GLIBS
14-08-2020
देशभक्ति गीतमाला सुरता हमर वीर सहीद मन के का यूट्यूब पर ऑनलाइन प्रसारण

रायपुर। स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर वीर शहीदों के स्मरण में भावांजलि अर्पित करने के उद्देश्य से ऑनलाइन देश भक्ति गीतमाला सुरता हमर वीर सहीद मन के का आयोजन होगा। यह आयोजन 15 अगस्त को दोपहर 3 बजे राज्य शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद (एससीईआरटी), शंकर नगर, रायपुर में ऑनलाइन होगा। गीतमाला कार्यक्रम में भाग लेने प्रतिभागी के रूप में प्रदेश के सभी जिला शिक्षा अधिकारी के माध्यम से जिले के एक विद्यार्थी और एक शिक्षक का नाम परिषद द्वारा प्रविष्टि की जा चुकी है। प्रतिभागियों का प्रस्तुति अधिकतम 3 मिनट का होगा, जिसमें केवल देशभक्ति गीत हिंदी या छत्तीसगढ़ी भाषा में होगा। इस कार्यक्रम को ऑनलाइन सुनने http://youtu-be/YUpoHRHZ50  में क्लिक कर आप ऑनलाइन यूट्यूब में सुन सकते हैं।

 

20-06-2020
अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस पर ब्रह्माकुमारीज द्वारा 21 को वेबीनार

रायपुर। अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्व विद्यालय द्वारा रविवार 21 जून को सुबह साढ़े 8 बजे सोशल मीडिया यूट्यूब पर ऑनलाइन वेबीनार का आयोजन किया जाएगा। इसका विषय वर्तमान परिस्थितियों में राजयोग की आवश्यकता होगा। संस्थान द्वारा जारी विज्ञप्ति में बताया गया है कि वेबीनार को राज्यपाल अनुसूईया उइके, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, विधानसभा अध्यक्ष डॉ. चरण दास महंत, ब्रह्माकुमारी शिवानी दीदी, माउण्ट आबू से ब्रह्माकुमारी उषा दीदी, डॉ. श्रीमन्त साहू, क्षेत्रीय निदेशिका ब्रह्माकुमारी कमला दीदी सम्बोधित करेंगी।

इस अवसर पर शारदा नाथ आध्यात्मिक गीत प्रस्तुत करेंगी। उल्लेखनीय है कि प्रजापिता ब्रह्माकुमारी संस्थान द्वारा विगत 35 वर्षों से माह के तीसरे रविवार को पूरे विश्व के 140 देशों में एक साथ और एक ही समय पर अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस के रूप में मनाया जाता रहा है। इस दिन शाम को साढ़े 6 बजे सारे विश्व में सभीे ब्रह्माकुमार और ब्रह्माकुमारियाँ मिलकर राजयोग मेडिटेशन के द्वारा सारे विश्व में पवित्रता और शान्ति के प्रकम्पन फैलाते हैं। 22 जून से ऑनलाइन राजयोग अनुभूति शिविर राजयोग सीखने के इच्छुक लोगों के लिए ब्रह्माकुमारी संस्थान द्वारा प्रतिदिन सुबह 7 से साढ़े 8 बजे नि:शुल्क सात दिवसीय राजयोग शिविर का ऑनलाइन आयोजन किया गया है।

03-06-2020
फिल्म 'साहेब बीवी और गैंगस्टर' को यूट्यूब से हटाने का दिल्ली हाईकोर्ट ने दिया निर्देश

नई दिल्ली। दिल्ली उच्च न्यायालय ने गूगल एलएलसी को यूट्यूब से हिंदी फिल्म ‘साहेब बीवी और गैंगस्टर’ को हटाने के लिए कहा है,जिसे फिल्म के सह-निर्माता के अनुसार सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर अवैध रूप से अपलोड किया गया है। न्यायमूर्ति राजीव शकधर ने मंगलवार को एक अंतरिम आदेश में यूट्यूब को 48 घंटों के भीतर फिल्म को हटाने का निर्देश दिया, लेकिन वकील ने कहा कि इस प्लेटफॉर्म पर नियंत्रण अमेरिकी कंपनी गूगल एलएलसी का है,जो निर्देश का पालन करेगी।उच्च न्यायालय ने यूट्यूब की तरफ से पेश वकील द्वारा दिए गए बयान को दर्ज किया और मामले को आगे की सुनवाई के लिए नौ जुलाई को सूचीबद्ध किया। यह आदेश फिल्म के सह-निर्माता राहुल मित्रा द्वारा दायर एक मुकदमे पर आया, जिन्होंने दावा किया है कि ‘फिल्म के अन्य निर्माता तिग्मांशु धूलिया ने उन्हें फिल्म के सभी अधिकार सौंपे हैं। मित्रा ने अपनी दलील में कहा कि यूट्यूब पर उनकी फिल्म अपलोड किए जाने से उनके अधिकारों का हनन हुआ है।
उन्होंने दावा किया कि इससे उनको बहुत बड़ा आर्थिक नुकसान उठाना पड़ रहा है क्योंकि वह अमेजन प्राइम वीडियो और नेटफ्लिक्स जैसे वीडियो स्ट्रीमिंग प्लेटफॉर्म पर फिल्म के अधिकार बेचने की स्थिति में नहीं हैं। उच्च न्यायालय ने यूट्यूब और गूगल एलएलसी को नोटिस जारी किया और मामले में अपना जवाब दाखिल करने के लिए कहा।वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से आयोजित अदालत की कार्यवाही के दौरान, यूट्यूब के वकील ने अदालत को बताया कि यह मंच केवल एक माध्यम है और इसलिए फिल्म को उसके मंच पर अपलोड किये जाने के लिए उसे उत्तरदायी नहीं ठहराया जा सकता है।यूट्यूब ने कहा कि अभियोजक को उस व्यक्ति या संस्था पर मुकदमा करना चाहिए,जिसने अवैध ढंग से फिल्म को अपलोड किया है। इसके बाद, उच्च न्यायालय ने याचिकाकर्ता को फिल्म अपलोड करने वाले को पांच दिनों के भीतर मुकदमे में अभियुक्त बनाने का निर्देश दिया। 

 

23-05-2020
राहुल गांधी ने यूट्यूब पर साझा किया मजदूरों का दर्द, विडियों में प्रवासियों ने कहा- घर से बाहर निकलना गुनाह हो गया

नई दिल्ली। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने आज यानी शनिवार को प्रवासी मजदूरों से बातचीत कर उनका दर्द साझा किया है। दरअसल राहुल गांधी ने प्रवासी मजदूरों को लेकर एक डॉक्यूमेंट्री जारी की है। राहुल की आवाज में इस डॉक्युमेंट्री में मजदूरों की मुश्किलों को बयां किया गया है। पिछले दिनों प्रवासी मजदूरों के साथ राहुल ने बातचीत के बाद अपने यूट्यूब चैनल पर राहुल ने प्रवासी मजदूरों को लेकर वीडियो जारी किया है। इस डॉक्यूमेंट्री में राहुल ने मजदूरों को समस्याओं को सुना। इसमें राहुल गांधी मजदूरों से पूछते हैं कि उनके पास पैसा है या नहीं? उन्हें कैसे पता चला कि देश में लॉक डाउन जारी है? राहुल ने जिन मजदूरों से बात की है वे यूपी में झांसी के निवासी हैं और हरियाणा की एक फैक्ट्री में काम करते हैं। बातचीत में उन्होंने बताया कि उन्हें एक पैसे की भी मदद नहीं मिली है। प्रवासियों ने राहुल को बताया कि उनका घर से बाहर निकलना गुनाह हो गया था।

पुलिस के अलावा स्थानीय लोग भी उन्हें बाहर निकलने पर मारते थे। पुलिस वाले दो बार आते थे। एक महिला ने भावुक होते हुए राहुल से कहा कि हमें हमारे गांव पहुंचा दीजिए। हमें वापस हरियाणा नहीं पहुंचाना। हमें गांव जाना है। मजदूरों ने बताया कि वे हरियाणा में जहां रहते थे वहां पांच-पांच हजार का सामान छूट गया है जो वापस नहीं आ सकता। राहुल गांधी ने कहा कि लॉक डाउन लागू हुए अब लगभग दो महीने हो चुके हैं। भारत लाखों प्रवासी पुरुषों, महिलाओं और बच्चों की तस्वीरों और वीडियो से शर्मिंदा हो गया है, जो सुरक्षित अपने गृहनगर और गांव जाने की पूरी तरह से कोशिश कर रहे हैं। हाईवे पर कई किलोमीटर पैदल चलकर, ट्रकों में या हर तरह के वाहन के जरिए अपने घर की ओर जाते हुए इन प्रवासियों की तस्वीरें और वीडियो ने हर भारतीय को झकझोर दिया है।

राहुल ने 13 करोड़ परिवारों को 7,500 रुपए देने की मांग की :

राहुल ने कहा कि सरकार यदि मदद कर सकती है तो उसे करनी चाहिए। वीडियो में उन्होंने मांग की है कि श्रमिकों के साथ न्याय होना चाहिए। सरकार को तुरंत उनके खातों में पैसे हस्तांतरित करने चाहिए। 13 करोड़ परिवार को 7,500 रुपये दिए जाने चाहिए। वीडियो के आखिर में राहुल ने कहा कि मेरे प्रवासी श्रमिक भाई बहनों, आप इस देश की शक्ति हो। हिंदुस्तान की शक्ति को सक्षम बनाना हमारा कर्तव्य है।

19-04-2020
यूट्यूब ने अपने एंड्राइड ऐप में किया ये बदलाव...सोशल मीडिया पर किया जा रहा है ट्रोल

मुंबई। वीडियो शेयरिंग कंपनी यूट्यूब ने अपने एंड्राइड ऐप में कुछ बदलाव किए हैं। दुनियाभर में हो रहे दिन प्रतिदिन बदलाव को देखते हुए यहा परिवर्तन किया गया है। भारतीय उपभोक्ताओं को लुभाने के लिए यूट्यूब ने अपने एंड्राइड ऐप में वीडियो के देखे जाने वालों की गिनती को अब मिलियन और बिलियन से हटाकर लाख और करोड़ में दिखाना शुरू कर दिया है। हालांकि मिलियन और बिलियन के आदी हो चुके भारतीयों को यूट्यूब का यह नया बदलाव बिल्कुल भी गले नहीं उतर रहा है और वह सोशल मीडिया पर लगातार इसकी बुराई कर रहे हैं। यूट्यूब के दुनियाभर में लगभग 200 करोड़ उपभोक्ता हैं, उनमें से लगभग 26 करोड़ पचास लाख उपभोक्ता अकेले भारत में पाए जाते हैं। एक बड़ी संख्या को उनकी ही क्षेत्रीय भाषा में लुभाने के लिए यूट्यूब ने यह बड़ा कदम उठाया है। हालांकि बिलियन और मिलियन से लाख और करोड़ में हुआ यह बदलाव अभी सभी भारतीयों को दिखाई देना शुरू नहीं हुआ है।

यूट्यूब ने बहुत छोटे पैमाने पर यह प्रयोग कुछ मुट्ठी भर एंड्राइड ऐपधारियों के ऊपर करके देखा है। इस प्रयोग के अंतर्गत किसी भी वीडियो के देखने वालों की संख्या ही नहीं, बल्कि किसी यूट्यूब चैनल के सब्सक्राइबर्स की संख्या को भी लाख और करोड़ में ही दिखाया जाएगा। अगर यह प्रयोग सफल रहता है तो यूट्यूब इसे सभी प्लेटफार्म के लिए लागू कर सकता है। जैसे ही इस बदलाव की खबर फैली, वैसे ही सोशल मीडिया पर लोगों ने अपनी प्रतिक्रिया देना शुरू कर दिया। जिन लोगों के एंड्राइड ऐप पर यह बदलाव हुए हैं, उन्होंने अपने फोन से स्क्रीनशॉट लेकर फेसबुक, इंस्टाग्राम और टि्वटर पर साझा करना शुरू कर दिया। ज्यादातर लोगों ने इस बदलाव को बहुत ही खराब बताया। उनका मानना है कि वे अब मिलियन और बिलियन में गिनती करने के आदी हो गए हैं इसलिए लाख और करोड़ में किसी भी संख्या को गिनना हजम नहीं होता।

02-03-2020
नरेंद्र मोदी ने किया चौंकाने वाला ट्वीट,कहा- सोशल मीडिया छोड़ने पर कर रहा हूं विचार

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को एक चौंकाने वाला ट्वीट किया। उन्होंने लिखा है कि वह सोशल मीडिया छोड़ने पर विचार कर रहे हैं। उन्होंने लिखा, ‘इस रविवार को मैं फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब समेत अपने सभी सोशल मीडिया अकाउंट छोड़ने पर विचार कर रहा हूं। इस बारे में मैं आपको जानकारी दे दूंगा।’ प्रधानमंत्री मोदी सोशल मीडिया के विभिन्न अकाउंट पर सबसे ज्यादा फॉलो किए जाने वाले नेता हैं। वह अक्सर सोशल मीडिया के जरिए दुनियाभर में लोगों के साथ संपर्क में रहते हैं। ट्विटर पर उनके 5 करोड़ 33 लाख 70 हजार से ज्यादा फॉलोअर्स हैं। जबकि वह खुद 2373 लोगों को फॉलो करते हैं। वहीं फेसबुक पर 4.5 करोड़ से ज्यादा लोग पीएम नरेंद्र मोदी को फॉलो करते हैं। वहीं इंस्टाग्राम पर पीएम नरेंद्र मोदी को फॉलो करनेवाले की संख्या 3.5 करोड़ से ज्यादा लोग फॉलो करते हैं। यूट्यूब पर 45 लाख लोगों ने पीएम मोदी को सब्सक्राइब किया हुआ है। आपको बता दें कि पीएम नरेंद्र मोदी के इस ट्वीट के बाद से ही सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर ‘NO SIR’ ट्रेंड करने लगा।

 

14-02-2020
सोशल मीडिया पर बढ़ते अपराधों को देखते हुए ये बड़ा कदम उठाने जा रही केंद्र सरकार...

नई दिल्ली। केंद्र सरकार सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर फेक न्यूज, चाइल्ड पोर्न, रंगभेद और आतंकवाद संबंधित कंटेंट के प्रसार को देखते हुए पूरी दुनिया में उनकी जिम्मेदारी तय करने की कोशिशें कर रही हैं। नया कानून सोशल मीडिया और मैसेजिंग एप्स के लिए बना रही है। इस महीने के अंत तक यह कानून आने की संभावना है। इसमें ऐसे प्रावधान किए गए हैं जो फेसबुक, ट्विटर, यूट्यूब और टिकटॉक को सरकारी एजेंसियों द्वारा मांगे जाने पर यूजर की पहचान का खुलासा करना होगा। स्पष्ट है कि नया कानून आने पर देश के करीब 40 करोड़ सोशल मीडिया यूजर्स की गोपनीयता खत्म हो जाएगी। इसके लिए सोशल मीडिया से संबंधित नियम-कायदे बनाए जा रहे हैं, लेकिन भारत में बन रहा कानून इन सबसे विस्तृत है। इसके तहत सोशल मीडिया कंपनियों को सरकार का निर्देश मानना ही होगा और इसके लिए वारंट या अदालत के आदेश की अनिवार्यता भी नहीं होगी।

भारत सरकार ने सोशल मीडिया से संबंधित दिशानिर्देश दिसंबर, 2018 में जारी किए थे और इस पर आम लोगों से सुझाव मांगे गए थे। इंटरनेट एंड मोबाइल एसोसिएशन ऑफ इंडिया ने नए प्रावधानों का विरोध करते हुए इन्हें निजता के अधिकार के खिलाफ बताया था, लेकिन जानकारी के मुताबिक सरकार इसमें कोई बड़ा बदलाव नहीं करने जा रही। प्रस्तावित कानून में सोशल मीडिया कंपनियों को सरकार के आदेश पर 72 घंटे के अंदर पोस्ट का मूल पता करने का प्रावधान किया गया था।

नए प्रावधानों से सोशल मीडिया कंपनियां नाखुश

व्हाट्सएप ने बुधवार को कहा कि वह सुरक्षा के मामले में कोई समझौता नहीं करेगी क्योंकि इससे यूजर्स असुरक्षित महसूस करेंगे। वहीं, टेक कंपनियों और नागरिक अधिकार समूह नए कानून को सेंसरशिप और नई कंपनियों के लिए बोझ बता रहे हैं। उन्होंने इस मामले में केंद्रीय सूचना एवं प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद को खुला खत भी भेजा है। मंत्रालय के एक अधिकारी ने हालांकि स्पष्ट किया है कि मोजिला और विकीपीडिया नए कानून के दायरे में नहीं आएंगी। ब्राउजर, ऑपरेटिंग सिस्टम, सॉफ्टवेयर विकसित करने वाले प्लेटफॉर्म आदि को इससे बाहर रखा गया है, लेकिन सभी सोशल मीडिया कंपनियों और मैसेजिंग एप के लिए इन्हें मानना अनिवार्य होगा। 

 

07-11-2019
भोजपुरी फिल्म

नई दिल्ली। भोजपुरी फिल्म 'संघर्ष' ने सफलता का एक नया इतिहास रच दिया है। यूट्यूब पर इस फिल्म को तीन दिन में 1.2 करोड़ से ज्यादा बार देखा गया है। वर्ल्डवाइड रिकार्ड्स लिमिटेड की इस फिल्म में मुख्य भूमिकाओं को भोजपुरी फिल्म अभिनेता खेसारीलाल यादव और काजल राघवानी मेन लीड रोल में नजर आ रहे हैं। फिल्म के निर्माता रत्नाकर कुमार ने इसकी सफलता पर कहा है कि भोजपुरी सिनेमा के इतिहास में पहली बार यूट्यूब पर किसी फिल्म को इतने लोग देख रहे हैं। भोजपुरी सिनेमा के लिए इससे बड़ी बात और क्या हो सकती है। उन्होंने कहा कि फिल्म में खेसारीलाल यादव और काजल राघवानी का मर्मस्पर्शी किरदार जहां मन को भावुक कर देता है, वहीं अवधेश मिश्रा का चरित्र समाज को सीख देता है। अवधेश मिश्रा ने लीक से हटकर किरदार निभाया है।

उन्होंने कहा, "फिल्म 'संघर्ष' के साथ पूरे परिवार संग देखने लायक एक मर्मस्पर्शी सिनेमा का निर्माण किया गया है। एक्शन और फैमिली ड्रामा से भरपूर यह फिल्म बेटियों के महत्व के बारे में समाज के हर वर्ग को एक अच्छा संदेश देने का काम कर रही है।" उल्लेखनीय है कि हाल ही में सबरंग भोजपुरी फिल्म अवॉर्ड में भी अलग-अलग कैटेगरी के एक दर्जन अवार्ड फिल्म 'संघर्ष' के नाम रहे। इसके अलावा विकास सिंह वीरप्पन द्वारा आयोजित भोजपुरी सिनेमा स्क्रीन एंड स्टेज अवार्ड्स 2019 में फिल्म 'संघर्ष' को सर्वश्रेष्ठ श्रेणी में बेस्ट फिल्म, बेस्ट एक्टर, क्रिटिक्स बेस्ट एक्ट्रेस, बेस्ट डायरेक्टर, बेस्ट स्टोरी एंड स्क्रीनप्ले राईटर इत्यादि कैटेगरी के बेस्ट अवॉर्ड देकर सम्मानित किया गया है।

 

19-10-2019
दयालु चोर ने महिला के माथे पर किया किस, कहा - नहीं चाहिए आपके पैसे  

नई दिल्ली। आपने दुनिया में एक से बढ़कर एक चोर देखे होंगे, जो चोरी करने के लिए मारपीट या किसी की हत्या करने से भी गुरेज नहीं करते, लेकिन आज हम आपको एक ऐसे चोर के बारे में बताने जा रहे है जिसके बारे में सुनने के बाद आप उसे दयालु चोर कहें तो गलत नहीं होगा। दरअसल, चोर ने महिला के माथे पर किस कर उससे पैसे लेने से मना कर दिया। यह घटना ब्राजील की है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, यहां बंदूकधारी दो चोर लूटने के इरादे से अचानक दवाई की दुकान में घुस गए और दुकान के कर्मचारी से पैसे की मांग की। इस दौरान दुकान में एक उम्रदराज महिला भी मौजूद थी। वह भी अपने पैसे निकाल कर एक चोर को देने लगी, लेकिन उसने महिला से पैसे लेने से मना कर दिया।  चोर ने महिला के माथे पर किस किया और कहा, 'नहीं मैम, आप शांत रहिए, मुझे आपका पैसा नहीं चाहिए।' रिपोर्ट्स के मुताबिक, चोर बाद में लगभग 71 हजार रुपये नकद और कुछ सामानों के साथ दुकान से फरार हो गए। इस अनोखी चोरी का वीडियो 17 अक्टूबर को यूट्यूब पर पोस्ट किया गया था, जिसे अब तक दो लाख से भी ज्यादा बार देखा जा चुका है। 

20-06-2019
इस प्रकार करें अपने बच्चों के यूट्यूब को कंट्रोल......... 

नई दिल्ली। इंटरनेट का यूज आज आम हो गया है। बड़ों के साथ बच्चे भी मोबाइल पर इंटरनेट का उपयोग करते हैं। इसमें यूट्यूब देखना तो बहुत आसान है। इसमें अनावश्यक फीचर से बच्चों की दूरी बनाए रखना भी जरूरी है। यूट्यूब खुद बच्चों के लिए किड्स वर्जन प्रदान करता है। यूट्यूब किड्स पर आपको कुछ ऐसे फीचर मिलते हैं, जिनकी मदद से आप अपने बच्चों के यूट्यूब को कंट्रोल कर सकते हैं। आइए जानते हैं कैसे आप अपने बच्चों के लिए यूट्यूब को सुरक्षित बना सकते हैं। सबसे जरूरी पहलू ये है कि आप यूट्यूब पर एक पासकोड सेट करें, जिससे बच्चे इसकी सेटिंग ना बदल सकें। यूट्यूब पर आप सेटिंग में बदलाव कर सकते हैं। साथ ही यदि आप इसे पहले से इस्तेमाल कर रहे हैं, तो इसे रिइंस्टॉल करें और फिर अपने बच्चों के लिए इसे सेट करें। 

रिइंस्टॉल होने के बाद एप को ओपन करें।
अब गेट स्टार्ट बटन पर क्लिक करें।
अपनी डेट ऑफ बर्थ इंटर करें।
इसके बाद आप दाई ओर नजर आ रही ऐरो पर क्लिक करें।
अब आप यूट्यूब पर अपने गूगल अकाउंट से साइन इन करें।
एक बार साइन इन का प्रॉसेस पूरा हो जाने के बाद आप अपने बच्चे की डीटेल्स जैसे फर्स्ट नेम, एज और बर्थ मंथ डालकर नेक्स्ट बटन पर क्लिक करें।
अब आप सर्च ऑफर बटन पर क्लिक करें, जिससे आपका बच्चा यूट्यूब पर कुछ भी सर्च नहीं कर सकेगा।
दाए कॉर्नर में आपको लॉक आइकन मिलेगा उस पर टैप करें, और सेटिंग में जाएँ।
प्रोफाइल सेट करें और अपने बच्चे के लिए अपने मुताबिक कंटेंट सेट करें।
इस तरह से आप अपने बच्चे के लिए यूट्यूब को सेफ बना सकते हैं।

19-06-2019
कबीर सिंह के 'तेरा बन जाऊंगा' सांग ने मचाया धमाल, यूट्यूब पर आया टॉप ट्रेंडिग पर

मुंबई। फिल्म कबीर सिंह का दूसरे गाने को दर्शकों का अच्छा रिस्पांस मिल रहा है। इस गाने को यू ट्यूब में अब तक 78 लाख से अधिक लोग देख चुके हैं। फिल्म कबीर सिंह को लेकर शाहिद कपूर और कियारा आडवाणी के फैंस उन्हे बड़े परदे पर एक साथ देखने के लिए उत्सुक है। इस फिल्म का हर गाना दर्शकों ने खूब पसंद किया है। लेकिन इस फिल्म का दूसरा गाना तेरा बन जाऊँगा लोगों के दिल को लुभा रहा है। इस गाने के वीडियो को एक दिन में लाखों व्यूज मिले है।  
'तेरा बन जाऊंगा' के वीडियो में शाहिद और कियारा के बीच कॉलेज स्टूडेंट्स वाला क्यूट प्यार नजर आ रहा है। शाहिद की पजेसिवनेस और कियारा का भोलापन लोगों का दिल जीत रहा है। इस गाने को अब तक 78 लाख 44 हजार से भी ज्यादा बार देखा जा चुका है। इसके चलते यह गाना यूट्यूब पर टॉप ट्रेंडिग में है।
इस गाने का प्ले बैक तुलसी और अखिल सचदेवा ने दिया है। इस गाने में संगीत अखिल सचदेव ने ही दिया है और गीत को कुमार ने लिखा है।
 बता दें कि कबीर सिंह साऊथ सुपर स्टार विजय  देवरकोंडा की हिट फिल्म अर्जुन रेड्डी का हिंदी रीमेक है। 

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804