GLIBS

22-01-2022
85 प्रत्याशियों की सूची जारी कई दलबदलुओं को भी मिला टिकट

नई दिल्ली/रायपुर। भाजपा की उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए 85 प्रत्याशियों की जारी एक और सूची कई दलबदलुओं को भी टिकट मिला है। सपा छोड़कर आए मुलायम सिंह के - समधी हरिओम यादव को सिरसागंज, बसपा से आए रामवीर उपाध्याय को सादाबाद व सपा से इस्तीफा देने वाले नितिन अग्रवाल को हरदोई से टिकट मिला है। कानपुर के पुलिस कमिश्नर पद से इस्तीफा देने वाले आईपीएस असीम अरुण कन्नौज से चुनाव लड़ेंगे। सबसे ज्यादा 60% टिकट पिछड़ा वर्ग व अनुसूचित वर्ग के उम्मीदवारों को मिले हैं। कांग्रेस से इस्तीफा देकर आईं रायबरेली विधायक अदिति सिंह सहित 15 महिला उम्मीदवारों को भी पार्टी ने टिकट दिया है। मंत्री सतीश महाना अपनी महाराजपुर सीट से लड़ेंगे।

22-01-2022
गोवा के पूर्व मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर के पुत्र लड़ेंगे निर्दलीय चुनाव

पणजी/रायपुर। गोवा के पूर्व मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर के बेटे उत्पल पर्रिकर ने शुक्रवार को घोषणा की कि वे पिता की परंपरागत विधानसभा सीट पणजी से निर्दलीय चुनाव लड़ेंगे। उत्पल ने भाजपा से इस्तीफा दे दिया है। भाजपा की गुरुवार को 34 उम्मीदवारों की जारी सूची में उत्पल का नाम नहीं था। पार्टी ने पणजी से वर्तमान विधायक बाबुश मोनसेरेट को ही फिर प्रत्याशी बनाया। भाजपा ने उत्पल को पणजी सीट से दावेदारी छोड़ने को कहा था, लेकिन उन्होंने इसे ठुकरा दिया।

22-01-2022
छग मेडिकल सर्विसेज कारपोरेशन अध्यक्ष डॉ. प्रीतमराम के लखनपुर प्रथम आगमन पर कांग्रेसियों ने किया भव्य स्वागत

रायपुर। छत्तीसगढ़ मेडिकल सर्विसेज कॉरपोरेशन अध्यक्ष बनने के बाद लुंड्रा विधायक डॉ. प्रीतमराम शुक्रवार की दोपहर लखनपुर कांग्रेस कार्यालय पहुंचे। यहां कांग्रेसियों ने ढोल नगाड़े के साथ आतिशबाजी करते हुए फूल माला पहनाकर उनका स्वागत किया। साथ ही छत्तीसगढ़ मेडिकल सर्विसेज कॉरपोरेशन के अध्यक्ष नियुक्त होने पर डॉ. प्रीतम राम को मंत्री प्रतिनिधि विक्रमादित्य सिंहदेव, कांग्रेस ब्लॉक अध्यक्ष कृपाशंकर गुप्ता, AiPC संभाग समन्वयक रणविजय सिंह देव, युवा कांग्रेस ब्लॉक अध्यक्ष वीरेंद्र सिंहदेव, सहित कांग्रेस पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं ने बधाई एवं शुभकामनाएं दी।

वहीं डॉ. प्रितमराम ने मीडिया से चर्चा करने के दौरान कहा कि छत्तीसगढ़ कांग्रेस सरकार ने जो मेडिकल सर्विसेज कॉरपोरेशन अध्यक्ष नियुक्त कर जो जिम्मेदारी दी है उस जिम्मेदारी का निर्वहन करते हुए छत्तीसगढ़ की जनता को दवाओं के साथ बेहतर स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराया जाएगा। मुख्यमंत्री हाट बाजार मोबाइल हेल्थ क्लीनिक के माध्यम से सप्ताहिक बाजार में लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधा मुहैया नहीं होने के सवाल पर डॉ. प्रितमराम ने कहा कि अगर ऐसा है। तो इसकी जानकारी लेते हुए व्यवस्थाएं दुरुस्त कराई जाएगी।

22-01-2022
सुप्रीम कोर्ट के खिलाफ विवादित बयान देने वाले नरसिंहानंद पर चलेगा मुकदमा

नई दिल्ली/रायपुर। अटॉर्नी जनरल के के वेणुगोपाल ने यति नरसिंहानंद के खिलाफ अवमानना का मुकदमा चलाने की अनुमति दे दी है। शाची नेल्ली नाम की याचिकाकर्ता ने बताया था कि नरसिंहानंद ने सुप्रीम कोर्ट की छवि बिगाड़ने वाला बयान दिया। नरसिंहानंद ने कहा था, 'मुझे संविधान पर भरोसा नहीं है। यह 100 करोड़ हिंदुओं के संहार के लिए बना है। जो भी सुप्रीम कोर्ट पर भरोसा करता है, एक दिन कुत्ते की मौत मरेगा।'

22-01-2022
मनिंदर कौर द्विवेदी होंगी स्वास्थ्य विभाग की प्रमुख सचिव

रायपुर‌। कोरोना संक्रमण के बीच राज्य सरकार ने स्वास्थ्य विभाग में बड़ा बदलाव किया है। विभाग के प्रमुख सचिव डॉ. आलोक शुक्ला के स्थान पर 1995 बैच की आईएएस अफसर मनिंदर कौर द्विवेदी को जिम्मेदारी दी गई है। वर्तमान में वे प्रमुख सचिव ग्रामोद्योग विभाग के साथ-साथ विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग की जिम्मेदारी संभाल रही थीं। अब इसकी जिम्मेदारी डॉ. शुक्ला के पास होगी। डॉ. शुक्ला का शेष प्रभार यथावत रहेगा। बता दें कि राज्य सरकार ने कुछ दिन पूर्व ही शुक्ला को बड़ी जिम्मेदारी देते हुए छत्तीसगढ़ रोजगार मिशन का सीईओ बनाया है।

22-01-2022
विधानसभा चुनाव के लिए बीजेपी का थीम सॉन्ग हुआ रिलीज, गाने में अयोध्या और मथुरा जैसे धार्मिक स्थलों को बनाया केंद्र

लखनऊ। बीजेपी ने यूपी चुनाव के लिए थीम सॉन्ग जारी किया। सीएम योगी आदित्यनाथ ने इसे जारी किया। चुनावी थीम सॉन्ग में धार्मिक नगरी अयोध्या, काशी और मथुरा को केंद्र बिंदु बनाया गया है। इसमें यूपी सरकार की उपलब्धि दिखाई गई है। भाजपा की इस नई प्रचार लाइन को योगी आदित्यनाथ ने जब पेश किया तो उस मौके पर केंद्रीय सूचना प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर भी मौजूद थे।

इसके अलावाप्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह, दोनों डिप्टी चीफ मिनिस्टर केशव मोर्या और दिनेश शर्मा भी उपस्थित थे। इस मौके पर योगी आदित्यनाथ ने सपा बसपा और कांग्रेस अन्य दलों पर जमकर प्रहार करते हुए कहा कि वंशवादी जातिवादी राजनीति का दौर अब खत्म हो चुका है।

 

 

22-01-2022
केंद्रीय मंत्री अमित शाह और राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा सहित योगी करेंगे इन शहरों का दौरा

यूपी। विधानसभा चुनाव को लेकर आज का दिन उत्तर प्रदेश के लिए राजनीतिक सरगर्मियों से भरा रहने वाला है। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा और सीएम योगी आदित्यनाथ पश्चिमी यूपी का दौरा करेंगे। सात चरणों में होने वाले विधानसभा चुनावों के पहले दो चरणों के लिए बीजेपी की रणनीति को मजबूत और अभेद्य बनाने के लिए बीजेपी के ये तमाम नेता आज पश्चिमी उत्तर प्रदेश (यूपी) में होंगे।

 विधानसभा चुनाव की तारीखों की घोषणा के बाद उत्तर प्रदेश में अपने पहले राजनीतिक कार्यक्रम में, गृह मंत्री अमित शाह पश्चिमी यूपी के कैराना में बीजेपी उम्मीदवार के लिए घर-घर प्रचार करेंगे. इसके बाद अमित शाह मेरठ में वरिष्ठ और प्रतिष्ठित नागरिकों के साथ बातचीत करेंगे। शाह का कैराना दौरा इसलिए महत्वपूर्ण है क्योंकि बीजेपी नेताओं ने 2017 के विधानसभा चुनावों के दौरान आरोप लगाया था कि धमकियों के कारण बड़ी संख्या में हिंदुओं को इस क्षेत्र से पलायन करने के लिए मजबूर किया गया था। इसके अलावा जेपी नड्डा पश्चिमी यूपी में संगठनात्मक बैठकें करेंगे। वो बिजनौर और गजरौला में कार्यकर्ताओं और पार्टी पदाधिकारियों के विधानसभा क्षेत्र में जाकर लोगों से मुलाकात करेंगे।

वहीं बात अगर सीएम योगी आदित्यनाथ की करें तो वो अलीगढ़ और बुलंदशहर में बीजेपी प्रत्याशियों के समर्थन में घर-घर जाकर प्रचार करेंगे। योगी अलीगढ़ और बुलंदशहर में प्रतिष्ठित और वरिष्ठ नागरिकों से बातचीत करेंगे। वहीं चुनाव आयोग शनिवार को तय करेगा कि रैलियों पर प्रतिबंध जारी रखना है या नहीं। उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, गोवा, पंजाब और मणिपुर में 8 जनवरी को चुनाव की तारीखों की घोषणा करते हुए, चुनाव आयोग ने 15 जनवरी तक रैलियों, रोड और बाइक शो और इस तरह के प्रचार कार्यक्रमों पर प्रतिबंध लगाने की घोषणा की थी।

 

 

 

21-01-2022
उप्र में गठबंधन की परिस्थिति आने पर इस बारे में विचार किया जाएगा: प्रियंका गांधी

नई दिल्ली।  कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाद्रा ने शुक्रवार को कहा कि उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के बाद सरकार गठन के लिए विपक्षी दलों के गठबंधन की परिस्थिति पैदा होने पर उनकी पार्टी इस पर विचार करेगी।

उन्होंने इसके साथ ही कहा कि अगर ऐसी किसी गठबंधन सरकार में कांग्रेस शामिल होगी तो उसकी एक शर्त युवाओं और महिलाओं से जुड़े अपने एजेंडे को लागू कराने की होगी।

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए ‘भर्ती विधान: युवा घोषणापत्र’ जारी करते हुए प्रियंका ने एक सवाल के जवाब में यह टिप्पणी की।

उनसे सवाल किया गया कि क्या चुनाव के बाद जरूरत पड़ने पर कांग्रेस विपक्ष के गठबंधन में शामिल होगी? इसके जवाब में कांग्रेस की उत्तर प्रदेश प्रभारी ने कहा, ‘‘अगर ऐसी परिस्थिति आती है तो इस बारे में विचार किया जाएगा। अगर ऐसी परिस्थिति आई तो हम यह चाहेंगे कि जो हमारा एजेंडा युवाओं और महिलाएं के लिए है वो पूरा हो। यह हमारी एक शर्त होगी।’’ 

उत्तर प्रदेश कांग्रेस की ओर से चेहरे के सवाल पर उन्होंने परोक्ष रूप से अपना हवाला देते हुए कहा, ‘‘क्या आपको कोई चेहरा नजर आ रहा है?’’ 

उन्होंने यह भी कहा कि उनके चुनाव लड़ने के बारे में फिलहाल कोई फैसला नहीं हुआ है।

प्रियंका ने कहा, ‘‘अगर यह तय होगा तो आप लोगों को पता चल जाएगा।’’ 

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव सात चरणों में होगा। पहले चरण का मतदान 10 फरवरी को और सातवें एवं अंतिम चरण का मतदान सात मार्च को होगा। 10 मार्च को नतीजे घोषित होंगे।

21-01-2022
आजादी के बाद कुछ गिने-चुने परिवारों के लिए नवनिर्माण किया गया - मोदी

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को कांग्रेस पर प्रहार करते हुए कहा कि एक समय था जब देश की धार्मिक और सांस्कृतिक पहचान पर बात करने में संकोच किया जाता था और आजादी के बाद कुछ गिने-चुने परिवारों के लिए नवनिर्माण किया गया जबकि उनकी सरकार उस ‘‘संकीर्ण सोच’’ को पीछे छोड़कर नए गौरव स्थलों का निर्माण कर रही है और उन्हें भव्यता दे रही है।

गुजरात में सोमनाथ मंदिर के निकट नवनिर्मित सर्किट हाउस का ऑनलाइन उद्घाटन करने के बाद प्रधानमंत्री ने अपने संबोधन में यह बात कही।

प्रधानमंत्री का यह बयान ऐसे समय में आया है जब विपक्षी दलों द्वारा सरकार पर विकास और पुनर्निर्माण के नाम पर ऐतिहासिक धरोहरों को मिटाने का आरोप लगाया जाता रहा है। इस कड़ी में ताजा मामला इंडिया गेट पर स्थित अमर जवान ज्योति की लौ को राष्ट्रीय समर स्मारक पर जल रही लौ के साथ विलय किए जाने का है। विपक्षी दलों ने कहा है कि यह कदम सैनिकों के बलिदान के इतिहास को मिटाने की तरह है।

कांग्रेस का नाम लिए बगैर प्रधानमंत्री ने कहा, ‘‘हमारे लिए हमारे पूर्वजों ने इतना कुछ छोड़ा है लेकिन एक समय था जब हमारी धार्मिक व सांस्कृतिक पहचान पर बात करने में संकोच किया जाता था। आजादी के बाद दिल्ली में कुछ गिने-चुने परिवारों के लिए ही नवनिर्माण हुआ लेकिन आज देश उस संकीर्ण सोच को पीछे छोड़ते हुए नए गौरव स्थलों का निर्माण कर रहा है और उन्हें भव्यता दे रहा है।’’ 

प्रधानमंत्री ने इस कड़ी में दिल्ली में बने आंबेडकर राष्ट्रीय स्मारक, रामेश्वरम में बने एपीजे अब्दुल कलाम स्मारक और नेताजी सुभाष चंद्र बोस और श्यामजी कृष्ण वर्मा जैसे स्वतंत्रता सेनानी से जुड़े हुए स्थानों को विकसित किए जाने का उल्लेख किया।

उन्होंने कहा कि आदिवासी समाज के गौरवशाली इतिहास को सामने लाने के लिए देशभर में आदिवासी संग्रहालय भी बनाए जा रहे हैं।

उन्होंने कहा कि गुजरात के केवड़िया में बना ‘‘स्टेच्यू ऑफ यूनिटी’’ पूरे देश का गौरव है और कोरोना के बावजूद अब तक 75 लाख से ज्यादा लोग इसके दर्शन कर चुके है।

उन्होंने कहा, ‘‘ये नवनिर्मित स्थल हमारे सामर्थ्य के परियाचक हैं। आने वाले समय में यह प्रयास पर्यटन के साथ, हमारी पहचान को भी नहीं ऊंचाई देंगे।’’ 

प्रधानमंत्री ने इस अवसर पर ‘‘वोकल फोर लोकल’’ अभियान का भी उल्लेख किया और कहा कि इसका मतलब सिर्फ दीवाली में स्थानीय दीये खरीदने भर से नहीं है।

उन्होंने कहा कि पर्यटन भी उनके इस अभियान का हिस्सा है।

उन्होंने देशवासियों से आग्रह किया कि विदेश घूमने जाने से पहले वह देश के कम से कम 15 से 20 पर्यटन व तीर्थ स्थलों का दौरा करें।

उन्होंने कहा, ‘‘पहले आप हिंदुस्तान को अनुभव करें। बाद में दुनिया के किसी और देश में जाएं। जीवन के हर क्षेत्र में हमें इसे अंगीकार करना ही होगा। देश को समृद्ध बनाना है तो देश के नौजवानों के लिए अवसर तैयार करने हैं तो इस रास्ते पर चलना होगा।’’ 

प्रधानमंत्री ने कहा कि आजादी के 75वें साल में उनकी सरकार ऐसे भारत का संकल्प ले रही है, जिसमें जो जितना समृद्ध होगा उतनी ही अपनी परंपराओं से जुड़ा होगा।

उन्होंने कहा, ‘‘जो जितना आधुनिक होगा, उतना ही अपनी परंपराओं से जुड़ा होगा। हमारे तीर्थ स्थान, हमारे पर्यटन स्थल इस नए भारत में रंग भरने का काम करते हैं। यह हमारी विरासत और विकास दोनों के प्रतीक बनेंगे।’’ 

अपने संबोधन में प्रधानमंत्री ने कहा कि दुनिया के कई देशों की अर्थव्यवस्था में पर्यटन के योगदान की चर्चा होती है लेकिन भारत के तो हर राज्य में ऐसी ही अनंत संभावनाएं हैं।

उन्होंने कहा, ‘‘आप किसी भी राज्य का नाम लीजिए। गुजरात का नाम लेंगे तो सोमनाथ, द्वारका, धोलावीरा जैसे स्थान मन में आते हैं। उत्तर प्रदेश का नाम लेंगे तो अयोध्या, मथुरा, काशी, कुशीनगर, विंध्याचल छा जाते हैं। सामान्य जन का हमेशा मन करता है, इन सब जगह पर जाने का अवसर मिले।’’ 

उन्होंने कहा कि इसी प्रकार उत्तराखंड का नाम लेते ही बद्रीनाथ और केदारनाथ तथा हिमाचल प्रदेश का नाम लेने पर ज्वाला देवी जैसे तीर्थाटन और पर्यटन के कई केंद्र मन में आ जाएंगे।

उन्होंने कहा, ‘‘ये स्थान हमारी राष्ट्रीयता का... एक भारत, श्रेष्ठ भारत की भावना का प्रतिनिधित्व करते हैं। इन स्थलों की यात्रा हमारी राष्ट्रीय एकता को बढ़ाती है। इनके विकास से हम एक बड़े क्षेत्र के विकास को गति दे सकते हैं।’’ 

प्रधानमंत्री ने कहा कि पिछले सात साल में देश ने पर्यटन की संभावनाओं को साकार करने के लिए लगातार काम किए हैं।

उन्होंने कहा, ‘‘पर्यटन केंद्रों का विकास आज केवल सरकारी योजना का हिस्सा भर नहीं है बल्कि जनभागीदारी और सांस्कृतिक विकास है।’’ 

मोदी ने कहा कि धार्मिक या धरोहर स्थलों का विकास उन क्षेत्रों की अर्थव्यवस्था को गति प्रदान करेगा, जहां वे स्थित हैं। 

ज्ञात हो कि इस नए सर्किट हाउस का निर्माण 30 करोड़ रुपये की लागत से किया गया है और यह सोमनाथ मंदिर के निकट स्थित है। इसमें सभी प्रकार की आधुनिक सुविधाएं उपलब्ध हैं, जिनमें वीआईपी और डीलक्स कमरे, सम्मेलन कक्ष और सभागृह शामिल हैं। कमरों की बनावट ऐसी है कि वहीं से लोग समुद्र का नजारा भी देख सकते हैं।

21-01-2022
कांग्रेस को बड़ा झटका, दो नेताओं ने दिया इस्तीफा, उम्मीदवारों के चयन से हुए नाराज

बुलंदशहर। यूपी विधानसभा चुनाव से ठीक पहले बुलंदशहर में कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है। शुक्रवार को कांग्रेस के दो नेताओं ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया है। बताया जा रहा है दोनों ने उम्मीदवार के चयन से नाराज होकर ऐसा किया है। यूपी में विधानसभा चुनाव सात चरणों में 10 फरवरी से 7 मार्च के बीच होने हैं। वोटों की गिनती और परिणाम की घोषणा 10 मार्च को होनी है। चुनावों से ठीक पहले बुलंदशहर जिले में कांग्रेस के अध्यक्ष व राज्य कांग्रेस समिति के सदस्य शिवपाल सिंह और जिले के महासचिव राहुल वाल्मिकी ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया है। सूचना के अनुसार, शिवपाल सिंह अनूपशहर विधानसभा सीट से टिकट पाना चाहते थे, लेकिन कांग्रेस ने वहां से बसपा छोड़कर आए दो बार के विधायक चौधरी गजेंद्र सिंह को अपना उम्मीदवार बनाया। गजेंद्र सिंह पिछले महीने राष्ट्रीय लोकदल में शामिल हुए थे, लेकिन पार्टी से टिकट नहीं मिलने के बाद कांग्रेस के पाले में आ गए।

21-01-2022
कांग्रेस का ‘युवा घोषणापत्र’ समेत नया उत्तर प्रदेश बनाने का वादा

नई दिल्ली। कांग्रेस ने उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए शुक्रवार को युवाओं के लिए घोषणापत्र जारी किया जिसमें 20 लाख रोजगार देने, भर्ती प्रक्रिया को दुरूस्त करने और शिक्षा का बजट बढ़ाने समेत कई वादे किए गए हैं। 

पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और महासचिव प्रियंका गांधी वाद्रा ने ‘भर्ती विधान: युवा घोषणापत्र’ जारी करने के साथ ही यह भी कहा कि युवाओं के जोश और शक्ति के साथ ‘नया उत्तर प्रदेश’ बनाना है। 

कांग्रेस ने इस मौके पर ‘मेरा जॉब मुझे मिलेगा...’ नामक गीत भी जारी किया।

राहुल गांधी ने कहा, ‘‘यह घोषणापत्र सिर्फ कांग्रेस की आवाज नहीं है। इसे बनाने के लिए उप्र के युवाओं से बात की है। उनके विचार इसमें डाले गए हैं।’’ 

उन्होंने जोर देकर कहा कि उत्तर प्रदेश के युवाओं को एक दृष्टिकोण की जरूरत है और यह दृष्टिकोण उन्हें सिर्फ कांग्रेस पार्टी दे सकती है।

राहुल गांधी ने कहा, ‘‘हम नफरत नहीं फैलाते हैं। हम लोगों को जोड़ने का काम करते हैं। हम युवाओं के जोश और शक्ति के साथ एक नया उत्तर प्रदेश बनाना चाहते हैं।’’ 

कांग्रेस की उत्तर प्रदेश प्रभारी प्रियंका गांधी ने कहा, ‘‘भर्ती विधान को बनाने के लिए युवाओं से बात की गई। इसे भर्ती विधान इसलिए कहा गया है क्योंकि उत्तर प्रदेश में सबसे बड़ी समस्या भर्ती की है। युवा योग्य हैं, लेकिन उन्हें नौकरियां नहीं मिलती। बड़ी बड़ी घोषणएं होती हैं, लेकिन यह नहीं बताया जाता कि रोजगार कैसे दिए जाएंगे।’’ उन्होंने कहा कि भर्ती की प्रक्रिया को दुरुस्त किया जाएगा, आरक्षण संबंधी ‘घोटाले’ को रोकने का कड़ा प्रावधान होगा और विश्वविद्यालयों में छात्र संघ के चुनावों को बहाल किया जाएगा।

प्रियंका गांधी ने घोषणा की कि सरकार बनने पर उत्तर प्रदेश में 20 लाख रोजगार दिए जाएंगे जिनमें 40 प्रतिशत यानी आठ लाख रोजगार महिलाओं को दिए जाएंगे। 

उनके मुताबिक, 12 लाख नौकरियां सरकार में है जो खाली है और इनके लिए सरकार के पास पैसा भी है तथा आठ लाख रोजगार युवाओं के हुनर एवं उद्यमिता पर आधारित होंगे जिनके लिए सरकार सहयोग देगी। 

उन्होंने कहा, ‘‘पुलिस सेवा, संस्कृत के शिक्षक, उर्दू के शिक्षक, आंगनबाड़ी, आशा आदि में खाली सभी पदों को भरा जाएगा। भर्ती प्रक्रिया में नौजवानों का जो भरोसा टूटा है, उसे बहाल करने के लिए सभी परीक्षाओं के फॉर्म के लिए शुल्क माफ होंगे और बस, ट्रेन यात्रा मुफ्त होगी।’’ 

प्रियंका गांधी ने ‘युवा घोषणापत्र’ किए वादों का का उल्लेख करते हुए कहा, ‘‘एक परीक्षा कैलेंडर जारी होगा, जिसमें भर्ती विज्ञापन, परीक्षा, नियुक्ति की तारीखें दर्ज होंगी और इसका उल्लंघन होने पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। आरक्षण के घोटाले को रोकने के लिए हर भर्ती के लिए सामाजिक न्याय पर्यवेक्षक होंगे।’’ 

उन्होंने घोषणा की, ‘‘उत्तर प्रदेश सरकार ने शिक्षा का बजट कम किया है। हमारी सरकार आएगी तो यह बजट बढ़ाया जाएगा और सभी कॉलेज व विश्वविद्यालयों को उन्नत किया जाएगा। अच्छी शिक्षा भविष्य निर्माण के लिए सबसे जरूरी है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘युवाओं के रोजगार के लिए नये अवसर प्रदान किये जाएंगे। मल्लाहों और निषादों के लिए विश्वस्तरीय संस्थान बनाया जाएगा जिसमें उन्हें प्रशिक्षण दिया जाएगा। अति पिछड़े समुदाय के युवाओं को अपना व्यवसाय शुरू करने के लिए एक फीसदी ब्याज की दर से कर्ज दिया जाएगा।’’ 

कांग्रेस महासचिव ने यह भी कहा, ‘‘प्रदेश के युवाओं को नशे के जाल से निकालने के लिए एक सेंटर खोला जाएगा जो युवाओं की काउंसिलिंग करेगा। इसके अलावा सांस्कृतिक क्षेत्र में युवाओं को बढ़ावा दिया जाए। हम आपके भविष्य की ठोस बात करना चाहते हैं।’’ उन्होंने भाजपा और समाजवादी पार्टी का नाम लिए बगैर कहा, ‘‘आज चुनाव में जाति पर आधारित और सांप्रदायिक प्रचार किया जा रहा है। हम चाहते हैं कि सकारात्मक बातें हों और युवाओं के भविष्य की बातें हों ताकि उनका भविष्य उज्जवल हो सके।’’ 

प्रियंका गांधी ने कहा, ‘‘मैं बार बार कह रही हूं कि हमारी विचारधारा अलग है। हम प्रगति और जनता की भलाई के लिए काम करेंगे। हम ध्रुवीकरण की राजनीति में शामिल नहीं हैं।’’ 

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव सात चरणों में होगा। पहले चरण का मतदान 10 फरवरी को और सातवें एवं अंतिम चरण का मतदान सात मार्च को होगा। 10 मार्च को नतीजे घोषित होंगे।

21-01-2022
मणिपुर आज अहम पड़ाव पर, पीछे मुड़कर नहीं देखना अब: पीएम मोदी

मणिपुर। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मणिपुर की स्थापना के मणिपुर आज अहम पड़ाव पर, पीछे मुड़कर नहीं देखना अब: मोदी दी और कहा कि इस सफर में कई उतार-चढ़ाव के बाद पूर्वोत्तर का यह राज्य एक ‘‘अहम पड़ाव’’ पर पहुंचा है, जहां से उसे पीछे मुड़कर नहीं देखना है।

मणिपुर में विधानसभा चुनाव से कुछ दिन पहले एक वीडियो संदेश में प्रधानमंत्री ने राज्य की जनता से यह अपील भी की कि जिन ताकतों ने लंबे समय से राज्य के विकास को अवरुद्ध किया, उन्हें फिर से सिर उठाने का वे कोई मौका ना दें।

उन्होंने कहा, ‘‘50 वर्ष की यात्रा के बाद आज मणिपुर एक अहम पड़ाव पर खड़ा है। मणिपुर ने तेज विकास की तरफ सफर शुरू कर दिया है। जो रुकावटें थीं, वो अब हट गई हैं, यहां से अब हमें पीछे मुड़कर नहीं देखना है।’’ 

प्रधानमंत्री ने कहा कि देश की आजादी का 75वां वर्ष चल रहा है और यहां से इसके 100 वर्ष पूरा होने तक 25 वर्ष का जो सफर है, वह मणिपुर के लिए भी बहुत अहम है।

उन्होंने कहा, ‘‘जिन ताकतों ने लंबे समय तक मणिपुर के विकास को रोके रखा, उन्हें फिर सिर उठाने का अवसर ना मिले, यह हमें याद रखना है। आने वाले दशक के लिए हमें नए सपनों-नए संकल्पों के साथ चलना है।’’ 

मोदी ने मणिपुर की युवा जनता से आग्रह किया कि विकास के ‘डबल इंजन’ के साथ मणिपुर को तेज गति से आगे बढ़ाने में वे अपना योगदान दें।

प्रधानमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार पूर्वोत्तर को ‘एक्ट ईस्ट’ नीति का केंद्र बनाने की दूरदृष्टि के साथ आगे बढ़ रही है और इसमें मणिपुर की भूमिका अहम है।

उन्होंने कहा कि मणिपुर ने बीते 50 साल में बहुत उतार-चढ़ाव देखे हैं और हर तरह के समय को सभी मणिपुर वासियों ने एकजुटता के साथ जीया है तथा हर परिस्थिति का सामना किया है।

उन्होंने कहा, ‘‘आपको (मणिपुर की जनता) पहली पैसेंजर ट्रेन के लिए 50 साल का इंतजार करना पड़ा। इतने दशकों बाद रेल का इंजन मणिपुर पहुंचा है, यही डबल इंजन की सरकार का कमाल है।’’ 

खेल के क्षेत्र में मणिपुर के योगदान का उल्लेख करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि आज मणिपुर अपना सामर्थ्य राज्य के विकास में लगा रहा है और यहां के युवाओं का सामर्थ्य विश्व पटल पर निखर कर आ रहा है।

उन्होंने कहा, ‘‘आज जब मणिपुर के बेटे-बेटियों का खेल के मैदान पर जज्बा और जुनून हम सभी देखते हैं तो पूरे देश का माथा गौरव से ऊंचा हो जाता है।’’ 

प्रधानमंत्री ने कहा कि मणिपुर एक राज्य के रूप में आज जिस मुकाम पर पहुंचा है, उसके लिए बहुत लोगों ने अपना तप और त्याग किया है।

उन्होंने कहा, ‘‘मणिपुर शांति का हकदार है। बंद-ब्लॉकेड से मुक्ति का हकदार है। यह एक बहुत बड़ी आकांक्षा मणिपुरवासियों की रही है। आज मुझे खुशी है कि बीरेन सिंह (मुख्यमंत्री) के नेतृत्व में मणिपुर के लोगों ने ये हासिल किया है।’’ 

Please Wait... News Loading