GLIBS

01-10-2020
सुबोध हरितवाल ने एसएसपी को सौंपा ज्ञापन,नशे के कारोबार की सूक्ष्मता से जांच की मांग

रायपुर। युवा कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता सुबोध हरितवाल ने गुरुवार को एसएसपी अजय यादव से मुलाकात कर ज्ञापन सौंपा। नशे के कारोबार की सूक्ष्मता से जांच की मांग की है। सुबोध हरितवाल ने कहा कि रायपुर में लगातार नशे के आरोपियों का पकड़ा जाना और अलग-अलग जगह नशे के समान की बिक्री होना, शहर के लिए बेहद दुर्भाग्यजनक बात है। हम युवा इसके पूर्णत: खिलाफ भी हैं। रायपुर में कोकीन जैसे ड्रग्स का पाया जाना और उसके बाद अलग-अलग जगह गांजा स्मैक जैसे ड्रग्स का बिक्री होना हमारे शहर का नशे के चपेट में आना साबित करता है। हरितवाल ने मांग की है कि इस मामले की जांच मुम्बई  एनएसबी की जांच की तरह हो तो बड़े नाम जो 10000 रुपए ग्राम खरीदने की हैसियत रखते हैं, उनका खुलासा होगा। समाज मे गंदगी फैला रहे इन लोगों को सबक मिलेगा। ड्रग पैडलर्स सिर्फ छोटी मछली है और मोहरा है असली व्यक्ति इसके पीछे होने की संभावना है। मुम्बई में चल रहे एनएसबी के जांच से सीखते हुए आरोपियों के व्हाट्सएप की जांच की जानी चाहिए, जिससे असली व्यक्ति तक पहुंचा जा सके। साथ ही कठोर कार्रवाई हो सके। ऐसे रैकेट चलाने वाले बहुत से लोगों का इस्तेमाल करते हैं, इसलिए जरूरी है इस रैकेट को पकड़ना और समाप्त करना। हरितवाल ने कहा कि वे व्यक्तिगत तौर पर एक पिता होने के नाते डरते हैं कि यदि ऐसी परिस्थिति रही तो हमारे आने वाली पीढ़ी का क्या हाल होगा? सोच का विषय है हम सभी को विचार करने की आवश्यकता है। हरितवाल ने एसएसपी से ये मांग की है कि यदि संभव हो तो थाना स्तर पर जागरुकता अभियान की शुरुआत की जाए, जिसमें युवा कांग्रेस के कार्यकर्ता पूर्ण सहयोग करेंगे। ज्ञापन देने प्रतिनिधिमंडल में अंशुल मिश्रा, अर्जुन सिंह, चीनू पांडेय और अमीत तिवारी शामिल थे।

01-10-2020
कांकेर घटना की जांच करेगी पत्रकारों की उच्च स्तरीय समिति,प्रेसक्लब रायपुर की मांग पर मुख्यमंत्री ने दिए निर्देश

रायपुर। कांकेर में वरिष्ठ पत्रकार कमल शुक्ला के साथ हुई मारपीट की जांच पत्रकारों की उच्च स्तरीय समिति की ओर से की जाएगी। यह निर्देश गुरुवार को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने प्रेस क्लब रायपुर के प्रतिनिधिमंडल से चर्चा के दौरान दिए। प्रेस क्लब रायपुर के अध्यक्ष दामू आम्बेडारे के नेतृत्व में पत्रकारों के एक प्रतिनिधिमंडल ने शाम को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से उनके निवास में मुलाकात की। प्रतिनिधि मंडल से चर्चा करते हुए मुख्यमंत्री ने पत्रकारों से जुड़े सभी मामलों में संवेदनशीलता प्रकट की। उन्होंने कहा कि राज्य शासन पत्रकारों के हित संरक्षण के लिए कृत संकल्पित है। उन्हें जैसे ही इस घटना की जानकारी मिली, उन्होंने तत्काल दोषियों के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कर कड़ी कार्रवाई के निर्देश दिए थे। मुख्यमंत्री बघेल ने यह भी बताया कि जांच उपरांत यदि आवश्यकता हुई तो भारतीय दण्ड संहिता की अन्य धाराएं जोड़ी जाएगी। चर्चा के दौरान पत्रकारों के हित में राज्य शासन के निर्णयों की जानकारी देते हुए उन्होंने बताया कि विकासखंड स्तर पर पत्रकारों को अधिमान्यता देने, अधिमान्यता कोटे में वृद्धि, पत्रकार सम्मान निधि में राशि 5 हजार से बढ़ा कर 10 हजार प्रतिमाह करने का कार्य किया जा चुका है। पत्रकार सुरक्षा कानून निर्माण अंतिम चरण पर है। कानून के प्रारूप पर सुझाव आमंत्रित किए गए हैं। इसके बाद शीघ्र की इसे अंतिम रूप दे कर लागू किया जाएगा।

पत्रकार प्रतिनिधिमंडल ने राज्य शासन की ओर से पत्रकार हित में लिए गए निर्णयों की सराहना करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री स्वयं आगे बढ़ कर पत्रकारों की हर समस्या का निदान करने के लिए तत्पर हैं। कांकेर की घटना पर भी पत्रकारों से स्वयं आगे होकर चर्चा कर रहे हैं, ऐसी दशा में पत्रकारों की ओर से धरना प्रदर्शन किए जाने की आवश्यकता नहीं है। पत्रकार हित में सब मिलजुल कर उनकी समस्याओं के निराकरण के लिए प्रयास करना चाहिए। प्रतिनिधि मंडल ने पत्रकारों को कमल विहार में भवन निर्माण के लिए राज्य शासन की ओर से विशेष छूट दिए जाने का आग्रह किया। जिस पर मुख्यमंत्री ने सहानुभूतिपूर्वक विचार करने का आश्वासन दिया। इसी तरह प्रतिनिधिमंडल की ओर सेअधिमान्यता दिए जाने की आवेदन प्रक्रिया में आने वाली कठिनाईयों की ओर भी मुख्यमंत्री का ध्यानाकृष्ट किया। जिस पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने उन समस्याओं के त्वरित निराकरण के निर्देश आयुक्त जनसंपर्क तारन प्रकाश सिन्हा को दिए। प्रतिनिधिमंडल में पत्रकार शगुफ्ता सिरीन,संजय शुक्ला,अनिल द्विवेदी, जियाउल हसन, पंकज स्वामी,मनोज नायक,दीपक पाण्डेय शामिल थे।

 

01-10-2020
कांकेर घटना की जांच करने पत्रकारों की उच्च स्तरीय समिति गठित,सरकार को 10 दिनों में सौंपेगी रिपोर्ट

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के निर्देश पर त्वरित कार्यवाही करते हुए कांकेर जिला मुख्यालय में वरिष्ठ पत्रकार कमल शुक्ला के साथ हुई मारपीट और दुर्वव्यवहार पर जांच के लिए पत्रकारों के उच्च स्तरीय जांच दल के गठन के आदेश राज्य शासन ने जारी कर दिए हैं। उच्च स्तरीय जांच दल 10 दिनों के भीतर अपना जांच प्रतिवेदन राज्य शासन को सौंपेगा। राजेश जोशी संपादक नवभारत रायपुर की अध्यक्षता में गठित उच्च स्तरीय जांच दल के अन्य सदस्य रूपेश गुप्ता, शगुफ्ता सिरीन, अनिल द्विवेदी, सुरेश महापात्र और राजेश शर्मा ब्यूरो चीफ कांकेर भास्कर रायपुर होंगे।

01-10-2020
Breaking: प्रदेश में मिले 2551 कोरोना मरीज,2235 हुए स्वस्थ, आज 14 की मौत व  15 पूर्व मौत की मिली जानकारी 

रायपुर। छत्तीसगढ़ में गुरुवार को 2551 कोरोना पॉजिटिव मरीजों की पहचान हुई है। 2235 मरीज स्वस्थ हुए हैं। इनमें 678 मरीजों को डिस्चार्ज किया गया है। 1557 मरीजों ने होम आइसोलेशन कम्पलीट किया है। 14 मरीजों की मौत हुई है। इनमें 4 कोविड से और 10 अन्य बीमारियों से ग्रसित होने के कारण हुई है। स्वास्थ्य विभाग ने रात 8 बजे की स्थिति में मेडिकल बुलेटिन जारी की है। बताया गया है कि आज  विभाग को विलंब से पूर्व में हुई 15 मरीजों की मौत की जानकारी मिली है। ये रायपुर, जांजगीर-चांपा, महासमुंद, बेमेतरा, कोंडागांव, दुर्ग जिले के चिकित्सा संस्थानों से संबंधित है। 15 मौत में 8 कोविड कैटेगरी व शेष 7 अन्य बीमारियों से भी ग्रसित होने के कारण हुई है। इन आंकड़ों को कुल मौत की संख्या में शामिल किया गया है। प्रदेश में एक्टिव केस 30468 हैं। कुल 986 मरीजों की मौत हो चुकी है।   मेडिकल बुलेटिन देखने क्लिक करें 

01-10-2020
डिप्टी कलेक्टर के साथ नायब तहसीलदार ने पकड़े रेत से भरे ट्रैक्टर, किया जब्त

कोरबा। रेत चोरों के ख़िलाफ़ प्रशासन की कार्रवाई गुरुवार को हुई। कलेक्टर किरण कौशल के निर्देश पर प्रशासन का जाँच दल बालको-रिसदी रोड के समीप स्थित ढ़ेंगूरनाला पहुँचा और दिन में अवैध रूप से रेत खोदकर भरते हुए तीन ट्रैक्टरों को जब्त किया। मौक़े पर पहुँचे डिप्टी कलेक्टर आशीष देवांगन और नायब तहसीलदार पंचराम सलामे ने ट्रैक्टरों को जब्त किया। इसके पूर्व प्रशासन के जाँच दल ने रिसदी से बालको रोड पर अवैध रेत परिवहन करते हुए ट्रैक्टर को भी जब्त किया था। जब्त ट्रैक्टरों के चालकों ने रेत उत्खनन और परिवहन सम्बंधी ज़रूरी दस्तावेज प्रस्तुत नहीं किए तब सभी ट्रैक्टर को रामपुर पुलिस चौकी की अभिरक्षा में रखा गया। ट्रैक्टरों के अवैध रेत खनन और परिवहन में संलिप्त पाए जाने पर प्रकरण तैयार कर अग्रिम कार्यवाही की जा रही है। रेत चोरों पर लगाम कसने कलेक्टर किरण कौशल ने जिला स्तरीय टास्क फ़ोर्स गठित की है। छह सदस्यीय इस टास्क फ़ोर्स के प्रभारी डिप्टी कलेक्टर आशीष देवांगन बनाए गए है।
नायब तहसीलदार पंचराम सलामे, सहायक खनिज अधिकारी सबीना बेगम, पर्यावरण विभाग के सहायक अभियंता विजय पोर्ते, खनि निरीक्षक उत्तम खूँटे और नगर सैनिक रमाकांत दुबे इस टास्क फ़ोर्स के सदस्य बनाए गए हैं। कलेक्टर ने टास्क फ़ोर्स को अवैध रेत उत्खनन, परिवहन और भंडारण के प्रकरणो पर कड़ी कार्रवाई करने के निर्देश दिए है।

 

01-10-2020
Video: मोदी आर्मी ने किया बापू की प्रतिमा पर माल्यार्पण

दुर्ग। मोदी आर्मी के प्रदेश अध्यक्ष वरुण जोशी ने कहा कि हमारे शहर का दुर्भाग्य है कि लाखों की प्रतिमाएं तो बना दी गई मगर सुध कभी नहीं ली जाती। इन्हें सिर्फ जयंती और पुण्यतिथि पर ही याद किया जाता है। उन्होंने कहा कि इसलिए हमने गुरुवार को बापू की प्रतिमा की साफ सफाई की और माल्यार्पण करते हुए उन्हें नमन किया। इस दौरान मोदी आर्मी के एनेंद्र ताम्रकार,यश कसार,शुभम यादव,उमेश शाश्वत,दुर्गेश रामटेके,प्रिंस कसेर,शिवम्,संजय राव,सागर, मोनू,सूरज तिवारी,राहिल,सूरज साहू आदि उपस्थित थे।

 

 

 

01-10-2020
नगर निगम में अंतर्राष्ट्रीय वृद्धजन दिवस पर सेवानिवृत्त अधिकारियों व कर्मचारियों का हुआ सम्मान

राजनांदगांव। अंतर्राष्ट्रीय वृद्धजन दिवस के अवसर पर नगर निगम में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए महापौर हेमा देशमुख की अध्यक्षता में एक संक्षिप्त कार्यक्रम आयोजित किया गया। इसमें नगर निगम के 9 सेवानिवृत्त अधिकारियों व कर्मचारियों का सम्मान किया गया। इस अवसर पर नगर निगम आयुक्त चंद्रकांत कौशिक, मेयर इन कॉउंसिल के सदस्य व पार्षद सहित स्टाफ उपस्थित थे। महापौर देशमुख ने अपने उद्बोधन अंतर्राष्ट्रीय वृद्धजन दिवस की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि हमारा सौभाग्य है कि इस वर्ष हम अपने निगम परिवार के सेवानिवृत्त अधिकारियों व कर्मचारियोें का सम्मान कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि आप लोगों ने पूरी निष्ठा एवं इमानदारी से अपने कार्यो का निर्वाहन किया,जिसका लाभ निगम परिवार को मिल रहा है। साथ ही आप लोगों के अनुभव व कार्य कुशलता से आपके परिवार सहित निगम के लोगों को सीखने मिला। आप लोगों के द्वारा किए गए कार्य को निगम परिवार कभी नहीं भूल सकता। इसी प्रकार आप लोगोें का आशीर्वाद हम सबको मिलता रहे तथा आप लोगों के उज्जव भविष्य की भगवान से प्रार्थना करती हूॅ। निगम अध्यक्ष पप्पू धकेता ने कहा कि बुजुर्गों का सम्मान करना एक अच्छी पहल है। बुर्जुग ही परिवार की नींव होते हैं। उनके आशीर्वाद  से ही परिवार सुखी रहता है, वे बच्चों के सही गलत कार्यो का आकलन कर उन्हें मार्ग दर्शन देते है, सही रास्ता दिखाते है।

उन्होंने कहा कि हमारा भी दायित्व है कि हम अपने बुर्जुगों का सम्मान कर उनकी भावना की कद्र करे। निगम आयुक्त चंद्रकांत कौशिक ने स्वागत उद्बोधन देते हुये कहा कि प्रति वर्ष अंतर्राष्ट्रीय वृद्धजन दिवस के अवसर पर वृहद कार्यक्रम आयोजित किया जाता है, किन्तु इस वर्ष कोरोना संक्रमण को ध्यान में रखते हुये नगर निगम में संक्षिप्त कार्यक्रम आयोजित कर निगम के सेवानिवृत्त अधिकारियों व कर्मचारियों का सम्मान किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि यह सौभाग्य की बात है कि आज हम अपने निगम परिवार के लोगों का सम्मान कर रहे है। वृद्धजनों से व्यवहारिक ज्ञान के साथ साथ अन्य सभी प्रकार के ज्ञान की प्राप्ति होती है। कार्यक्रम में अतिथियों द्वारा नगर निगम के सेवानिवृत्त आयुर्वैदिक चिकित्सा अधिकारी डॉ.जयश्री मिश्रा, व्याख्याता ज्योति झा, वरिष्ठ स्वच्छता निरीक्षक सुभाष दीक्षित, सहायक ग्रेड-2  प्रेमलाल महेश्वरी, लिपिक  नित्यानंद मिश्रा, चालक अपील दास, लाइनमेन आशाराम यादव, भृत्य श्यामलाल यादव व रवि यादव का शाल व श्रीफल भेंट कर सम्मान किया गया। कार्यक्रम में आभार प्रदर्शन उपायुक्त सुदेश सिंह ने एवं कार्यक्रम का संचालन समाज कल्याण अधिकारी भूपेन्द्र वाडेकर ने किया। इस अवसर पर नगर निगम के अधिकारी कर्मचारी उपस्थित थे।

 

01-10-2020
जिले में आज 84 नए कोरोना पॉजिटिव मरीजों की पहचान, 98 हुए डिस्चार्ज...

धमतरी। जिले में गुरूवार को 84 नए कोरोना पॉजिटिव मरीजों की पहचान हुई है। इसके साथ ही 98 लोग स्वस्थ हुए है। गुरूवार को मिले संक्रमितों में से धमतरी ग्रामीण से 20, कुरूद ब्लाक से 24, नगरी से 9, धमतरी शहर से 20 और मगरलोड से 11 संक्रमित है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. डीके तुर्रे ने बताया कि आज धमतरी जिले से 84 कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। जिले में अब तक मृतकों की संख्या 39 हो गई है।

धमतरी शहर
धमतरी शहर से 20 संक्रमित मरीजों की पहचान हुई है, जिसमें के रामपुर वार्ड से 2, मकेश्वर वार्ड से 1, इतवारी बाजार से 2, बालक चौक से 1, गोल बाजार से 1 हटकेसर वार्ड से 1, बनियापारा से 1, रामबाग से 3, जैनम विहार से 2 व 6 अन्य जगह से संक्रमित मरीजों की पहचान हुई है।

धमतरी ग्रामीण
गुजरा ब्लॉक की बीएमओ डॉ. वंदना व्यास ने बताया कि आज ब्लॉक से 20 संक्रमित मरीज मिले है जिसमें पंचवटी कॉलोनी से 3 , सेहराडबरी से 1,कंडेल से 1,खरेंगा से 1,गागरा से 1,मोंगरागहन से 2,रत्नाबांधा से 6,आमदी से 3,गंगरेल से 1 ,अछोटा से 1 संक्रमित मरीज मिले है।

नगरी ब्लॉक
नगरी ब्लॉक के बीएमओ डॉ डी.आर ठाकुर ने बताया कि आज नगरी ब्लॉक से 9 मिले है जिसमें पुलिस थाना नगरी से 1, देवपुरी वार्ड नंबर 11 से 1, नगरी से 1, साल्हेभाठ से 3 व 3 अन्य जगह से संक्रमित मरीजों की पहचान हुई है।

जिले में अब तक मिले कुल संक्रमितों की संख्या 2588 हो चुकी है,जिसमें से एक्टिव केस की संख्या 840 है। धमतरी कोविड-19 अस्पताल में 31 मरीजों का उपचार किया जा रहा है। वहीं 78 लोगों को स्वस्थ्य होने के बाद डिस्चार्ज किया गया है,कुल 1707 लोगों को डिस्चार्ज किया जा चुका है।

 

01-10-2020
राज्यपाल ने तीन विधेयक पर किए हस्ताक्षर,छत्तीसगढ़ राज्य अनुसूचित जाति व अल्पसंख्यक आयोग (संसोधन) भी शामिल

रायपुर। राज्यपाल अनुसुईया उइके ने छत्तीसगढ़ सहकारी सोसायटी (संशोधन) विधेयक-2020 पर हस्ताक्षर किए। इसके अनुसार छत्तीसगढ़ सहकारी सोसायटी अधिनियम, 1960 (क्रमांक 17 सन 1961) की धारा-2, 6, 9, 10, 11, 12, 19, 19-क, 45, 48, 48-ग, 49, 54, 58, 58-ख, 77, 77-कक, 78 एवं 87 में संशोधन किया गया है। इसी तरह राज्यपाल अनुसुईया उइके ने छत्तीसगढ़ राज्य अनुसूचित जाति आयोग (संशोधन) विधेयक-2020 पर हस्ताक्षर किए। इसके अनुसार छ: अशासकीय सदस्य, जो अनुसूचित जातियों से संबंधित मामलों में विशेष ज्ञान रखते हों, जिनमें से एक अध्यक्ष (चेयरपर्सन) होगा और एक उपाध्यक्ष (वाइस चेयरपर्सन) होगा, जिन्हें राज्य सरकार की ओर से नियुक्त किया जाएगी, परंतु अध्यक्ष (चेयरपर्सन), उपाध्यक्ष (वाइस चेयरपर्सन) सहित कम से कम चार सदस्य अनुसूचित जातियों में से होंगे। यह मूल अधिनियम की धारा 3 का संशोधन है।
अध्यक्ष, उपाध्यक्ष प्रत्येक सदस्य, उस तारीख से, जिस पर वह अपना पद ग्रहण करता है, राज्य सरकार के प्रसाद पर्यंत पद धारण करेगा।

यह मूल अधिनियम की धारा 4 का संशोधन है। राज्यपाल अनुसईया उइके ने छत्तीसगढ़ राज्य अल्पसंख्यक आयोग (संशोधन) विधेयक-2020 पर हस्ताक्षर किए। इसके अनुसार आयोग एक अध्यक्ष (चेयरपर्सन), एक उपाध्यक्ष (वाइस चेयरपर्सन) और चार सदस्यों से मिलकर बनेगा, जिन्हें राज्य सरकार की ओर से विख्यात, योग्य और सत्यनिष्ठ व्यक्तियों में से नामनिर्दिष्ट किया जाएगा, परंतु अध्यक्ष, उपाध्यक्ष और चार सदस्य, अल्संख्यक समुदायों में से होंगे। यह अधिनियम की धारा 3 का संशोधन है। अध्यक्ष, उपाध्यक्ष और प्रत्येक सदस्य, उस तारीख से, जिस पर वह अपना पद ग्रहण करता है, राज्य सरकार के प्रसाद पर्यन्त पद धारण करेगा।

 

 

Please Wait... News Loading