंबर 2 में नाली बनाने के निर्देश निगम अधिकारियों दिए। चंगोराभाठा के वसुंधरा गार्डन के सौंदर्यीकरण की मांग पार्षद ने महापौर से की। महादेवा तालाब चंगोराभाठा की सफाई करने के लिए महापौर ने कहा। उन्होंने तालाब के सौंदर्यीकरण और लाइटिंग लगवाने के लिए जोन कमिश्नर को निर्देश दिए। 

 

17-10-2020
तालाब में डूबने से हाथी की मौत, गया था पानी पीने

कोरबा। कटघोरा वनमंडल के केंदई वन परिक्षेत्र में घूम रहे हाथियों के झुंड में से एक हाथी की तालाब में डूबकर मौत हो गई। इसकी सूचना वन विभाग को मिलते ही अधिकारी मौके पर पहुंच गए हैं। बताया जाता है कि लमना बीट में यह घटना हुई है। हाथी पानी पीने तालाब गया था। इसी दौरान झुंड में शामिल बच्चा दलदल में फंस गया। पानी में डूबने से उसकी मौत हो गई। हाथी के शव का पोस्टमार्टम के बाद अंतिम संस्कार कराया जाएगा। बता दें कि केंदई वन परिक्षेत्र में एक साल के भीतर 3 हाथियों की मौत हो चुकी है। एक हाथी पहाड़ से गिरकर तो दूसरे हाथी की मौत दलदल में फंसने से हुई थी।

13-10-2020
तालाब में तैरती मिली लाश, पुलिस जुटी जाँच में

कोरबा। तालाब में तैरती हुई एक लाश मंगलवार को मिली है। बालको थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम अजगर बहार और माखुरपानी के बीच तालाब में ग्रामीणों ने एक लाश तैरती हुई देखी। ग्रामीणों ने इसकी सूचना बालको पुलिस को दी। पुलिस मौके पर पहुंच गई है और लाश को बाहर निकलवाने की कवायद कर रही है। डीएसपी रामगोपाल करियारे ने बताया की सूचना मिलने पर पुलिस टीम मौके पर पहुंची है। मामले की छानबीन की जा रही है। बालको थाना प्रभारी राकेश मिश्रा, रामपुर थाना प्रभारी परुष पूर्रे सहित पूरा अमला मौके पर मौजूद है। बताया जा रहा है कि लाश पुरानी हो चुकी है। पानी में रहने के कारण लाश सड़-गल गई है। पुलिस की प्रारंभिक जाँच में पता चला है कि बुजुर्ग का नाम घुराऊ उरांव, जो हरदी भाड़ा का रहने वाला है। मृतक गाय चराने का काम करता था। मृतक के रिश्तेदार ग्राम कोरकोमा में रहते हैं। पुलिस उनसे सम्पर्क करने में लगी है।

08-10-2020
शहरी गौठानों के करीब बनेंगी डबरी, हाइटेक तरीके से होगा मत्स्य पालन

दुर्ग। शहरी गौठानों के करीब हाइटेक तरीके से मत्स्यपालन को बढ़ावा देने के लिए डबरी बनाई जाएंगी। यहां अत्याधुनिक तरीके से मत्स्यपालन होगा। इसके लिए विशेषज्ञों द्वारा प्रशिक्षण दिया जाएगा ताकि फिशरीज में आए हाईटेक तरीकों के अनुरूप मत्स्यपालन को बढ़ावा दिया जा सके और इस संबंध में विपुल संभावनाओं का लाभ उठाया जा सके। इस संबंध में आयोजित बैठक में कलेक्टर डाॅ.सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे ने कहा कि जिले में मत्स्यपालन को लेकर बड़ी संभावनाएं हैं। यहां पर मछलियों की डिमांड काफी ज्यादा है और अभी सप्लाई बाहर से भी करनी होती है। यदि हाइटेक तरीके से मत्स्यपालन के लाभों के संबंध में अत्याधिक प्रचार किया जाए तो आय की बड़ी संभावनाएं पैदा होंगी। कलेक्टर ने कहा कि इसके लिए नगरीय निकायों के गौठानों के निकट संभावना देखी जाए। उन्होंने कहा कि इसके लिए विशेषज्ञों की भी मदद ली जाए क्योंकि मत्स्यपालन के लिए जो टैंक तैयार होता है उसके फलीभूत होने में जमीन की स्थिति अर्थात टोपोग्राफी की बड़ी भूमिका होती है। जहां पर ऐसी डबरी प्लान की जा रही है वहां पर यह सफल होगी की नहीं। इसके बाद विशेषज्ञों के साथ यह देखें कि कौन-कौन सी प्रजाति की मछलियों का पालन किया जा सकता है। इनमें पूरी तरह से हाइटेक मछलीपालन होगा जैसा जिले के प्रगतिशील मत्स्यपालक कर रहे हैं। पानी में आक्सीजन की स्थिति, तालाब की गहराई जैसी छोटी-छोटी बारीकियों पर काम  होगा। इस मौके पर जिले के प्रगतिशील मत्स्यपालक बेलचंदन भी उपस्थित थे। उन्होंने हाइटेक मत्स्यपालन की बारीकियों से भी अधिकारियों को परिचित कराया। इस मौके पर जिला पंचायत सीईओ सच्चिदानंद आलोक ने इस संबंध में ग्रामीण क्षेत्रों में हाइटेक मत्स्यपालन की वर्तमान स्थिति के संबंध में अधिकारियों को अवगत कराया।  इस मौके पर नगर निगम कमिश्नर भिलाई ऋतुराज रघुवंशी, रिसाली प्रकाश सर्वे एवं अन्य अधिकारी भी उपस्थित थे।

ग्रामीण क्षेत्रों में होगा हजार हितग्राहियों का चिन्हांकन

मत्स्यपालन को बढ़ावा देने के लिए ग्रामीण क्षेत्रों में भी विशेष पहल की जाएगी। इसके लिए ऐसे हितग्राहियों को तैयार किया जाएगा जिनके पास लगभग दस डिसमिल जमीन हो। इनकी जमीन पर डबरी खुदाई जाएगी, इसके खर्च का वहन जिला प्रशासन करेगा। डबरी मत्स्यपालन के लिए तकनीकी रूप से बनी डिजाइन के अनुसार बनेगी। यहां पर मत्स्यपालन किया जाएगा। हाइटेक मत्स्यपालन के लिए प्रशिक्षण विशेषज्ञों द्वारा दिया जाएगा। जिला पंचायत सीईओ ने कहा कि इसके लिए सभी जनपद सीईओ को हितग्राही चिन्हांकन के लिए कहा जाएगा ताकि समुचित रूप से सभी जगहों में बेहतर तरीके से मत्स्यपालन हो सके।

खरपतवार वाले तालाबों में विशेष तरह से मत्स्यपालन

कई तालाबों में बेतरतीब जलीय खरपतवार विकसित हो गए हैं। इसके कारण इन तालाबों का विशेष उपयोग नहीं हो पा रहा है। यहां पर ऐसी मछलियों का उत्पादन होगा जिनका मूल आहार खरपतवार होता है। एक बार खरपतवार की समाप्ति के बाद तालाब के शुद्धिकरण का कार्य हो जाएगा और फिर नये तरीके से मत्स्यपालन शुरू हो पाएगा। कलेक्टर ने विशेषज्ञों से एनीकट आदि में भी मत्स्यपालन की संभावनाओं के विषय में जानकारी ली।

 

26-09-2020
तालाब में तैरता मिला शव, व्यक्ति 2 दिन से था लापता, जांच में जुटी पुलिस

धमतरी। दो दिन से लापता व्यक्ति का शव शनिवार को तालाब में तैरता हुआ मिला। सूचना मिलते ही अर्जुनी पुलिस मौके पर पहुंच गई है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार आज दोपहर अर्जुनी थाना क्षेत्र के ग्राम देवपुर के तालाब में एक व्यक्ति की लाश देखी गई, जो कि गांव के ही व्यक्ति रामकुमार की बताई जा रही है। वह 2 दिन से घर से लापता था। उसके गले में उसकी ही लूंगी बंधी हुई है और शरीर में कुछ चोट के निशान भी मिले हैं। इससे हत्या की आशंका जताई जा रही है। सूचना पर एएसपी मनीषा ठाकुर, अर्जुनी थाना प्रभारी उमेन्द्र कुमार टंडन व स्टाफ मौके पर पहुंचे। मर्ग कायम कर जांच की जा रही है। एएसपी ने बताया कि तालाब में लापता व्यक्ति का शव मिला है। पुलिस जांच कर रही है। पीएम रिपोर्ट के बाद मामले की असल सच्चाई का पता चल पाएगा।

16-09-2020
पिता और बड़े पिता का इलाज करने वाले बैगा की नृशंस हत्या करने वाले दो आरोपी गिरफ्तार

रायपुर/सुकमा। जिले के कूकानार थाना क्षेत्र के ग्राम पालेम में दो युवकों ने सिरहा मुचाकी कोशा की नृशंस हत्या कर शव को गांव के तालाब में फेंका दिया था। कूकानार पुलिस ने हत्या के आरोपी माड़वी लच्छुराम व माड़वी हूंगा को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में जेल दाखिल कर दिया है। हत्या के आरोपी लच्छुराम व हूंगा ने बताया कि चार पांच वर्ष पहले मृतक मुचाकी कोशा ने मेरे पिता माड़वी बामन व मेरे बड़े पिता माड़वी जोगा जो कि गांव में पुजारी का काम करते थे। उनकी जादू टोने के द्वारा इलाज किया था। उसके बाद दोनों की अलग-अलग समय में मृत्यु हो गई थी। उसके बाद भी हमारे परिवार में आये दिन कुछ न कुछ परेशानी आती रही जिसे लेकर सिरहा गुनियां कराने पर सभी मुचाकी कोशा किया गया है कहते थे, जिसके कारण सिरहा मुचाकी कोशा की हत्या करना बताया।

15-09-2020
मुंगेली दोहरा हत्याकांड: हत्यारोपी माने जा रहे पति का शव तालाब से बरामद,पुलिस करा सकती है डायटम टेेस्ट

मुंगेली। समीपस्थ ग्राम लगरा में दोहरे हत्याकांड के मामले में लापता हुए पति की तलाश गाँव के तालाब में जाकर ख़त्म हुई,जहां पति का तैरता शव मिला है। रहस्यमय तरीक़े से हुई घटना से इलाक़े में सनसनी है। विदित हो कि लगरा निवासी कृषक 45 वर्षीय बसंत चंद्राकर की पत्नी 42 वर्षीया लता और दो वर्षीय बच्चे का शव सुबह घर पर मिला था। शवों को धारदार हथियार से घातक चोटें पहुँचाई गई थी। वहीं पति बसंत फ़रार था,पुलिस को संदेह था कि पति ने ही यह नृशंस हत्या की है। बसंत चंद्राकर और लता चंद्राकर के आठ बच्चे हैं और मारा गया दो वर्षीय बच्चा सबसे छोटा था। संदेही और फरार बसंत चंद्राकर के पिता इतवारी ने घटना के ब्यौरे को लेकर बताया था कि सात बच्चे हमारे पास सो रहे थे। बेटा बहू और छोटा पोता एक साथ थे। सुबह लाशों की जानकारी मिली। पुलिस इस मामले में रहस्यमय तरीक़े से लापता बसंत की तलाश कर रही थी लेकिन उसका कोई पता नहीं चल रहा था। ग्रामीणों ने सूचना दी कि बसंत का शव गाँव के तालाब पर तैर रहा है। शव के मिलने के बाद गुत्थी और उलझ गई है। पुलिस डायटम टेस्ट करा सकती है। डायटम टेस्ट यह स्थापित करता है कि मृत्यु पानी में हुई या बाहर।

 

15-09-2020
तालाब में नहा रहा युवक डूबा, मौत...

रायपुर/जगदलपुर। जिले के नगरनार थाना क्षेत्र के ग्राम तारापुर में स्थित राजामुंडा तालाब में सोमवार की सुबह सालिम नागवंशी की डूबने से मौत हो गई है। पुलिस मृतक का शव बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए मेकॉज भेज दिया है। प्राप्त जानकारी के अनुसार गांव में किसी के अंतिम संस्कार के बाद इसमें शामिल सभी ग्रामीण नहाने के लिए राजामुंडा तालाब पहुंचे थे। नहाने के दौरान ही सालिम नागवंशी तालाब के गहराई में चले जाने से डूब गया, जिसके कारण उसकी मौत हो गई। घटना की सूचना कॉलर से मिलने के बाद डायल 112 की टीम तत्काल ही मौके पर पहुंचकर घटना की जानकारी पुलिस को दी। पुलिस मौके पर पहुंचकर मामले की जांच कर रही है।

04-09-2020
तालाब पार को काटकर किया अतिक्रमण, नगर पालिका ने की कार्यवाही

कवर्धा। नगर पालिका प्रशासन ने शुक्रवार को भोजली तालाब किनारे में अतिक्रमण हटाओ अभियान चलाया। इस अभियान को देखकर अधिकांश दुकानदारों ने अपना सामान खुद ही समेटकर व्यवस्थित कर लिया। पालिका के कर्मियों ने जो सामान स्वयं से नहीं हटाये उसका सामान भी जब्त कर लिया। नगर पालिका की टीम ने शुक्रवार को जिला प्रशासन व पुलिस बल के साथ अतिक्रमण हटाओ अभियान चलाया। कलेक्टर कार्यालय जाने वाले मार्ग में भोजली तालाब के पार को काटकर अवैध रूप से अतिक्रमित व्यापारियों के खिलाफ अभियान चलाया। इसमें कर्मचारियों ने कुछ सामान भी जब्त किया। पालिका की टीम के आने की जानकारी मिलते ही दुकानदारों ने आनन फानन में दुकानों के बाहर रखे सामान को समेट कर अंदर कर लिया। नपा के सहायक अभियंता एमएल कुर्रे ने बताया कि भोजली तालाब पार को काटकर सार्वजनिक स्थल पर अवैध रूप कब्जा कर दुकान निर्माण किया गया था। इसे सूचना जारी कर निर्माण कार्य बंद कर तत्काल स्थल से हटाये जाने के लिए कहा गया था लेकिन समय पर अवैध कब्जा नही हटाये जाने के कारण आज अतिक्रमणकारियों के खिलाफ अभियान चलाया गया। उन्होंने बताया कि आगे भी अतिक्रमण अभियान जारी रहेगा। शासकीय भूखण्ड पर किसी भी प्रकार का अतिक्रमण किये जाने पर सामान जब्ती करते हुए कार्यवाही प्रस्तावित किया जावेगा।

 

04-09-2020
तालाब कचरे के ढेर में तब्दील, स्वच्छता की उड़ रही धज्जियां

कोरिया। बैकुंठपुर राम मंदिर तालाब नई सब्जी मंडी के बाजू में शुक्रवार सुबह अज्ञात कारणों से सैकड़ों मछलियां मरी हुई पानी के ऊपर कचरे के साथ दिखी। राम मंदिर तालाब कचरे के ढेर में तब्दील हो चुका है। समाजसेवी अनुराग दुबे ने बताया कि कई बार नगर पालिका में शिकायत के बाद भी तालाब की सफाई नहीं कराई जा रही है। जबकि सौंदर्यीकरण, रखरखाव के लिए नगर पालिका इस तालाब में लाखों रुपए खर्च कर चुकी है। तालाब का पूरा पानी खराब हो चुका है। दुर्गंध के चलते आसपास के लोगों के साथ सब्जी बेचने वालों का जीना दूभर हो चुका है। बिना नाक बंद किए इस तालाब के बगल से नहीं निकल सकते। इससे पूर्व ग्लिब्स न्यूज़ ने सब्जी मंडी में कचरे से संबंधित मामले को उजागर किया था तब तत्काल नगर पालिका प्रशासन ने साफ कराया था।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804