GLIBS

20-10-2020
चुनाव आयोग विधानसभा का विशेष सत्र बुलाने से प्रदेश सरकार को रोके : भाजपा

रायपुर। भारतीय जनता पार्टी के चुनाव विधिक प्रकोष्ठ के प्रदेश संयोजक नरेशचंद्र गुप्ता और जयप्रकाश चंद्रवंशी, बृजेश पांडेय व शरद मिश्रा ने प्रदेश के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी को पत्र सौंपा है। उन्होंने प्रदेश सरकार को राज्य विधानसभा का विशेष सत्र बुलाने से रोकने की मांग की है। पत्र में भाजपा नेताओं ने कहा है कि महज 58 दिनों के अंतराल में ही प्रदेश सरकार की ओर से राज्यपाल से विधानसभा का विशेष सत्र बुलाने की अनुमति/सहमति मांगी जा रही है। नीतिगत निर्णय लेकर मरवाही विधानसभा के उपचुनाव को प्रभावित करने के उद्देश्य से भारतीय निर्वाचन आयोग के दिशा-निर्देशों के विपरीत और विधि का घोर उल्लंघन करते हुए राज्य सरकार विधानसभा का विशेष सत्र आहूत करने की कोशिश कर रही है। तथ्यों और परिस्थितियों को दृष्टिगत रखते हुए राज्य सरकार को विधानसभा का विशेष सत्र बुलाने से रोका जाए ताकि मरवाही में स्वतंत्र व निष्पक्ष मतदान हो सके। राज्य सरकार को आगामी 3 नवंबर के बाद ही विधानसभा का विशेष सत्र बुलाने की अनुमति प्रदान की जाए।

 

20-10-2020
मुख्यमंत्री को एक बार सोनिया गांधी से परामर्श लेना चाहिए : शिवरतन शर्मा

रायपुर/मरवाही। भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष व वरिष्ठ विधायक शिवरतन शर्मा ने कहा है कि विकास विरोधी कांग्रेस की सरकार को मरवाही की जनता करारा जवाब देगी। बदहाल सड़कें और क्षेत्र में व्याप्त समास्याओं से परेशान जनता अब बदलाव का मन बन चुकी है। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में सबको अपने बातें कहने का अधिकार है लेकिन कांग्रेस की सरकार अलोकतंत्रिक प्रक्रिया अपना केवल लोकतंत्र की हत्या करने में जुटी है। विधायक शर्मा ने कहा कि अमित जोगी और ऋचा जोगी के नामांकन निरस्त करने के मामले एक मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को अपनी नेता सोनिया गांधी को परामर्श जरूर कर लेना था। जब स्व. अजीत जोगी के कुल का कोई आदिवासी नहीं तो फिर किस आधार पर स्व.जोगी को छत्तीसगढ़ का मुख्यमंत्री बनाने की घोषणा सोनिया गांधी ने की थी?। तब उनकी जाति के बारे में क्या कांग्रेस आलाकमान को पता नहीं था?

शर्मा ने कहा है कि साथ ही सोनिया गांधी को यह भी बताना चाहिए कि स्व. जोगी आदिवासी नहीं थे तो उन्हें  कांग्रेस अनुसूचित जनजाति विभाग के देश का प्रमुख कैसे बना दिया था? इस पर भी कांग्रेस को जवाब देना चाहिए कि कौन सही है- सोनिया गांधी या मुख्यमंत्री भूपेश बघेल? इन सारे सवालों का जवाब मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को देना चाहिए। शर्मा ने मरवाही में जनसंपर्क अभियान के दौरान ने कहा कि पूरे प्रदेश में माफिया राज कायम है। रेत से लेकर,अवैध शराब  के बिक्री को लेकर तस्कर मस्त है। इसके बाद भी कार्रवाई के नाम पर कुछ भी नहीं हो रहा है। पूरे प्रदेश में अपराध की घटनाएं बढ़ी है। कांग्रेस केवल सत्ता सुख में व्यस्त है। किसी की कोई चिंता नहीं है। हर तरफ भय का वातावरण है। यही समय है कि निरंकुश सरकार को करारा जवाब दिया जाना चाहिए। उन्होंने मरवाही के समग्र विकास के लिए भाजपा प्रत्याशी डॉ. गंभीर सिंह को समर्थन देने की अपील की है।

 

20-10-2020
झूठ-फरेब की राजनीति के खोटे सिक्के दूसरे प्रदेशों में चलाने की कोशिश कर रहे भूपेश बघेल : विष्णुदेव साय

रायपुर। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय ने प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल पर लगातार झूठ की राजनीति करके देशभर को गुमराह करने का आरोप लगाया है। साय ने निशाना साधा है कि मुख्यमंत्री बघेल के झूठ-फरेब की राजनीति का खोटा सिक्का अब छत्तीसगढ़ में चल नहीं रहा है तो वे दूसरे प्रदेशों में जाकर अपने खोटे सिक्के चलाने की हास्यास्पद कोशिशों में लगे हुए हैं। बेरोजगारी के मुद्दे पर बिहार में पत्रकारों से बातचीत करते हुए मुख्यमंत्री बघेल ने 15 हजार शिक्षकों की भर्ती समेत विभिन्न विभागों में भर्तियों को लेकर झूठ परोसा। साय ने कहा है कि भगवान बुद्ध की धरती पर इतना सफेद झूठ बोलते मुख्यमंत्री ने जरा भी शर्म महसूस नहीं की, यह हैरत की बात है।  साय ने मुख्यमंत्री बघेल को चुनौती दी कि यदि एक भी शिक्षक की भर्ती इस सरकार ने की है तो मुख्यमंत्री बघेल छत्तीसगढ़ और बिहार के मतदाताओं को किसी भी एक शिक्षक का नियुक्ति पत्र दिखाएं, अन्यथा अपने इस झूठ से छत्तीसगढ़ के युवा अभ्यर्थियों का मखौल उड़ाने और भगवान बुद्ध की धरती पर झूठ बोलने के लिए बिना शर्त माफी मांगकर प्रायश्चित करें।

प्रदेश में बेरोजगारी ने युवाओं को इतना हताश-निराश कर रखा है कि युवा अब लगातार आत्मघात करने के लिए विवश हो रहे हैं। मुख्यमंत्री बघेल प्रदेश के सभी विभागों में भर्तियां रोककर सबको रोजगार देने का दावा करते फिर रहे हैं। सच्चाई यह है कि शिक्षक अभ्यर्थी प्रदेश सरकार की नीतियों से संत्रस्त हो चले हैं, आंदोलन पर उतर आए हैं और अपने हक के लिए लड़ने वालों पर विभिन्न धाराओं में अपराध दर्ज कर प्रदेश सरकार भयादोहन की राजनीति कर रही है। साय ने कहा है कि प्रदेश में पूर्ववर्ती भाजपा शासनकाल में जो पुलिस भर्ती प्रक्रिया पूर्ण हो चुकी थी, मुख्यमंत्री बघेल ने उसमें भी अड़ंगा डालकर उसे रुकवाने का काम किया है। उच्च शिक्षा के अध्यापन के लिए भी नियुक्तियों का प्रदेश सरकार का दावा इसी तरह फर्जी है।

 

20-10-2020
बृजमोहन अग्रवाल ने कहा-कांग्रेस अपने किसान विरोधी चरित्र पर खुद ही मुहर लगा रही

रायपुर। पूर्व मंत्री व विधायक बृजमोहन अग्रवाल ने प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल पर केंद्र सरकार के कृषि कानूनों को लेकर लगातार भ्रम फैलाकर किसानों को बरगलाने व उकसाने का आरोप लगाया है। बृजमोहन ने कहा है कि केंद्रीय मंत्री संजीव बालियान के बयान को लेकर मुख्यमंत्री ने जान-बूझकर तथ्यों को अनदेखा किया है। नए कृषि कानूनों से किसानों के जीवन में आने वाले क्रांतिकारी बदलाव से घबराए कांग्रेस नेता 2019 के चुनाव घोषणा पत्र तक जिन प्रावधानों को लागू करने का वादा कर रहे थे, वह काम केंद्र में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार ने किया तो मुख्यमंत्री बघेल को दर्द क्यों ? बृजमोहन अग्रवाल ने कहा है कि बार-बार केंद्र सरकार के यह साफ करने के बावजूद कि इन कानूनों से न एमएसपी की व्यवस्था खत्म होगी, और न ही मंडी की व्यवस्था, कांग्रेस लगातार झूठ परोसने में उसी तरह लगी है, जैसा वह राफेल विमान सौदे के मामले में कर रही थी। न्यूनतम समर्थन मूल्य प्रशासनिक निर्णय है जो अब तक जारी था, आज भी जारी है और भविष्य में जारी रहेगा।

मौजूदा खरीफ सत्र के साथ ही आगामी रबी सत्र तक की उपजों के लिए केंद्र सरकार ने न्यूनतम समर्थन मूल्य की घोषणा करके कांग्रेस के दुष्प्रचार का मुंहतोड़ जवाब दे दिया है। स्वामीनाथन कमेटी की सिफारिशों के मुताबिक इन कानूनों में प्रावधान करने के बावजूद कांग्रेस अब झूठ की राजनीति कर किसानों को उकसाकर कोरोना काल में अराजकता फैलाने का कृत्य कर रही है। कृषि सुधार से संबंधित तीनों कानूनों का विरोध करके कांग्रेस अपने किसान विरोधी चरित्र पर खुद ही मुहर लगाने का काम कर रही है। बृजमोहन अग्रवाल ने कहा है कि जो बातें इन कानूनों के प्रावधान में नहीं हैं, जो प्रावधान इन कानूनों में नहीं होना चाहिए और नहीं हो सकते, कांग्रेस समेत तमाम विपक्षी दल के लोग उन्हीं बातों को लेकर देश को गुमराह करने की नाकाम कोशिश कर रहे हैं। कांग्रेस किसानों की हितैषी होने का ढोंग करके हर बार किसानों के साथ छलावे की नित-नई साजिशों का जाल ही बुनने में लगी रहती है। कृषि संबंधी ये कानून किसानों के लिए एक विकल्प हैं और इनके प्रावधानों का चयन करना किसानों का अपना निर्णय होगा। कांग्रेस जिन मुद्दों को लेकर अब तक बातें करती रही है, उन क्रांतिकारी सुधारों के लागू करके प्रधानमंत्री श्री मोदी ने किसानों के सुनहरे भविष्य का दस्तावेज देश को सौंपा है। देश के किसान उनकी इस सोच और पहल के आभारी हैं।

 

20-10-2020
गृहमंत्री निवास घेराव करने निकले 3500 भाजपा कार्यकर्ताओं ने दी गिरफ्तारी

रायपुर। भारतीय जनता पार्टी रायपुर जिला ने मंगलवार को कांग्रेस सरकार के नाकारापन के कारण शहर में बढ़ रहे हत्या, लूट, अवैध शराब बिक्री, बढ़ते नशीले पदार्थ के विरोध में पूर्व मंत्री द्वय बृजमोहन अग्रवाल, राजेश मूणत व भाजपा जिलाध्यक्ष श्रीचंद सुंदरानी के नेतृत्व में गृहमंत्री के निवास का घेराव किया। रैली के पहले धरना स्थल बूढ़ा तालाब में एकत्रित लोगों को  संबोधित करते हुए बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि यह भीड़ बता रही है कि 22 महीने में ही कांग्रेस की चुनी हुई सरकार ने अलोकप्रिय होने का रिकार्ड बनाया है। कांग्रेस जिन वादों को करके  सत्ता में आई आज उनसे पीछे हट रही है लेकिन भारतीय जनता पार्टी के प्रत्येक कार्यकर्ता यह होने नहीं देंगे। पूर्व मंत्री राजेश मूणत ने पुलिस प्रशासन को चेतावनी देते हुए कहा कि हमारी लड़ाई आपसे नहीं है। हम प्रशासन को  उनके कर्तव्य याद दिलाने के लिए और जनता को उसका अधिकार दिलाने के लिए संघर्ष कर रहे हैं। लेकिन अगर प्रशासन ने पुलिस को एजेंट के रूप में सामने रखकर कार्यकर्ताओं को प्रताड़ित किया तो शहर के प्रत्येक चौक चौराहे और थाने के सामने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का पुतला दहन किया जाएगा। भाजपा जिला अध्यक्ष श्रीचंद सुंदरानी ने कार्यकर्ताओं के विशाल भीड़ को संबोधित करते हुए कहा आज की रैली तो शासन के नकारेपन के विरुद्ध जंग का आगाज है। आज पूरा शहर युवा नशे की गिरफ्त में आ गए हैं। इस कांग्रेसी सरकार ने महिलाओं से शराबबंदी के नाम पर वोट लिए लेकिन आज गली-गली में लाइसेंसी कोचिये पैदा कर दिए हैं। इसके कारण शहर में अपराध बहुत बढ़ गया है। जगह-जगह हत्या और लूट और महिलाओं खिलाफ अत्याचार तो आम बात हो गई है। भारतीय जनता पार्टी लगातार इसके खिलाफ संघर्ष करते हुए जनता के हक के लिए सड़क पर रहेगी। आज गृह मंत्री निवास घेराव कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए रायपुर शहर के प्रत्येक मंडलों से भारी संख्या में कार्यकर्ताओं ने शिरकत की। गृहमंत्री निवास घेरने निकले कार्यकर्ताओं को बूढ़ापारा चौक पर पुलिस ने रोका। इसके विरोध स्वरूप 3500 कार्यकर्ताओं ने गिरफ्तारी दी।
सभा स्थल बूढ़ापारा चौक में भाजपा कार्यकर्ताओं की उत्साहित भीड़ को दुर्ग सांसद विजय बघेल, मोती साहू, सच्चिदानंद उपासने, पूर्व विधायक नंदलाल साहू,पूर्व जिलाध्यक्ष राजीव अग्रवाल, भाजयुमो प्रदेश अध्यक्ष अमित साहू,जिलाध्यक्ष राजेश पांडेय,महिला मोर्चा प्रदेश महामंत्री मीनल चौबे, शैलेन्द्री परगनिया,प्रफुल्ल विश्वकर्मा,सुभाष तिवारी,संजू नारायण सिंह,अमित मैसेरी, सुनील चौधरी, दिनेश शर्मा,योगी अग्रवाल, बजरंग खंडेलवाल, अशोक पांडेय, सूर्यकांत राठौर,राजीव मिश्रा, अकबर अली, तुषार चोपड़ा, होरीलाल देवांगन, जीतेन्द्र धुरंदर, ओमप्रकाश साहू, रविन्द्र सिंह ठाकुर, सालिक सिंह ठाकुर, महेश शर्मा, प्रवीण कुमार देवड़ा, मुकेश पंजवानी, अर्चना शुक्ला, गोरेलाल नायक, अनूप खेलकर,हंसराज विश्वकर्मा,अनिल सोनकर, भूपेंद्र ठाकुर, प्रीतम ठाकुर, बी.श्रीनिवास राव एवं भारतीय जनता पार्टी के समस्त कार्यकर्ता शामिल हुए।

20-10-2020
Video:  संजय श्रीवास्तव ने कहा-कांग्रेस पार्टी में मरवाही उपचुनाव को लेकर घबराहट

रायपुर। भाजपा प्रदेश प्रवक्ता संजय श्रीवास्तव ने कहा है कि मरवाही उपचुनाव के लिए कांग्रेस का यह कहना कि जेसीसीजे और अमित जोगी भारतीय जनता पार्टी का समर्थन कर रहे हैं। यह इस बात को सिद्ध करता है कि कांग्रेस पार्टी मरवाही उपचुनाव को लेकर घबराई हुई है। पहले से ही एक स्क्रीप्ट लिखने की कोशिश हो रही है। यदि कांग्रेस इस मरवाही चुनाव में हारेगी तो क्या कहना है। जबकि अमित जोगी स्पष्ट रूप से कह रहे हैं कि वो किसी पार्टी का समर्थन नहीं कर रहे हैं,वो केवल न्याय की मांग कर रहे हैं।

 

20-10-2020
भाजपा छोड़ कांग्रेस में जाने वाली महिलाओं ने विक्रम के समक्ष फिर किया भाजपा में प्रवेश

कांकेर। जिले के अंतागढ़ विकासखण्ड में कभी भाजपा छोड़ कांग्रेस के पाले जाना तो कभी कांग्रेस छोड़ भाजपा में जाना वाली राजनीति चल रही है। पिछले दिनों  करीब 2 माह पूर्व भारतीय जनता पार्टी का दामन छोड़ विधायक अनूप नाग के समक्ष कांग्रेस का हाथ थामने वाली महिलाओं ने आज फिर से पूर्व प्रदेश अध्यक्ष विक्रमदेव उसेंडी के समक्ष भाजपा की सदस्यता ग्रहण कर ली है। बता दें की विक्रमदेव उसेंडी आज अपने एक दिवसीय दौरे पर अंतागढ पहुंचे थे। इस दौरान वन विश्राम गृह में उनसे मिलने यमुना पटेल, कुमारी साहू, साधना निषाद  सहित अमित निसाद पहुंचे और भाजपा मे पुन: शामिल होकर घर वापसी की। कार्यक्रम में मण्डल अध्यक्ष जीतेंद्र मरकाम, रामबिलास गुप्ता,महेंद्र ठाकुर सतीश ठाकुर,नगर पंचायत अध्यक्ष राधेलाल नाग,उपाध्यक्ष अमल नरवास सहित पार्षद उपस्थित थे।

 

20-10-2020
Video: केन्द्र सरकार छत्तीसगढ़ को लाभ देना चाहती है तो बायो एथेनॉल प्लांट लगाए : रविन्द्र चौबे

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कृषि मंत्री रविन्द्र चौबे, खाद्य मंत्री अमरजीत भगत और ग्रामोद्योग मंत्री गुरू रूद्र कुमार की उपस्थिति में मंगलवार को पत्रकारवार्ता ली। पत्रकारवार्ता में मंत्री रविन्द्र चौबे ने कहा कि केन्द्र सरकार ने धान से एथेनॉल बनाने की स्वीकृति दी है। सोमवार को भी भाजपा कार्यसमिति की वर्चुअल मीटिंग में केन्द्रीय मंत्री धर्मेद्र प्रधान ने भी इस बात का जिक्र किया। धान पर आधारित बायो एथेनॉल की स्वीकृति केंद्र सरकार देने जा रही है। मंत्री रविन्द्र चौबे ने कहा कि इसके लिए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल बधाई के पात्र हैं। प्रदेश सरकार ने इसके लिए रास्ता निकाला कि कैसे अपने धान का उपयोग करें। सरकार ने गरीबी योजनाओं के लिए उपयोग किया, फिर भी हमारे पास पर्याप्त धान बचा। इस बार भी धान का उत्पादन अधिक होने वाला है। जब केंद्र सरकार छत्तीसगढ़ को सीधा लाभ देना चाहती है तो बायो एथेनॉल प्लांट लगाएं। केवल बात करने से, केवल घोषणा करने से कुछ  नहीं होगा। मंत्री चौबे ने कहा कि केन्द्र ने 20 लाख करोड़ के पैकेज की घोषणा की लेकिन 20 नया पैसा किसी को प्राप्त नहीं होने वाला।

 

20-10-2020
मरवाही उपचुनाव के लिए कांग्रेस पदाधिकारियों को मिली जिम्मेदारी, देखिए सूची

रायपुर। छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी की ओर से मरवाही उपचुनाव में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम के साथ समन्वय के लिए पदाधिकारी संलग्न किए गए हैं। इनमें प्रभारी महामंत्री रवि घोष, पीसीसी सचिव अमीन मेमन, मनीष श्रीवास्तव और यूथ कांग्रेस राष्ट्रीय प्रवक्ता सुबोध हरितवाल शामिल है। सुबोध हरितवाल ने इस जिम्मेदारी के लिए पीसीसी अध्यक्ष मोहन मरकाम का आभार माना है। विश्वास दिलाया है कि पूरे तन मन से कांग्रेस पार्टी को विजय दिलाने के लिए कार्य करेंगे।

20-10-2020
बड़े बड़े वादे कर सत्ता में आई कांग्रेस किसानों से कर रही छल : शशि पवार

धमतरी। जिले के ग्राम कंडेल, नगर पंचायत आमदी, ग्राम सिंगपुर के बाद भाजपा ने ग्राम कोलियारी में किसान चौपाल लगाई। इस दौरान संबोधित करते हुए जिलाध्यक्ष शशि पवार ने कहा कि किसानों से बड़े बड़े वादे कर राज्य में सत्ता में आई कांग्रेस सरकार किसानों के साथ लगातार छल कर रही है। किसान हमारे अन्नदाता हैं और उन्ही के आशीर्वाद से कोरोनाकाल में भी देश की 130 करोड़ जनता को खाने के लिये अन्न मिल पा रहा है। किसानों के साथ किसी भी प्रकार का अन्याय किसी कीमत में बर्दाश्त नहीं किया जायेगा। उन्होंने कहा कि धान की खरीदी 1 नवंबर से शुरू होनी चाहिए और उसका पूर्ण भुगतान नगद किया जाना चाहिए। साथ ही पिछले वर्ष की अंतर की राशि ब्याज सहित देने के साथ ही 2 वर्ष का बकाया बोनस देने का वादा छग सरकार को निभाना चाहिए। भाजपा के अन्य वरिष्ठ नेताओं और पदाधिकारियों ने भी राज्य सरकार को जमकर घेरा। साथ ही रेत के अवैध और अनियंत्रित उत्खनन का मुद्दा भी उठाया। कार्यक्रम के दौरान बड़ी संख्या में स्थानीय किसानों ने नए कृषि कानून को लेकर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और केंद्रीय कृषि मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर को पोस्टकार्ड लिखकर उनका धन्यवाद भी किया।

 

Please Wait... News Loading