GLIBS

22-01-2021
गिरावट के साथ बंद हुआ शेयर बाजार, सेंसेक्स और निफ्टी हुए लाल निशान पर बंद

मुंबई। शेयर बाजार इस साल की सबसे बड़ी गिरावट के साथ बंद हुआ। मुनाफावसूली के चलते बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स आज यानी शुक्रवार को 746 अंकों के नुकसान के साथ 48878 के स्तर पर बंद हुआ। वहीं एनएसई का निफ्टी भी 218 अंक लुढ़क कर 14371 के स्तर पर बंद हुआ। शेयर बाजार की आज शुरुआत कमजोर रही। बाम्बे स्टॉक एक्सचेंज का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स शुक्रवार को 29.81 अंकों की मामूली गिरावट के साथ 49,594.95 के स्तर पर खुला। वहीं नेशन स्टॉक एक्सचेंज के निफ्टी में भी आज कारोबार की शुरुआत लाल निशान के साथ हुई। निफ्टी आज अंकों की गिरावट के साथ के स्तर पर खुला। अमेरिका में नए राष्ट्रपति जो बाइडेन के सत्ता संभालने से वैश्विक बाजार में आई तेजी और अनुकूल बजट की उम्मीद में बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का सूचकांक सेंसेक्स गुरुवार को पहली बार 50 हजार के ऐतिहासिक स्तर को पार कर गया। कोरोना संकट के बाद मार्च में 25,638 अंक के निचले स्तर से सेंसेक्स सिर्फ 10 महीने में दोगुना हो गया है। निवेशकों को 10 महीने में 100 फीसदी का रिटर्न मिला है।

22-01-2021
बजट 2021 : कार, स्मार्टफोन और इलेक्ट्रॉनिक आइटम हो सकते हैं महंगे, पढ़ें पूरी खबर

रायपुर/नई दिल्ली। साल 2021-22 के वित्तीय वर्ष के लिए भारत की वित्त मंत्री 1 फरवरी को सरकार के वार्षिक फेडरल बजट का अनावरण करेंगी जो 1 अप्रैल से प्रभावी होगा। बजट 2021 में भारत सरकार आयात शुल्क को 5 से 10 प्रतिशत तक बढ़ाने की प्लानिंग कर रही है। इस लिस्ट में कुल 50 ऐसे प्रोडक्ट्स हैं, जिन पर आयात शुल्क बढ़ाया जा सकता है। स्मार्टफोन, इलेक्ट्रॉनिक कॉम्पोनेंट, अप्लायंसेस और दूसरी चीजें महंगी हो सकती है। ड्यूटी बढ़ोतरी में ये बदलाव फर्नीचर और इलेक्ट्रिक वाहनों पर असर डाल सकते हैं, जो संभावित रूप से स्वीडिश फर्नीचर निर्माता आइकिया और टेस्ला की पसंद को नुकसान पहुंचा सकते हैं। वहीं टेस्ला भारत में कार लॉन्च करने की प्लानिंग कर रही है। हालांकि ऑफिशियल्स ने इस बात की जानकारी नहीं दी कि लकड़ी के सामान और इलेक्ट्रिक गाड़ियों पर कितना आयात शुल्क बढ़ाया जाएगा। बता दें कि पिछले साल भी सरकार ने जूते, फर्नीचर, खिलौने, इलेक्ट्रिकल और इलेक्ट्रॉनिक्स आइटम सहित उत्पादों की एक विस्तृत श्रृंखला पर 20 प्रतिशत आयात कर बढ़ाया था। फिलहाल आयात शुल्क को लेकर कुछ भी फाइनल नहीं किया गया है। लेकिन आनेवाले समय में इसपर जल्द फैसला लिया जा सकता है। 

22-01-2021
राजधानी में पेट्रोल-डीजल के दामों ने तोड़े सभी रिकॉर्ड, जाने आज की कीमत

रायपुर। बढ़ती महंगाई के बीच पेट्रोल पर डीजल के दाम आग में घी डालने का काम कर रहे हैं। आमतौर पर देखा जा सकता है कि एक दो दिन के स्थिरता के बाद फिर इनके कीमतों में बढ़त दर्ज की जाती है। अब तो हद्द ही हो गई है। पेट्रोल और डीजल कि कीमत ने अब तक के सारे रिकार्ड्स तोड़ दिए हैं। पेट्रोल- डीजल के रेट अब तक के सबसे ज्यादा ऊंचाई पर है। शुक्रवार को राजधानी रायपुर में पेट्रोल में 23 पैसे और डीजल में 27 पैसे प्रति लीटर की बढ़त हुई है। इसी की साथ पेट्रोल 84.14 रुपए और डीजल 82 रुपए प्रति लीटर हो गया है।

21-01-2021
शुरूआती उछाल के बाद लुढ़का शेयर बाजार, सेंसेक्स और निफ्टी  हुए लाल निशान पर बंद

मुंबई। शुरुआती कारोबार में शेयर बाजार गुरूवार को उच्चतम स्तर पर खुला। दिनभर के उतार-चढ़ाव के बाद आज सप्ताह के चौथे कारोबारी दिन यानी गुरुवार को शेयर बाजार ने दोपहर के बाद यह बढ़त गंवा दी। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स 167.36 अंक यानी 0.34 फीसदी की गिरावट के साथ 49624.76 के स्तर पर बंद हुआ। वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 54.35 अंक (0.37 फीसदी) की गिरावट के साथ 14590.35 के स्तर पर बंद हुआ। मुनाफावसूली से बाजार में गिरावट आई। आज शुरुआती कारोबार में घरेलू शेयर बाजार उच्चतम स्तर पर खुला था। सेंसेक्स 223.17 अंक (0.45 फीसदी) की बढ़त के साथ 50,015.29 के स्तर पर खुला था। वहीं निफ्टी 63 अंक यानी 0.43 फीसदी की तेजी के साथ 14,707.70 के स्तर पर खुला था। बुधवार को शेयर बाजार दिनभर के उतार-चढ़ाव के बाद हरे निशान पर बंद हुआ था। सेंसेक्स 393.83 अंक यानी 0.80 फीसदी की जोरदार बढ़त के साथ 49792.12 के स्तर पर बंद हुआ था। वहीं निफ्टी 123.55 अंक (0.85 फीसदी) की बढ़त के साथ 14644.70 के स्तर पर बंद हुआ था। यह सेंसेक्स-निफ्टी का उच्चतम स्तर है। 

 

21-01-2021
शुरुआती कारोबार में रुपया सात पैसे की बढ़त के साथ पांच माह के उच्चस्तर पर

रायपुर/मुंबई। घरेलू शेयर बाजारों में मजबूती के रुख तथा विदेशी कोषों के सतत प्रवाह से रुपया शुरुआती कारोबार में सात पैसे की बढ़त के साथ 72.98 प्रति डॉलर के अपने करीब पांच माह के उच्चस्तर पर पहुंच गया। अंतरबैंक विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में रुपया शुरुआती कारोबार में सात पैसे की बढ़त के साथ 72.98 प्रति डॉलर पर था। यह एक सितंबर, 2020 के बाद रुपए का उच्चतम स्तर है। रुपया 73.05 प्रति डॉलर पर बंद हुआ था। इस बीच, छह मुद्राओं की तुलना में डॉलर का रुख दर्शाने वाला डॉलर सूचकांक 0.18 प्रतिशत फिसलकर 90.31 पर आ गया।

21-01-2021
पहली बार सेंसेक्स ने 50000 का आंकड़ा पार किया

रायपुर/मुंबई। शेयर बाजार की गुरुवार को शानदार शुरुआत हुई है। पहली बार सेंसेक्स ने 50,000 का आंकड़ा पार किया है। सेसेंक्स ने 6 साल 8 महीने 5 दिन में 25 हजार से 50,000 तक का सफर तय किया है। फिलहाल सेंसेक्स 275 अंकों की तेजी के साथ 50,065.64 के स्तर पर कारोबार कर रहा है। वहीं निफ्टी 78.50 अंक की तेजी के साथ 14, 720 के ऊपर नजर आ रहा है।  जो बाइडेन के अमेरिका के 46वें राष्ट्रपति के तौर पर शपथ लेने और ग्लोबल मार्केट से घरेलू शेयर बाजार को सपोर्ट मिला। आज के कारोबार में मार्केट में अच्‍छी खरीददारी देखने को मिल रही है। ऑटो शेयरों में जोरदार तेजी है। अन्‍य सेक्‍टर्स में भी निवेशक खरीदारी करते हुए नजर आ रहे हैं। बजाज फायनेंस और एचसीएल टेक आज के टॉप गेनर्स हैं। टीसीएस और एचडीएफसी में गिरावट है। अमेरिका में जो बाइडेन की ताजपोशी वाले दिन तीनों प्रमुख इंडेक्‍स ने रिकॉर्ड तेजी दिखाई दी है।

20-01-2021
पेट्रोल और डीजल के दाम आज स्थिर

रायपुर। लगातार 2 दिन के बढ़त के बाद आज यानि बुधवार को पेट्रोल और डीजल के दामों में स्थिरता नजर आई। स्थिरता जरूर आई है लेकिन बदलाव बिलकुल भी नहीं हुआ है। लगातार बढ़त के बाद अब तक रेट में कटौती की खबर नहीं आई है। आमजनो की परेशानियां बढ़ती जा रही है। बिना कोई बदलाव के साथ आज पेट्रोल 83. 91 रुपए और डीजल 81. 73 रुपए प्रति लीटर है। 

19-01-2021
शेयर बाजार में रौनक, सेंसेक्स में आया जबर्दस्त उछाल, निफ्टी ने लगाई छलांग

मुंबई। सप्ताह के दूसरे कारोबारी दिन मंगलवार को शेयर बाजार तेजी से साथ खुला था और दिनभर के उतार-चढ़ाव के बाद यह हरे निशान पर बंद हुआ। सकारात्मक वैश्विक रुझानों के बीच आज बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स 834.02 अंक यानी 1.72 फीसदी की जोरदार बढ़त के साथ 49398.29 के स्तर पर बंद हुआ। वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 239.85 अंक (1.68 फीसदी) की बढ़त के साथ 14521.15 के स्तर पर बंद हुआ। बीते सप्ताह बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 252.16 अंक या 0.51 फीसदी के लाभ में रहा। वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 86.45 अंक या 0.60 फीसदी चढ़ गया। बाजार में आई तेजी में देश की सबसे मूल्यवान कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज की अहम भूमिका रही। कंपनी के शेयरों में आज 1.57 फीसदी का उछाल आया और यह 2015 रुपये पर पहुंच गया।

इससे पहले सोमवार को इसमें 2.4 फीसदी की तेजी आई थी। कंपनी शुक्रवार को अपने तिमाही नतीजों की घोषणा करेगी। शेयरों में तेजी के साथ रिलायंस का मार्केट कैप (बाजार पूंजीकरण) एक बार फिर 13 लाख करोड़ रुपये से ऊपर पहुंच गया है। मौजूदा समय में यह 13.24 लाख करोड़ रुपये है। मंगलवार को शुरुआती कारोबार में सेंसेक्स 359.64 अंक (0.74 फीसदी) की बढ़त के साथ 48,923.91 के स्तर पर खुला था और निफ्टी 100.10 अंक यानी 0.70 फीसदी की बढ़त के साथ 14,381.40 के स्तर पर खुला था। सोमवार को दिनभर के उतार-चढ़ाव के बाद शेयर बाजार लाल निशान पर बंद हुआ था। सेंसेक्स 470.40 अंक यानी 0.96 फीसदी की गिरावट के साथ 48564.27 के स्तर पर बंद हुआ था। वहीं निफ्टी 152.40 अंक (1.06 फीसदी) की गिरावट के साथ 14281.30 के स्तर पर बंद हुआ था। 

 

19-01-2021
फिर से बढ़े पेट्रोल-डीजल के दाम, जाने आज की कीमत

रायपुर। राजधानी में लगातार पेट्रोल और डीजल के रेट में बढ़ोत्तरी जारी है। दाम में बढ़ोत्तरी से आमजनां को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। आज यानि मंगलवार को इनके दामों में फिर से बढ़त दर्ज की गई है। आज पेट्रोल में 24 पैसे और डीजल में 27 पैसे की बढ़ोत्तरी हुई है। इसी के साथ पेट्रोल 83.91 रुपए और डीजल 81.73 रुपए हो गया है। 

18-01-2021
केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट बताया, ब्रिटेन में कानूनी जटिलताओं के कारण विजय माल्या के प्रत्‍यर्पण में हो रही देरी

नई दिल्ली। केंद्र सरकार ने भगोड़े शराब कारोबारी विजय माल्या के प्रत्यर्पण में हो रही देरी की वजह सोमवारर सुप्रीम कोर्ट को बताई है। केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट को बताया कि भगोड़े कारोबारी विजय माल्‍या के प्रत्‍यर्पण के लिए सभी प्रयास किए जा रहे हैं। कुछ कानूनी मसलों के चलते ही इस मामले में देरी हो रही है। बता दें कि विजय माल्या, बंद हो चुकी किंगफिशर एयरलाइंस पर बैकों का 9 हजार करोड़ रुपए से भी अधिक बकाया राशि का भुगतान नहीं करने के मामले में आरोपी है। सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस उदय यू.ललित और जस्टिस अशोक भूषण की पीठ से सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने कहा विदेश मंत्रालय से यूके सरकार ने कहा है कि वे भारत सरकार के मामले के महत्व से अवगत हैं। ब्रिटेन में कानूनी जटिलताएं हैं जो प्रत्यर्पण में बाधा बन रही हैं। विदेश मंत्रालय ने यूके सरकार के साथ इस मुद्दे को उठाया है। पीठ ने मामले की अगली सुनवाई 15 मार्च तक के लिए स्थगित कर दी। सुनवाई के दौरान सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता की ओर से सर्वोच्‍च अदालत को ब्रिटेन से विजय माल्या के प्रत्यर्पण की स्थिति पर विदेश मंत्रालय के अधिकारी देवेश उत्तम का एक पत्र भी दिखाया गया। सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने सर्वोच्‍च अदालत को बताया कि विदेश मंत्रालय ने ब्रिटेन की बोरिस जॉनसन की सरकार के साथ माल्‍या के प्रत्यर्पण का मसला उठाया है। उन्होंने कहा कि सरकार पूरी कोशिश कर रही है लेकिन स्थिति में कोई खास बदलाव नहीं आया है। राजनयिक स्तर से लेकर प्रशासनिक स्तर तक इस मामले को बार-बार उठाया जा रहा है। गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट भगोड़े कारोबारी विजय माल्या के खिलाफ अवमानना मामले की सुनवाई कर रहा है। केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट को बताया है कि भगोड़े शराब कारोबारी के प्रत्यर्पण का आदेश ब्रिटेन की सर्वोच्च अदालत दे चुकी है, लेकिन इस पर अमल नहीं किया जा रहा है। न्यायालय ने पिछले साल दो नवंबर को केन्द्र को भगोड़े कारोबारी विजय माल्या को भारत लाने के बारे में ब्रिटेन में प्रत्यर्पण को लेकर लंबित कार्यवाही की स्थिति रिपोर्ट छह सप्ताह के भीतर पेश करने का निर्देश दिया था।

18-01-2021
विदेशी निवेशकों ने भारत में जनवरी में किया 14866 करोड़ का निवेश

रायपुर/नई दिल्ली। विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) ने जनवरी के पहले पखवाड़े में भारतीय बाजारों में 14,866 करोड़ रुपए का निवेश किया है। कंपनियों कें तीसरी तिमाही के नतीजे अच्छे रहने की उम्मीद के बीच एफपीआई का भारतीय बाजारों के प्रति आकर्षण बढ़ा है। डिपॉजिटरी के आंकड़ों के अनुसार एफपीआई ने एक से 15 जनवरी के दौरान शेयरों में शुद्ध रूप से 18,490 करोड़ रुपए का निवेश किया। वहीं उन्होंने ऋण या बांड बाजार से 3,624 करोड़ रुपये निकाले। इस तरह उनका शुद्ध निवेश 14,866 करोड़ रुपये रहा। कोटक सिक्योरिटीज के कार्यकारी उपाध्यक्ष और बुनियादी अनुसंधान प्रमुख रुस्मिक ओझा ने कहा कि तीसरी तिमाही के नतीजे अच्छे रहने से एफपीआई का रुख उभरते बाजारों के प्रति सकारात्मक रहा है। इसके अलावा देश में कोविड-19 संक्रमण के मामले भी कम हुए हैं, जिससे एफपीआई भारतीय बाजार में निवेश कर रहे हैं। ग्रो के सह-संस्थापक एवं मुख्य परिचालन अधिकारी (सीओओ) हर्ष जैन ने कहा कि पहले निवेशक चुनिंदा बड़े शेयरों में निवेश कर रहे थे, लेकिन इनका मूल्यांकन बढऩे के बाद अब वे छोटी कंपनियों के शेयरों में पैसा लगा रहे हैं।

 

18-01-2021
उतार चढ़ाव के बाद लाल निशान पर बंद हुआ शेयर बाजार, सेंसेक्स 470 अंक लुढ़का

मुंबई। दिनभर के उतार-चढ़ाव के बाद सप्ताह के पहले कारोबारी दिन सोमवार को शेयर बाजार लाल निशान पर बंद हुआ। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स 470.40 अंक यानी 0.96 फीसदी की गिरावट के साथ 48564.27 के स्तर पर बंद हुआ। वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 152.40 अंक (1.06 फीसदी) की गिरावट के साथ 14281.30 के स्तर पर बंद हुआ। बीते सप्ताह बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 252.16 अंक या 0.51 फीसदी के लाभ में रहा। वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 86.45 अंक या 0.60 फीसदी चढ़ गया। कारोबार के दौरान आज दिग्गज एफएमसीजी कंपनी आईटीसी के शेयरों में आज उछाल आया और यह बीएसई पर 221 रुपये पर पहुंचा, जो इसका 11 महीने का उच्चतम स्तर है। हालांकि अंत में यह 219.55 के स्तर पर बंद हुआ। पिछले एक सप्ताह में आईटीसी के शेयर में 10 फीसदी की तेजी आई है। आज मिश्रित वैश्विक संकेतों के बीच घरेलू शेयर बाजार गिरावट पर खुला था। शुरुआती कारोबार में सेंसेक्स 56.81 अंक (0.12 फीसदी) की कमजोरी के साथ 48,977.86 के स्तर पर खुला था। वहीं निफ्टी की शुरुआत 21.70 अंक यानी 0.15 फीसदी की गिरावट के साथ 14,412 के स्तर पर हुई थी। वहीं शुक्रवार को दिनभर के उतार-चढ़ाव के बाद शेयर बाजार लाल निशान पर बंद हुआ था। सेंसेक्स 549.49 अंक यानी 1.11 फीसदी की गिरावट के साथ 49034.67 के स्तर पर बंद हुआ था। वहीं निफ्टी 161.90 अंक (1.11 फीसदी) की गिरावट के साथ 14433.70 के स्तर पर बंद हुआ था। 

 

Please Wait... News Loading