GLIBS

22-01-2021
नक्सल मोर्चों में शहीद हुए 38 जवानों के परिजनों को किया जाएगा सम्मानित

धमतरी। गणतंत्र दिवस पर नक्सल मोर्चों में मुठभेड़ के दौरान शहीद हुए जिले के पुलिस जवानों के परिजनों को पुलिस विभाग के अधिकारियों द्वारा उनके घर पहुंच शॉल और श्रीफल से सम्मानित किया जाएगा। मिली जानकारी के मुताबिक आमगांव के शहीद निरीक्षक विनोद कुमार ध्रुव, ग्राम बरबांधा के देवनाथ नागवंशी, उपनिरीक्षक कोमलसिंह साहू के परिजनों को सम्मानित किया जाएगा। इसी तरह ग्राम सातबहना के प्रधान आरक्षक सियाराम ध्रुव, ग्राम पदमपुर के शिवप्रसाद शर्मा, खड़पथरा के देवनाथ नाग, गट्टासिल्ली के महावीर मरकाम, ग्राम- मल्हारी के विरेन्द्र सोम, दानीटोला वार्ड धमतरी के चंद्रशेखर रंगारी तथा ग्राम कोकड़ी के प्रधान आरक्षक नकुल ध्रुव के परिजनों को सम्मानित किया जाएगा।इसी तरह कोटपारा नगरी के शहीद आरक्षक हेमन्त सोम, लाइनपारा नगरी निवासी धर्मेन्द्र साहू, गागरा के संतोष कुमार नेताम, कमईपुर निवासी राधेश्याम नागवंशी, ग्राम-सांकरा के नोहरू राम नेताम, ग्राम-संबलपुर के नारायण सोरी, नारधा के ललित दीवान, बाजारपारा नगरी के प्यारेलाल सोम, छिपली के खिलावन बिसेन, ग्राम-फरसियां के रतनलाल मरकाम एवं ग्राम-जैतपुरी के शहीद आरक्षक शिवकुमार कोर्राम के परिजनों को सम्मानित किया जाएगा।

ग्राम-पोड़ागांव के शहीद आरक्षक श्री विजय सूर्याकर, ग्राम-सेमरा के धनराज ध्रुव, विश्रामपुर के भूषण मंडावी, ग्राम-रावनसिंघी के वासुदेव ध्रुव, नवागांव-श्यामतराई के रामेश्वर ध्रुव, जंगलपारा नगरी के अमजद खान, पण्डरीपानी के खगेन्द्र कुमार कश्यप, आमगांव के चन्द्रहास ध्रुव, ग्राम-मारागांव के छबिलाल कांशी, ग्राम-भीतररास के नवल किशोर शांडिल्य, ग्राम-भैंसासांकरा के आदित्य साहू, कौहाबाहरा के निर्मल कुमार नेताम, परेवाडीह के टिकेश्वर कुमार धु्रव तथा ग्राम डोकाल के शहीद आरक्षक तीला राम ठाकुर और ग्राम छिंदभर्री के शहीद सहायक आरक्षक कैलाश नेताम के परिजनों को सम्मानित किया जाएगा। इसके अलावा ग्राम-अर्जुनी के शहीद एसपीओ तीरण सिंह मांझी एवं बजरंग चौक नगरी के शहीद अभिषेक गोलछा के परिजनों को सम्मानित किया जाएगा।

 

22-01-2021
यूपीएससी में आखिरी मौका गंवा देने वाले अभ्यर्थियों को एक और अवसर देने के पक्ष में नहीं केंद्र सरकार

 

नई दिल्ली। केंद्र सरकार ने शुक्रवार को उच्चतम न्यायालय को बताया कि वह पिछले साल महामारी के कारण यूपीएससी द्वारा आयोजित परीक्षा में शामिल नहीं होने से अपना आखिरी मौका गंवा देने वाले अभ्यर्थियों को एक और अवसर देने के पक्ष में नहीं है। न्यायमूर्ति एएम खानविलकर के नेतृत्व वाली पीठ ने कार्मिक और प्रशिक्षण विभाग (डीओपीटी) की तरफ से पेश अतिरिक्त सॉलिसिटर जनरल एसवी राजू के निवेदन का संज्ञान लिया। अतिरिक्त सॉलिसिटर जनरल ने पीठ से कहा, ‘‘हम एक और अवसर देने को तैयार नहीं है। मुझे हलफनामा दाखिल करने का समय दीजिए। उन्होंने कहा कि मुझे गुरूवार रात निर्देश मिला है कि हम इस पर तैयार नहीं हैं।’’ पीठ में न्यायमूर्ति बीआर गवई और न्यायमूर्ति कृष्ण मुरारी भी थे। पीठ ने सिविल सेवा की अभ्यर्थी रचना सिंह की याचिका को 25 जनवरी के लिए सूचीबद्ध किया है और केंद्र से एक हलफनामा दाखिल करने को कहा है।

इससे पहले, सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने पीठ को बताया था कि सिविल सर्विसेज के ऐसे अभ्यर्थियों को सरकार एक और मौका देने पर विचार कर रही है। शीर्ष अदालत ने पिछले साल 30 सितंबर को संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) की प्रारंभिक परीक्षा को स्थगित करने से इनकार कर दिया था। देश में कोविड-19 महामारी और कई हिस्सों में बाढ़ के कारण परीक्षा को टालने का अनुरोध किया गया था। यह परीक्षा चार अक्टूबर को हुई थी।हालांकि, न्यायालय ने केंद्र सरकार और संघ लोक सेवा आयोग से उम्र सीमा के कारण अपना आखिरी मौका गंवा देने वाले अभ्यर्थियों को एक और अवसर देने पर विचार करने को कहा था। तब पीठ की जानकारी दी गई थी कि इस संबंध में औपचारिक फैसला केवल डीओपीटी ही ले सकता है। 

 

22-01-2021
प्रदेश में समर्थन मूल्य पर मक्का खरीदी 31 मई तक, 1.21 लाख किसानों ने कराया पंजीयन

रायपुर। छत्तीसगढ़ में खरीफ विपणन वर्ष 2020-21 में समर्थन मूल्य पर मक्का की खरीदी बीते एक दिसंबर से जारी है। राज्य में अब तक 835 क्विंटल मक्का की खरीदी हो चुकी है। किसानों को मक्का का 15 लाख 45 हजार 675 रुपए भुगतान किया गया है। राज्य में 31 मई तक मक्का की खरीदी होगी । मक्का बेचने के लिए 1 लाख 20 हजार 990 किसानों ने अपना पंजीयन कराया है। राज्य के पंजीकृत किसानों से 1850 रुपए प्रति क्विंटल की दर से प्रति एकड़ 10 क्विंटल मक्का की खरीदी की जाएगी। राज्य के कांकेर जिले के 5 हजार 868 किसानों से 119.50 क्विंटल मक्का की खरीदी की गई है। इसी प्रकार बालोद़ जिले के 345 किसानों से 555 क्विंटल, राजनांदगांव के 2 हजार 402 किसानों से 39 क्विंटल, गरियाबंद जिले के 5 हजार 846 किसानों से 24.50 क्विंटल और बलरामपुर जिले के 19 हजार 863 किसानों से 97.50 क्विंटल मक्का की खरीदी की गई है।

22-01-2021
दंतेवाड़ा की महिलाओं ने साबित कर दिया वे पुरुषों से कम नहीं, सीमेंट पोल निर्माण में आजमाया हाथ और हुई सफल

रायपुर/दंतेवाड़ा। महिलाएं साबित कर रही है की वे भी पुरूष प्रधान व्यवसायों में दखल देकर उसमें लाभ प्राप्त कर सकती है। जिला प्रशासन दन्तेवाड़ा के अभिनव पहल को रेखांकित करती स्व-सहायता समूह की महिलाओं ने सीमेंट पोल के निर्माण के क्षेत्र में हाथ आजमाया और वे सफल हो रही है। राष्ट्रीय ग्रामीण अजीविका मिशन के माध्यम से जिले की 7 महिला स्व-सहायता समूह की महिलाएं अब सीमेंट पोल का निर्माण कर रही है और अच्छा खासा मुनाफा कमा रही है। उल्लेखनीय है कि जिले के सभी पंचायतों में देवगुड़ी एवं गोठान का निर्माण कार्य चल रहा है, इन देवगुडियों तथा गोठानों में चहार दिवारी के लिए सीमेंट पोल की आवश्यकता पड़ रही है। अब इस फेंसिंग कार्य के लिए सीमेंट पोल का बाहर से क्रय न करते हुए पंचायतों के महिला स्व-सहायता समूह से क्रय किया जा रहा है।

सीमेंट पोल निर्माण के लिए राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के माध्यम से जिले के चारों विकासखण्डों से 7 महिला स्व-सहायता समूहों का चयन किया गया है। इन्हें ग्रामीण अभियांत्रिकी विभाग के इंजीनियर्स की मदद से प्रशिक्षण दिया गया है। ये महिला स्व-सहायता समूह इंजीनियरों की देख-रेख में निर्धारित मापदण्डों के अनुसार सीमेंट पोल निर्माण का कार्य रही है। इन समूहों से 1 पोल 300 रुपए में क्रय किया जाता है। पंचायतों में जो भी शासकीय कार्य होते हैं यदि उनमें सीमेंट पोल की आवश्यकता हो तो जरूरत के हिसाब से इन समूहों को आर्डर देते हैं ताकि समय पर सीमेंट पोल उपलब्ध हो सकें। इस कार्य में जिले की दिशा ग्राम संगठन टेकनार, सीता महिला ग्राम संगठन गंजेनार, रानी लक्ष्मी ग्राम संगठन गाटम, दीपक महिला ग्राम संगठन मैलावाड़ा, जागृति महिला क्लस्टर संगठन पेन्टा, हुंगा बेला ग्राम संगठन बिंजाम, दन्तेश्वरी स्व-सहायता समूह नागफनी (गीदम) शामिल है। अब तक इन महिला स्व-सहायता समूह से 5 हजार 7 सौ 98 सीमेंट पोल का क्रय विभिन्न माध्यमों से किया गया है। परिणामस्वरूप 17 लाख 39 हजार 4 सौ की राशि समूह को प्राप्त हुई है। स्व-सहायता समूह के इस गतिविधी से 80 परिवार लाभांवित हो रहे हैं, जो कि महिला सशक्तिकरण की ओर बढ़ते हुए कदम है।

22-01-2021
दुर्ग नगर निगम : कमिश्नर ने की कार्रवाई, बाजार प्रभारी को हटाया

दुर्ग। दुर्ग नगर निगम के बहुचर्चित पार्किंग घोटाले की गाज वर्तमान बाजार प्रभारी थान सिंह पर गिरी है। उनको दुर्ग कमिश्नर ने बाजार विभाग प्रभारी से हटा दिया है। उनकी जगह नारायण सिंह यादव को नया बाजार प्रभारी बनाया गया है। यह आदेश दुर्ग निगम कमिश्नर इंद्रजीत बर्मन ने जारी किया है, जो तत्काल प्रभाव से लागू हो गया है।

22-01-2021
प्रमोशन के बाद 7 आईएएस अधिकारियों की नई जगह हुई पोस्टिंग, आदेश जारी

रायपुर। राज्य सेवा के 7 अधिकारियों को छत्तीसगढ़ शासन ने भारतीय प्रशासनिक सेवा में पदोन्नत करते हुए नई जगह पोस्टिंग दी है। आदेश के मुताबिक चंदन संजय त्रिपाठी, अपर संचालक, उच्च शिक्षा बनाए गए हैं। प्रियंका महोबिया, अपर कलेक्टर, कोरबा बनायी गई हैं। डॉ.फरिहा आलम, सीईओ जिला पंचायत बलौदाबाजार-भाटापारा। रोक्तिमा यादव को उप सचिव सामान्य प्रशासन विभाग और वन विभाग के उप सचिव का भी अतिरिक्त प्रभार दिया गया है। दीपक कुमार अग्रवाल, उप सचिव, राज्य निर्वाचन आयोग और तूलिका प्रजापति, सीईओ बलरामपुर-रामानुजगंज बनाईं गईं हैं। इनके अलावा जयश्री जैन को उप सचिव पद पर मुख्य सचिव के ऑफिस में जिम्मेदारी दी गई है। इन सभी अधिकारियों को भारतीय प्रशासनिक सेवा में 7 जनवरी को नियुक्त किया गया था।

22-01-2021
गणतंत्र दिवस परेड में छत्तीसगढ़ की झांकी का प्रेस प्रिव्यू हुआ, छत्तीसगढ़ के लोक कलाकारों ने मांदरी नृत्य किया

रायपुर। गणतंत्र दिवस पर राजपथ पर निकलने वाली राज्यों की झांकियों का आज नई दिल्ली की राष्ट्रीय रंगशाला में प्रेस प्रीव्यू आयोजित किया गया। प्रेस प्रीव्यू के दौरान छत्तीसगढ़ के जनजातीय क्षेत्रों में प्रयुक्त होने वाले लोक वाद्यों पर आधारित झांकी को राष्ट्रीय मीडिया के सामने प्रस्तुत किया गया। इस दौरान छत्तीसगढ़ की झांकी के समक्ष छत्तीसगढ़ के लोक कलाकारों ने मांदरी नृत्य का प्रदर्शन किया। गणतन्त्र दिवस पर इस बार नई दिल्ली के राजपथ पर छत्तीसगढ़ के लोक संगीत का वाद्य वैभव दिखेगा। छत्तीसगढ़ के जनजातीय क्षेत्रों में प्रयुक्त होने वाले लोक वाद्यों को उनके सांस्कृतिक परिवेश के साथ प्रदर्शित किया जा रहा है। राज्य शासन के जनसंपर्क विभाग द्वारा तैयार की जा रही इस झांकी में छत्तीसगढ़ के दक्षिण में स्थित बस्तर से लेकर उत्तर में स्थित सरगुजा तक विभिन्न अवसरों पर प्रयुक्त होने वाले लोक वाद्य शामिल किए गए हैं। इनके माध्यम से छत्तीसगढ़ के स्थानीय तीज त्योहारों और रीति रिवाजों में निहित सांस्कृतिक मूल्यों को भी रेखांकित किया गया है। झांकी के ठीक सामने वाले हिस्से में एक जनजाति महिला बैठी है जो बस्तर का प्रसिद्ध लोक वाद्य धनकुल बजा रही है। धनकुल वाद्य यंत्र, धनुष, सूप और मटके से बना होता है। जगार गीतों में इसे बजाया जाता है। झांकी के मध्य भाग में तुरही है। ये फूँक कर बजाया जाने वाला वाद्य यंत्र है, इसे मांगलिक कार्यों के दौरान बजाया जाता है। तुरही के ऊपर गौर नृत्य प्रस्तुत करते जनजाति हैं। झांकी के अंत में माँदर बजाता हुआ युवक है। झांकी में इनके अलावा अलगोजा, खंजेरी, नगाड़ा, टासक, बांस बाजा, नकदेवन, बाना, चिकारा, टुड़बुड़ी, डांहक, मिरदिन, मांडिया ढोल, गुजरी, सिंहबाजा या लोहाटी, टमरिया, घसिया ढोल, तम्बुरा को शामिल किया गया है।

 

22-01-2021
खाद्य विभाग की बड़ी कार्रवाई, 1599 सिलेंडर और 25964 लीटर बॉयो डीजल जब्त

रायपुर। खाद्य विभाग रायपुर की दबिश में न्यू नाइस बेकरी बोरियाखुर्द और शांति एचप गैस एजेंस न्यू राजेन्द्र नगर सहित गणेश बॉयो फ्यूल्स, रावांभांठा में 1599 गैस सिलेंडर और 25964 लीटर तथाकथित बॉयो डीजल जब्त किया गया है। व्यवसायिक गैस सिलेंडर के कारोबार में गैस कंपनियों की ओर से अवैध रूप से बिना सुरक्षा निधि जमा किए एसव्ही व्हाउचर बनाने की शिकायत मिली थी। साथ ही गैस कार्ड दिए बिना कारोबारियों को व्यवसायिक सिलेंडर दिए जाने की बात सामने आई थी। इसी प्रकार डीजल के स्थान पर आयतित तरल उत्पाद का नाम बदलकर बॉयो डीजल विक्रय करने की भी शिकायत मिली थी। रायपुर कलेक्टर डॉ. एस. भारतीदासन के निर्देश पर संबंधित फर्मों की जांच कर कार्रवाई की गई। खाद्य नियंत्रक तरूण राठौर के निर्देश पर टीम ने संबंधित फर्मों की जांच की। मेसर्स न्यू नाइस बेकरी में 56 हिन्दुस्तान पेट्रोलियम कंपनी के 19 किलो वाले गैस सिलेंडर ओवन को चलाने के लिए लगाए गए थे। मौके पर 52 भरे हुए व्यवसायिक सिलेंडर मिले। साथ ही 96 खाली सिलेंडर मिले। नियमत: गैस कंपनी को खाली गैस सिलेंडर कारोबार स्थल पर नहीं छोड़ने का नियम है। न्यू नाइस बेकरी में एसव्ही व्हाउचर, गैस कार्ड नहीं पाया गया। एक बिल जरूर पाया गया, जो वर्ष 2019 का था। इस आधार पर 206 सिलेंडर को जप्त किया गया। खाद्य विभाग की टीम ने शांति एचपी गैस एजेंसी न्यू राजेन्द्र नगर रायपुर में छापा मारा। एजेंसी की ओर से मेसर्स न्यू नाइस बेकरी से संबंधित कोई भी एसव्ही व्हाउचर, गैस कार्ड देने के संबंध में दस्तावेज प्रस्तुत नहीं किया गया। एजेंसी का स्टॉक बोर्ड भी 1 जनवरी तक का ही प्रदर्शित था। कुल 1395 सिलेंडर जब्त किया गया। खाद्य अधिकारियों की टीम मेसर्स गणेश बॉयो फयूल्स रावाभांठा भी पहुंची। जांच में फर्म ने इंदौर के फर्म कान्हा बिल्टकॉम से प्राप्त तरल पेट्रोलियम उत्पाद के रूप में मिथाइल इस्टर वस्तु का बिल प्रस्तुत किया। बॉयो फ्यूल्स वनस्पति उत्पाद व इसको विदेशों से आयात नहीं किया जा सकता है। मध्यप्रदेश की फर्म से  प्रेषित बिल में वे-ब्रिज बिल नहीं है, जिससे इस बात की पुष्टि होती है कि बॉयो डीजल की आड़ में कुछ कंपनियां ऐसा उत्पाद निर्मित कर रही हैं। ये बॉयो डीजल नहीं है, लेकिन इस उत्पाद का डेन्सिटी डीजल के समकक्ष है।

 

22-01-2021
माता के भजनों व भक्ति गीतों के बेताज बादशाह सुर सम्राट नरेंद्र चंचल नहीं रहे, चाहने वालों में शोक की लहर

रायपुर/मुंबई। भक्ति गीत भजन गायकी के बेताज बादशाह नरेंद्र चंचल नहीं रहे। नरेंद्र चंचल का दिल्ली के अपोलो अस्पताल में लम्बी बीमारी के बाद आज निधन हो गया। नरेंद्र चंचल 80 साल के थे। बीते काफी समय से वह बीमार चल रहे थे और उनका हॉस्पिटल में इलाज चल रहा था। नरेंद्र के निधन पर उनके फैन्स और शुभचिंतकों में शोक का माहौल है। सोशल मीडिया पर पोस्ट करके तमाम दिग्गजों ने नरेंद्र की आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की है।

22-01-2021
15 साल बाद भी नहीं हुआ शहीद के नाम पर स्कूल का नामकरण

महासमुन्द। देश में राष्ट्रीय पर्वों पर शहीदों का सम्मान किया जाता है और उनका स्मरण कर उन्हें श्रद्धांजलि दी जाती है। देश की रक्षा करते हुए और देश के दुश्मनों से लड़ते हुए सरायपाली का एक जवान शहीद हो जाता है 15 साल बीत जाने के बाद भी उस शहीद के सम्मान में जिस तरह से व्यवस्था होनी चाहिए वह नजर नहीं आती। इससे शासन प्रशासन द्वारा शहीदों के सम्मान को लेकर किस तरह लापरवाही बरती जा रही है यह नजारा महासमुंद जिले के सरायपाली में सामने आया है। दरअसल शहीद के नाम पर सरायपाली के पतरापाली स्कूल के नामकरण की मांग भी लंबे समय से चल रही है लेकिन इस दिशा में भी कोई ठोस काम अभी तक प्रशासन की ओर से नहीं हुआ है।महासमुंद जिले के सरायपाली नगर मैं एक आदिवासी समुदाय से ताल्लुक रखने वाले युवक ललित बुडेक छत्तीसगढ़ पुलिस में सेवा देते हुए नक्सलियों से लोहा लेते समय जनवरी 2005 में शहीद हो गए थे। सरायपाली नगर का पहला शहीद होने की वजह से जिस शाला में शहीद ललित बुडेक अपनी प्रारंभिक शिक्षा प्राप्त किए थे उसी पतेरापाली स्कूल को शहीद ललित बुडेक के नाम पर करने की मांग नगर के बुद्धिजीवी और गणमान्य लोग उठाते रहे।  शासन प्रशासन तक पत्र व्यवहार किया गया और तमाम तरह की औपचारिकताएं भी पूरी कर ली गई लेकिन विडंबना है कि शहीद होने के 15 साल बाद भी शासकीय प्राथमिक शाला पतेरापाली का नामकरण शहीद ललित बुडेक के नाम पर नहीं किया जा सका।  इससे शहीद परिवार आज भी मायूस है। प्रशासन की ओर से पतरापाली चौक पर शहीद ललित बुडेक का एक स्मारक भी बनाया गया है।

लेकिन स्मारक स्थल की इस कदर दुर्दशा बनी हुई है कि शहीद के सम्मान पर पलीता लगता नजर आ रहा है।  दरअसल स्मारक स्थल पर न तो स्वच्छता का ध्यान रखा गया है और न ही अन्य तरह की कोई व्यवस्था की गई है। स्मारक स्थल की रेलिंग महीनों से टूटी पड़ी है लेकिन उसके मरम्मत के लिए किसी को भी फुर्सत नहीं है। स्व. ललित बूढ़ेक सरायपाली का प्रथम शहीद होने के बाद भी उसके स्मारक स्थल तक मे कोई सफाई और व्यवस्था नहीं होने से कई सवाल खड़े हो रहे हैं। वहीं नगर प्रशासन की व्यवस्था भी सवालों के दायरे में आ गई है। शहीद ललित बुडेक की बुजुर्ग मां अपने शहीद बेटे के नाम पर स्कूल के नामकरण के लिए शासन प्रशासन से उम्मीद लगाए बैठी है बेटे को याद कर उसकी आंखें भर आती है, लेकिन उसके शहीद बेटे के नाम पर 15 साल बीत जाने के बाद भी किसी सरकार ने आज तक स्कूल के नामकरण को लेकर ध्यान नहीं दिया। इससे शहीद की बुजुर्ग मां काफी उदास नजर आ रही है । शहीद के नाम पर स्कूल के नामकरण को लेकर परिजनों और गांव के गणमान्य से जब बात की गई तब उनका भी करना था कि यह मांग और लगभग 15 सालों से की जा रही है लेकिन कहीं कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा है यदि पतेरापाली स्कूल का नामकरण सहित ललित बूढ़ेक के नाम से किया जाता तो वह उस जवान शहीद को एक सच्ची श्रद्धांजलि होती और तमाम नागरिकों को गर्व महसूस होता।

 

22-01-2021
ग्रामीणों ने मांगों के लिए किया मुख्य मार्ग में चक्काजाम

धमतरी। गंगरेल और मरादेव के ग्रामीणों ने अपनी मांगों को लेकर गंगरेल तीनों मुख्य मार्ग में चक्काजाम किया है। यह चक्काजाम 3 दिवसीय है। जब तक ग्रामीणों की मांग पूरी नहीं होती तब तक यह प्रदर्शन जारी रहेगा। चक्काजाम के चलते दूरदराज से आ रहे सैलानियों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।सरपंच रमेश कड़े एवं ग्रामीणों ने बताया कि यदि ग्राम गंगरेल एवं ग्राम मरादेव को कुकरेल तहसील में जोड़ा जाता है तो उन्हें लगभग 25 किलोमीटर की दूरी तय कर राजस्व के कामों के लिए जाना पड़ेगा,जो कि अभी धमतरी तहसील में यथावत होने पर 8 से 10 किलोमीटर की दूरी तय करना पड़ता है। ग्रामीणों को आने जाने में काफी सुविधा मिलती है और साथ ही छात्र-छात्राओं को भी कम दूरी तय करनी पड़ती है अगर दोनों ग्रामों को कुकरेल तहसील में जोड़ा जाता है तो ग्रामीणों को काफी दिक्कतों एवं आर्थिक बोझ का सामना करना पड़ेगा।

इससे पूर्व भी ग्रामीणों द्वारा कुकरेल तहसील में ना जोड़े जाने के लिए ज्ञापन भी दिया गया था लेकिन कोई कार्रवाई ना होने पर ग्रामीणों द्वारा तीन दिवसीय चक्का जाम किये है। अगर दोनों ग्रामों को कुकरेल तहसील में जोड़ा जाएगा तो ग्रामीणों द्वारा अनिश्चितकालीन तक चक्का जाम करने की चेतावनी दिए हैं। बरहाल एसडीएम मनीष मिश्रा व तहसीलदार मौके पर पहुंचकर प्रदर्शनकारियों को लिखित में आश्वासन दिया है की उनके ग्राम पंचायत गंगरेल यथावत रखा जाएगा। ग्रामीणों का कहना है कि कलेक्टर मौके पर पहुंचकर आश्वासन दे तभी हम धरना प्रदर्शन खत्म करेंगे।

 

22-01-2021
इस राज्य में अप्रैल-मई में होंगी 10वीं-12वीं की बोर्ड परीक्षा

रायपुर/मुंबई। कोरोना महामारी के कारण सभी परीक्षाएं रद्द कर दी गई थी। रद्द होने के बाद से किसी भी राज्य में परीक्षाएं आयोजित नहीं की जा सकी है। वहीं महाराष्ट्र से खबर आ रही है कि 10वीं-12वीं की बोर्ड परीक्षाएं अप्रैल-मई तक होगी। महाराष्ट्र की शिक्षा मंत्री वर्षा गायकवाड़ ने महाराष्ट्र सेकेंडरी स्कूल सर्टिफिकेट (कक्षा 10वीं) और हायर सेकेंडरी सर्टिफिकेट(कक्षा 12वी) बोर्ड परीक्षा की तारीख घोषित कर दी हैं। महाराष्ट्र स्टेट बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एंड हायर सेकेंडरी एजुकेशन कक्षा 12वीं की परीक्षा 23 अप्रैल से 29 मई तक होगी। वहीं कक्षा 10वीं की परीक्षा 29 अप्रैल से 11 मई तक होगी। आमतौर पर इन परीक्षाओं का आयोजन फरवरी और मार्च महीने में होता है। गायकवाड़ ने कहा कि कक्षा 12वीं की प्रैक्टिकल परीक्षा 1 अप्रैल से 22 अप्रैल तक होंगी और कक्षा 10 की 9 अप्रैल से 28 अप्रैल तक होंगी। मंत्री ने ये भी कहा कि रिजल्ट जुलाई के आखिर और अगस्त के आखिर तक जारी करने की कोशिश करेंगे।

Please Wait... News Loading