GLIBS

20-09-2021
श्याम लाल कॉलेज ने अपने नाम किया दिल्ली स्टेट हॉकी चैंपियनशिप का खिताब, फेथ क्लब को 4-3 से हराया

नई दिल्ली। श्याम लाल कॉलेज ने फेथ क्लब को फाइनल में 4-3 से हराकर सीनियर दिल्ली स्टेट पुरुष हॉकी चैंपियनशिप का खिताब अपने नाम ​कर लिया है। मेजर ध्यानचंद नेशनल स्टेडियम में बीते शनिवार को फ्लडलाइट में खेले गए इस कांटे के फाइनल मुकाबले में श्याम लाल कॉलेज की तरफ से आशीष सहरावत और राजवीर ने एक-एक गोल किया, जबकि फेथ क्लब की तरफ से नितिन ने दो गोल किए। इन गोलों की बदौलत दोनों टीमें निर्धारित समय तक 2-2 से बराबरी पर रहीं। मुकाबला ड्रॉ रहने के बाद पेनल्टी शूटआउट हुआ, जिसमें श्याम लाल कॉलेज की तरफ से ललित और विकास उपाध्याय ने दो-दो गोल किए, जबकि फेथ क्लब की तरफ से नितिन ने दो और सुमित ने एक गोल किया। परिणामस्वरूप मुकाबला 4-3 से श्याम लाल कॉलेज के नाम रहा।

13-09-2021
Breaking :  प्रदेश में शुरू होगी बैडमिंटन अकादमी, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने की घोषणा

रायपुर। प्रदेश में खेलों को बढ़ावा देने के  लिए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने महत्वपूर्ण घोषणा की है। इससे विकास के लिए धनराशि की कमी नहीं होगी। सीएम बघेल ने कहा कि छत्तीसगढ़ खेल प्राधिकरण के माध्यम से अंतरराष्ट्रीय और राष्ट्रीय स्तर के कोचों की नियुक्ति की जाएगी। उन्होंने छत्तीसगढ़ के बड़े उद्योगों को स्टेडियम के रखरखाव की जिम्मेदारी दी है। सीएम बघेल ने कोचों की नियुक्ति, खिलाड़ियों की आवासीय सुविधा और डाइट की व्यवस्था के लिए बड़े उद्योगों से सीएसआर मद से सहयोग देने की घोषणा की है।

31-08-2021
इंडिगो ने दिया गोल्ड मेडल जीतने वाले में पैरालंपिक खिलाड़ी सुमित और अवनि को उपहार, फ्री की एक साल की हवाई टिकट

नई दिल्ली। टोकियो पैरालंपिक में स्वर्ण पदक जीतने वाले सुमित अंतिल और अवनि लेखरा को इंडिगो एक साल तक फ्री एयर टिकट देगा। एयरलाइन ने एक बयान में कहा कि टोक्यो पैरालम्पिक में महिलाओं की 10 मीटर एयर राइफल (स्टैंडिंग) स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीतने वाली अवनि लेखरा को सम्मानित करने के लिए यह फैसला लिया गया है। वहीं सुमित ने पुरूषों के भाला फेंक में विश्व रिकॉर्ड के साथ स्वर्ण पदक जीता। बयान में कहा गया कि दोनों खिलाड़ी एक सितंबर से अगले साल 31 अगस्त तक इंडिगो के घरेलू और अंतरराष्ट्रीय मार्ग पर कितनी भी बार मुफ्त यात्रा कर सकेंगे। एयरलाइन के मुख्य कार्यकारी अधिकारी रनंजय दत्ता ने कहा कि उन्हें अवनि और सुमति पर गर्व है,जिन्होंने दृढता और साहस की बानगी पेश की है जो आसान नहीं था। गौरतलब है कि अवनि लेखरा ने महिलाओं के आर-2 10 मीटर एयर राइफल के क्लास एसएच1 में स्वर्ण पदक जीतकर भारतीय खेलों में नया इतिहास रचा। 19 वर्षीय निशानेबाज पैरालंपिक में स्वर्ण पदक जीतने वाली पहली भारतीय महिला खिलाड़ी बन गई हैं। जबकि हरियाणा सोनीपत के रहने वाले 23 साल के सुमित अंतिल ने भाला फेंक में रिकार्ड प्रर्दशन कर भारत को दूसरा गोल्ड दिलाया। उन्होंने पांचवें प्रयास में 68.55 मीटर दूर तक भाला फेंका,जो सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन और एक नया विश्व रिकार्ड था।

31-08-2021
टोक्यो पैरालंपिक में खिलाड़ियों ने दिखाया कमाल, देश के नाम किए 3 पदक, मेडल की संख्या पहुंची 10

टोक्यो। टोकियो पैरालंपिक के सातवें दिन मंगलवार को भारत को 3 पदक मिले। दिन की शुरुआत में सिंहराज ने पुरुषों की 10 मीटर एयर पिस्टल स्पर्धा के फाइनल में कांस्य पदक जीता। इसके बाद पुरुषों की ऊंची कूद की टी-63 स्पर्धा में मरियप्पन थंगवेलु और शरद कुमार ने रजत और कांस्य पदक अपने नाम किए। इसके साथ ही भारत के पदकों की संख्या बढ़कर 10 पहुंच गई है। बता दें कि सोमवार को भी भारत को दो स्वर्ण समेत कुल पांच मेडल मिले थे। पुरुषों की ऊंची कूद की टी-63 स्पर्धा के फाइनल में भारत के मरियप्पन थंगवेलु और शरद कुमार ने पदक अपने नाम किए। रियो मरियप्पन ने रजत पदक तो शरद कुमार ने कांस्य पदक जीता। टोक्यो पैरालंपिक में भारत के सिंहराज अडाना ने पुरुषों की 10 मीटर एयर पिस्टल स्पर्धा एसएच-1 के फाइनल में कांस्य पदक जीत लिया। उन्होंने यह पदक 216.8 अंकों के साथ अपनी झोली में डाला। जबकि पदक के दावेदार मनीष नरवाल फाइनल मुकाबले में कुछ खास नहीं कर पाए। वह  दूसरे राउंड में बाहर हो गए थे। 

 

31-08-2021
द.अफ्रीका के तेज गेंदबाज डेल स्टेन ने क्रिकेट के सभी प्रारूपों से लिया संन्यास

नई दिल्ली। द.अफ्रीका के दिग्गज तेज गेंदबाज डेल स्टेन ने क्रिकेट के सभी प्रारूपों से संन्यास की घोषणा की। दक्षिण अफ्रीका के क्रिकेटर डेल स्टेन ने मंगलवार को सोशल मीडिया पर खुलासा किया कि वह तत्काल प्रभाव से क्रिकेट के सभी प्रारूपों से संन्यास ले रहे हैं। 38 वर्षीय प्रोटियाज पेसर ने पहले अगस्त 2019 में टेस्ट क्रिकेट से संन्यास ले लिया था और तब से फरवरी 2020 से दक्षिण अफ्रीका (टी20 बनाम ऑस्ट्रेलिया) के लिए नहीं खेला।

 

30-08-2021
टोक्यो पैरालंपिक में रजत पदक विजेता निषाद कुमार को एक करोड़ रुपए देगी हिमाचल सरकार

शिमला। हिमाचल प्रदेश सरकार ने निषाद कुमार को पुरस्कार के तौर एक करोड़ रुपये देने की घोषणा की है। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने निषाद, उनके कोच और परिवार के लोगों को बधाई दी। इससे पहले भी निषाद को पैरालंपिक की तैयारियों के लिए प्रदेश सरकार ने 5 लाख रुपये दिए थे। हिमाचल के किसान के बेटे ने रविवार को टोक्यो पैरालंपिक 2020 में ऊंची कूद में सिल्वर मेडल जीतकर इतिहास रच दिया। ऊना जिले के अंब उपमंडल के बदायूं निवासी निषाद ऐसा करने वाले पहले हिमाचली खिलाड़ी बने हैं। उन्होंने 2.06 मीटर ऊंची कूद लगाकर एशियन रिकॉर्ड बनाया। बता दें कि निषाद के पिता रछपाल सिंह किसान हैं, जबकि माता पुष्पा देवी गृहिणी हैं। निषाद जब आठ साल के थे, तब चारा काटते समय मशीन में उनका हाथ कट गया था।


छोटे से कस्बे के सरकारी स्कूल से 12वीं कक्षा की पढ़ाई के दौरान ही उन्होंने लक्ष्य बना लिया था कि वह खेलों में भविष्य बनाएंगे। ऊंची कूद में उन्होंने सामान्य वर्ग में ही प्रदेश में प्रथम स्थान हासिल किया था। वर्ष 2017 में माता-पिता से महज 2500 रुपये लेकर वह घर से पंचकूला के ताऊ देवीलाल स्पोर्ट्स कांप्लेक्स में प्रशिक्षण लेने चले गए। उस समय पंचकूला की खेल नर्सरी बंद थी, लेकिन निषाद की लगन को देखते हुए कोच नसीम अहमद ने उन्हें कांप्लेक्स में ही खाली कमरा मुहैया करवाया और ट्रेनिंग देनी शुरू कर दी। निषाद की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं थी। कोच ने अपनी तरफ से प्रतिमाह 3000 रुपये और अपने दोस्तों की ओर से 7000 रुपये का इंतजाम किया ताकि उनकी खुराक और तैयारी में कोई कमी न रहे।


निषाद ने 2019 से नेशनल कैंप में बंगलूरू में कोच सत्यनारायण की देखरेख में कोचिंग शुरू की। पैरा एथलेटिक में 2.06 मीटर की ऊंची कूद के साथ उनका नेशनल रिकॉर्ड है। 2019 में दुबई में पैरा वर्ल्ड ग्रैंड सिक्स प्रतियोगिता, जिसमें 152 देशों के खिलाड़ियों ने भाग लिया था, वहां निशाद ने कांस्य जीतकर देश का नाम रोशन किया था। दुबई में ही 2021 में नया एशियन रिकॉर्ड बनाया। तब निषाद ने भारत को सिल्वर मेडल के साथ पैरालंपिक में विक्ट्री पोडियम तक पहुंचा दिया। 

 

30-08-2021
टोक्यो पैरालिंपिक: भाला फेंक खिलाड़ी सुमित अंतिल ने रचा इतिहास, रिकॉर्ड बनाकर देश के लिए जीता दूसरा स्वर्ण पदक

टोक्यो। पैरालिंपिक में भारत के लिए सोमवार को दिन बेहद खास रहा है। दिन की शुरुआत में जहां अवनी लखेड़ा ने 10 मीटर एयर राइफल एसएच1 में गोल्ड मेडल अपने नाम किया था, तो शाम होते-होते जैवलिन थ्रो में सुमित अंतिल ने भाला फेंक में नए वर्ल्ड रिकॉर्ड के साथ भारत की झोली में दूसरा स्वर्ण पदक डाला। सुमित एएफ64 फाइनल कैटिगरी में भारत का प्रतिनिधित्व करने उतरे थे। इससे पहले सुबह जैवलिन थ्रो की एएफ 46 स्पर्धा में देवेंद्र झझारिया और सुंदर सिंह गुर्जर ने क्रमश: सिल्वर और ब्रॉन्ज मेडल अपने नाम किए थे।


लेकिन सुमित अंतिल ने शाम को अपनी स्पर्धा में जिस दूरी का भाला फेंका उसने नया वर्ल्ड रिकॉर्ड और गोल्ड मेडल दोनों ही भारत के नाम कर दिए। सुमित अंतिल ने इस दौरान तीन बार वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया। उन्होंने सबसे पहले 66.95 मीटर और फिर 68.08 मीटर का भाला फेंककर नया वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया। यह नया वर्ल्ड रिकॉर्ड उन्होंने दूसरे प्रयास में हासिल किया था, जिसे इस स्पर्धा के अपने 5वें और अंतिम प्रयास में उन्होंने ही तोड़कर एक और नया वर्ल्ड रिकॉर्ड यहां स्थापित कर दिया। सुमित ने अबकी बार 68.55 मीटर दूर का भाला फेंककर यह रिकॉर्ड अपने नाम किया।

 

30-08-2021
भारत ने दो और मेडल पर किया कब्जा, जैवलिन थ्रो में देवेंद्र झाझरिया ने जीता रजत, सुंदर सिंह ने कांस्य

नई दिल्ली। टोक्यो पैरालंपिक खेलों में सोमवार का दिन भारत के लिए शानदार रहा। भारत को दो और मेडल मिला है। अवनि लेखरा और योगेश कथुनिया के बाद जैवलिन थ्रो F-46 में देवेंद्र झाझरिया ने रजत और सुंदर सिंह गुर्जर ने कांस्य पदक जीता है। बता दें कि पैरालंपिक में खेले गए जैवलिन थ्रो F46 इवेंट में देवेंद्र ने 64.35 मीटर का अपना नया व्यक्तिगत सर्वश्रेष्ठ अंक बनाया है और रजत पदक हासिल किया। 40 वर्षीय देवेंद्र झाझरिया का यह तीसरा पैरालिंपिक पदक है। वहीं सुंदर सिंह गुर्जर ने इस मुकाबले में 64.01 मीटर का थ्रो करके कांस्य पदक अपने नाम किया है।

30-08-2021
Breaking : पैरालंपिक खेलों में भारत की पैरा शूटर अवनि लेखरा ने रचा इतिहास

नई दिल्ली/टोक्यो। पैरालंपिक खेलों में भारत की पैरा शूटर अवनि लेखरा ने इतिहास कायम किया है। दरअसल अवनि ने महिलाओं की 10 मीटर एयर राइफल स्टैंडिंग एसएच 1 इवेंट में नया पैरालंपिक रिकॉर्ड बनाते हुए गोल्ड पर निशाना साधा है। अवनि ने कुल 249.6 का स्कोर बनाया जो की पैरालंपिक खेलों का नया रिकॉर्ड है।

29-08-2021
टोक्यो पैरा ओलंपिक: डिस्कस थ्रो में विनोद कुमार ने जीता कांस्य,खेल दिवस पर देश के नाम तीन मेडल

टोक्यो। पैरालंपिक खेलों में रविवार का दिन भारत के लिहाज से बेहद शानदार रहा। हमारे खिलाड़ियों ने कुल तीन मेडल जीते, जिसमें दो सिल्वर और एक ब्रॉन्ज शामिल है। दिन की शुरुआत भाविना पटेल ने टेबल टेनिस से की। शाम होते-होते पहले निषाद कुमार ने हाई जम्प और फिर विनोद कुमार ने डिस्कस थ्रो में कांस्य पदक दिला दिया। 29 अगस्त को खेल दिवस पर देश के नाम तीन मेडल आए। विनोद कुमार ने चक्का फेंक एफ-52 फाइनल में 19.91 मीटर के साथ कांस्य पदक जीता। विनोद कुमार ने अपने छह अटेंप्ट में क्रमश: 17.46, 18.32, 17.80, 19.12, 19.91 और 19.81 मीटर का थ्रो किया। सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के पूर्व जवान विनोद कुमार ने 19.91 मीटर के सर्वश्रेष्ठ थ्रो से तीसरा स्थान हासिल किया। वह पोलैंड के पियोट्र कोसेविज (20.02 मीटर) और क्रोएशिया के वेलिमीर सैंडोर (19.98 मीटर) के पीछे रहे, जिन्होंने क्रमश: स्वर्ण और रजत पदक अपने नाम किए।

29-08-2021
टोक्यो पैरालंपिक: निषाद कुमार ने हाई जंप में जीता रजत पदक, मेडल की संख्या हुई दो

टोक्यो। पैरालंपिक में टेबल टेनिस खिलाड़ी भाविनाबेन पटेल के सिल्वर जीतने के बाद भारत की झोली में एक और मेडल आ गया है। एथलीट निषाद कुमार ने रविवार को हाई जंप में सिल्वर अपने नाम किया। निषाद ने पुरुषों की ऊंची कूद टी 47 फाइनल में 2.06 मीटर की जंप लगाकर भारत को दूसरा पदक दिलाया। उन्होंने साथ ही एशियाई रिकार्ड बनाया। अमेरिका के डलास वाइज को भी रजत पदक दिया गया क्योंकि उन्होंने और कुमार दोनों ने समान 2.06 मीटर की कूद लगाई। वहीं, अमेरिका के टाउनसेंड रोडेरिक ने 2.15 मीटर की कूद के साथ गोल्ड मेडल पर कब्जा जमाया।


निषाद के पदक जीतने के बाद बधाइयों का तांता लग गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्विटर पर लिखा कि टोकियो से एक और खुशी की खबर आई है। निषाद कुमार के पुरुषों की ऊंची कूद टी 47 में रजत पदक जीतने पर बेहद खुश हूं। वह एक बेहतरीन एथलीट हैं। उनकी स्किल शानदार हैं और उनमें जबरदस्त दृढ़ता है। उन्हें बधाई। वहीं, कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट किया, 'राष्ट्रीय खेल दिवस पर भारत को एक और सिल्वर। निषाद कुमार को शानदार प्रदर्शन के लिए बधाई। आपने देश को गौरवान्वित कर दिया।'

Please Wait... News Loading