GLIBS
22-01-2021
सीएम भूपेश बघेल दिल्ली रवाना, कहा- राहुल गांधी कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए एक मात्र उम्मीदवार

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल दिल्ली दौर पर रवाना हो गए हैं। इससे पहले उन्होंने मीडिया से बात की। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी ही कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए एक मात्र उम्मीदवार हैं। उन्हें अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी का अध्यक्ष पद स्वीकार लेना चाहिए।  मुख्यमंत्री भूपेश बघेल नई दिल्ली प्रवास के दौरान पार्टी के वरिष्ठ नेताओं से मुलाकात करेंगे। बता दें कि लोकसभा चुनाव 2019 के बाद राहुल गांधी ने अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था। उसके बाद वापस सोनिया गांधी ने अध्यक्ष पद पर कमान संभाली थी। कांग्रेस में लंबे वक्त से कयास लगाए जा रहे हैं कि राहुल की फिर अध्यक्ष पद पर ताजपोशी हो सकती है। हालांकि कई बार गांधी परिवार से अलग अध्यक्ष बनाने की आवाज भी पार्टी में उठी है। शुक्रवार को कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक में अध्यक्ष पद का चुनाव इसी साल मई में होने का ऐलान किया गया है। इस साल होने वाले विधानसभा चुनावों के बाद कांग्रेस पार्टी संगठन का चुनाव करेगी, जिसमें अध्यक्ष पद का चुनाव सबसे अहम है।

 

22-01-2021
यूपीएससी में आखिरी मौका गंवा देने वाले अभ्यर्थियों को एक और अवसर देने के पक्ष में नहीं केंद्र सरकार

 

नई दिल्ली। केंद्र सरकार ने शुक्रवार को उच्चतम न्यायालय को बताया कि वह पिछले साल महामारी के कारण यूपीएससी द्वारा आयोजित परीक्षा में शामिल नहीं होने से अपना आखिरी मौका गंवा देने वाले अभ्यर्थियों को एक और अवसर देने के पक्ष में नहीं है। न्यायमूर्ति एएम खानविलकर के नेतृत्व वाली पीठ ने कार्मिक और प्रशिक्षण विभाग (डीओपीटी) की तरफ से पेश अतिरिक्त सॉलिसिटर जनरल एसवी राजू के निवेदन का संज्ञान लिया। अतिरिक्त सॉलिसिटर जनरल ने पीठ से कहा, ‘‘हम एक और अवसर देने को तैयार नहीं है। मुझे हलफनामा दाखिल करने का समय दीजिए। उन्होंने कहा कि मुझे गुरूवार रात निर्देश मिला है कि हम इस पर तैयार नहीं हैं।’’ पीठ में न्यायमूर्ति बीआर गवई और न्यायमूर्ति कृष्ण मुरारी भी थे। पीठ ने सिविल सेवा की अभ्यर्थी रचना सिंह की याचिका को 25 जनवरी के लिए सूचीबद्ध किया है और केंद्र से एक हलफनामा दाखिल करने को कहा है।

इससे पहले, सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने पीठ को बताया था कि सिविल सर्विसेज के ऐसे अभ्यर्थियों को सरकार एक और मौका देने पर विचार कर रही है। शीर्ष अदालत ने पिछले साल 30 सितंबर को संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) की प्रारंभिक परीक्षा को स्थगित करने से इनकार कर दिया था। देश में कोविड-19 महामारी और कई हिस्सों में बाढ़ के कारण परीक्षा को टालने का अनुरोध किया गया था। यह परीक्षा चार अक्टूबर को हुई थी।हालांकि, न्यायालय ने केंद्र सरकार और संघ लोक सेवा आयोग से उम्र सीमा के कारण अपना आखिरी मौका गंवा देने वाले अभ्यर्थियों को एक और अवसर देने पर विचार करने को कहा था। तब पीठ की जानकारी दी गई थी कि इस संबंध में औपचारिक फैसला केवल डीओपीटी ही ले सकता है। 

 

22-01-2021
प्रदेश में समर्थन मूल्य पर मक्का खरीदी 31 मई तक, 1.21 लाख किसानों ने कराया पंजीयन

रायपुर। छत्तीसगढ़ में खरीफ विपणन वर्ष 2020-21 में समर्थन मूल्य पर मक्का की खरीदी बीते एक दिसंबर से जारी है। राज्य में अब तक 835 क्विंटल मक्का की खरीदी हो चुकी है। किसानों को मक्का का 15 लाख 45 हजार 675 रुपए भुगतान किया गया है। राज्य में 31 मई तक मक्का की खरीदी होगी । मक्का बेचने के लिए 1 लाख 20 हजार 990 किसानों ने अपना पंजीयन कराया है। राज्य के पंजीकृत किसानों से 1850 रुपए प्रति क्विंटल की दर से प्रति एकड़ 10 क्विंटल मक्का की खरीदी की जाएगी। राज्य के कांकेर जिले के 5 हजार 868 किसानों से 119.50 क्विंटल मक्का की खरीदी की गई है। इसी प्रकार बालोद़ जिले के 345 किसानों से 555 क्विंटल, राजनांदगांव के 2 हजार 402 किसानों से 39 क्विंटल, गरियाबंद जिले के 5 हजार 846 किसानों से 24.50 क्विंटल और बलरामपुर जिले के 19 हजार 863 किसानों से 97.50 क्विंटल मक्का की खरीदी की गई है।

22-01-2021
दंतेवाड़ा की महिलाओं ने साबित कर दिया वे पुरुषों से कम नहीं, सीमेंट पोल निर्माण में आजमाया हाथ और हुई सफल

रायपुर/दंतेवाड़ा। महिलाएं साबित कर रही है की वे भी पुरूष प्रधान व्यवसायों में दखल देकर उसमें लाभ प्राप्त कर सकती है। जिला प्रशासन दन्तेवाड़ा के अभिनव पहल को रेखांकित करती स्व-सहायता समूह की महिलाओं ने सीमेंट पोल के निर्माण के क्षेत्र में हाथ आजमाया और वे सफल हो रही है। राष्ट्रीय ग्रामीण अजीविका मिशन के माध्यम से जिले की 7 महिला स्व-सहायता समूह की महिलाएं अब सीमेंट पोल का निर्माण कर रही है और अच्छा खासा मुनाफा कमा रही है। उल्लेखनीय है कि जिले के सभी पंचायतों में देवगुड़ी एवं गोठान का निर्माण कार्य चल रहा है, इन देवगुडियों तथा गोठानों में चहार दिवारी के लिए सीमेंट पोल की आवश्यकता पड़ रही है। अब इस फेंसिंग कार्य के लिए सीमेंट पोल का बाहर से क्रय न करते हुए पंचायतों के महिला स्व-सहायता समूह से क्रय किया जा रहा है।

सीमेंट पोल निर्माण के लिए राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के माध्यम से जिले के चारों विकासखण्डों से 7 महिला स्व-सहायता समूहों का चयन किया गया है। इन्हें ग्रामीण अभियांत्रिकी विभाग के इंजीनियर्स की मदद से प्रशिक्षण दिया गया है। ये महिला स्व-सहायता समूह इंजीनियरों की देख-रेख में निर्धारित मापदण्डों के अनुसार सीमेंट पोल निर्माण का कार्य रही है। इन समूहों से 1 पोल 300 रुपए में क्रय किया जाता है। पंचायतों में जो भी शासकीय कार्य होते हैं यदि उनमें सीमेंट पोल की आवश्यकता हो तो जरूरत के हिसाब से इन समूहों को आर्डर देते हैं ताकि समय पर सीमेंट पोल उपलब्ध हो सकें। इस कार्य में जिले की दिशा ग्राम संगठन टेकनार, सीता महिला ग्राम संगठन गंजेनार, रानी लक्ष्मी ग्राम संगठन गाटम, दीपक महिला ग्राम संगठन मैलावाड़ा, जागृति महिला क्लस्टर संगठन पेन्टा, हुंगा बेला ग्राम संगठन बिंजाम, दन्तेश्वरी स्व-सहायता समूह नागफनी (गीदम) शामिल है। अब तक इन महिला स्व-सहायता समूह से 5 हजार 7 सौ 98 सीमेंट पोल का क्रय विभिन्न माध्यमों से किया गया है। परिणामस्वरूप 17 लाख 39 हजार 4 सौ की राशि समूह को प्राप्त हुई है। स्व-सहायता समूह के इस गतिविधी से 80 परिवार लाभांवित हो रहे हैं, जो कि महिला सशक्तिकरण की ओर बढ़ते हुए कदम है।

22-01-2021
दुर्ग नगर निगम : कमिश्नर ने की कार्रवाई, बाजार प्रभारी को हटाया

दुर्ग। दुर्ग नगर निगम के बहुचर्चित पार्किंग घोटाले की गाज वर्तमान बाजार प्रभारी थान सिंह पर गिरी है। उनको दुर्ग कमिश्नर ने बाजार विभाग प्रभारी से हटा दिया है। उनकी जगह नारायण सिंह यादव को नया बाजार प्रभारी बनाया गया है। यह आदेश दुर्ग निगम कमिश्नर इंद्रजीत बर्मन ने जारी किया है, जो तत्काल प्रभाव से लागू हो गया है।

22-01-2021
मंत्री रविन्द्र चौबे के विभागों की बजट तैयारियों की समीक्षा, मुख्यमंत्री ने ली बैठक  

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने अपने निवास कार्यालय में शुक्रवार को बैठक ली। उन्होंने मंत्री रविन्द्र चौबे के संसदीय कार्य, कृषि एवं जैव प्रौद्योगिकी, पशुपालन, मछलीपालन, जलसंसाधन एवं आयाकर विभाग की बजट तैयारियों की समीक्षा की। बैठक में कृषि एवं जलसंसाधन मंत्री रविन्द्र चौबे, प्रभारी मुख्य सचिव सुब्रत साहू, सचिव वित्त अलरमेलमंगई डी., कृषि उत्पादन आयुक्त एवं सचिव कृषि विभाग डॉ. एम.गीता, संसदीय कार्य विभाग के सचिव सोनमणि बोरा, मुख्यमंत्री के सचिव सिद्धार्थ कोमल परदेशी, संचालक सह आयुक्त अमृत खलको, इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ.एस. के.पाटिल सहित संबंधित विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

 

22-01-2021
स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने बच्चों को आयरन व विटामिन की खुराक खिला शिशु संरक्षण माह का शुभारम्भ किया

रायपुर/अम्बिकापुर। अम्बिकापुर स्थित शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र नावापारा में 22 जनवरी से 26 फरवरी तक प्रदेशभर में चलने वाले शिशु संरक्षण माह का स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने बच्चों को विटामिन और आयरन की खुराक पिलाकर शुभारंभ किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि कैंसर जैसे घातक बीमारी के इलाज की सुविधा जिला स्तर पर हो इसके लिए प्रदेश के हर जिला अस्पताल में 5 बिस्तर का कीमोथेरेपी वार्ड शुरू किया जाएगा। मंत्री सिंहदेव ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि शिशु संरक्षण माह का आयोजन हर वर्ष किया जाता है ताकि पालक अपने बच्चों को विटामिन व आयरन का खुराक तथा टीकाकरण समय पर कराने जागरूक हो सकें। उन्होंने कहा कि बच्चे हमारे भविष्य है, उनके स्वस्थ और दीर्घायु जीवन के लिए समय पर विटामिन का खुराक जरूर दें। अपने बच्चों को छोटी उम्र से ही सुरक्षित रखने का प्रयास हो। शिशु संरक्षण माह जैसे कार्यक्रमों के जरिए एक बेहतर जीवन का अवसर मिलता है। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य विभाग लगातार बेहतर प्रयास कर लोगों के स्वास्थ्य पर ध्यान दे रहा है। विटामिन की खुराक सभी बच्चों को दें। जो बच्चे छूट जाते हैं। उनके लिए अलग से अभियान चलाए। उन्होंने कहा कि बच्चां को विटामिन और आयरन की खुराक देने की वर्तमान प्रतिशत 82 को बढ़ाकर शतप्रतिशत करें। अपने शहर, प्रदेश एवं देश स्वस्थ होगा तभी एक स्वस्थ समाज बनेगा। महापौर डॉ. अजय तिर्की ने कहा कि अम्बिकापुर में कैंसर के इलाज के लिए निःशुल्क  कीमोथेरेपी की शुरुआत होने से सरगुजा संभागवासियों के लिए बड़ी उपलब्धि है। उन्होंने कहा कि संभाग में एक ही कीमोथेरेपी सेंटर शुरू होने से मरीजां को लंबा इंतजार करना पड़ रहा है, जिससे यहां बिस्तर की संख्या बढ़ाने की आवश्यकता है। डॉ. तिर्की ने कहा कि शिशु संरक्षण माह में सभी बच्चों को विटामिन और आयरन का खुराक दें। यहां से घर जाने के बाद पालक अपने पड़ोसियों को भी इन खुराकों के बारे में बताएं। नवापारा यूपीएचसी देश में अव्वल- स्वास्थ्य मंत्री सिंहदेव ने नवापारा यूपीएचसी को साफ-सफाई तथा बेहतर संचालन में पूरे देश मे पहला पुरस्कार मिलने पर बधाई देते हुए कहा कि यह सरगुजा और प्रदेश के लिए गर्व की बात है। उन्होंने कहा कि यहां के अधिकारी और कर्मचारियों की मेहनत ने इसे इस मुकाम पर पहुंचाया है। आगे भी इसकी स्थित कायम रहे इसके लिए प्रयास करते रहें। उन्होंने कहा कि प्रदेश के सभी यूपीएचसी को इसी प्रकार संचालित करने की कोशिश होनी चाहिए। नवापारा यूपीएचसी का होगा उन्नयन - इस दौरान स्वास्थ्य मंत्री सिंहदेव ने कहा कि शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र नवापारा को बेहतर ढंग से संचालित किया जा रहा है। यहां लोगो को और सुविधा मिले इसके लिए इसे प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र से उन्नयन कर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बनाया जाएगा। इस स्वास्थ्य केंद्र में सामुदायिक शौचालय का भी निर्माण किया जाएगा। सिंहदेव ने बताया कि जिला अस्पताल अम्बिकापुर में 4 नए डायलिसिस मशीन शीघ्र स्थापित किए जाएंगे जिससे मरीजों को डायलिसिस कराने में सुविधा होगी।

22-01-2021
रमन सिंह का घेराव करने निकली महिला कांग्रेस की कार्यकर्ताओं ने फेंकी चूड़ियां

रायपुर। आज राजधानी में अलग ही राजनैतिक माहौल देखने को मिला। कलेक्ट्रेट का घेराव करने निकले भाजपा कार्यकर्ताओं को पुलिस ने सप्रे शाला के पास रोक लिया। वहीं दूसरी ओर रमन सिंह का घेराव करने निकले कांग्रेसियों को पुलिस ने ओसीएम चौक के पास ही रोक लिया। इस दौरान दोनों के बीच वहां जमकर झूमाझटकी भी हुई। पुलिस के बल प्रयोग करने के बाद कांग्रेस वहीं धरने पर बैठ गए। प्रदर्शन में शामिल महिला कार्यकर्ताओं ने मौके पर चूड़ियां भी फेंकी। बता दें बूढ़ा तालाब धरना स्थल से सैकड़ों की संख्या में कांग्रेसी पूर्व सीएम रमन सिंह का घेराव करने निकले थे।

 

 

22-01-2021
प्रमोशन के बाद 7 आईएएस अधिकारियों की नई जगह हुई पोस्टिंग, आदेश जारी

रायपुर। राज्य सेवा के 7 अधिकारियों को छत्तीसगढ़ शासन ने भारतीय प्रशासनिक सेवा में पदोन्नत करते हुए नई जगह पोस्टिंग दी है। आदेश के मुताबिक चंदन संजय त्रिपाठी, अपर संचालक, उच्च शिक्षा बनाए गए हैं। प्रियंका महोबिया, अपर कलेक्टर, कोरबा बनायी गई हैं। डॉ.फरिहा आलम, सीईओ जिला पंचायत बलौदाबाजार-भाटापारा। रोक्तिमा यादव को उप सचिव सामान्य प्रशासन विभाग और वन विभाग के उप सचिव का भी अतिरिक्त प्रभार दिया गया है। दीपक कुमार अग्रवाल, उप सचिव, राज्य निर्वाचन आयोग और तूलिका प्रजापति, सीईओ बलरामपुर-रामानुजगंज बनाईं गईं हैं। इनके अलावा जयश्री जैन को उप सचिव पद पर मुख्य सचिव के ऑफिस में जिम्मेदारी दी गई है। इन सभी अधिकारियों को भारतीय प्रशासनिक सेवा में 7 जनवरी को नियुक्त किया गया था।

22-01-2021
गणतंत्र दिवस परेड में छत्तीसगढ़ की झांकी का प्रेस प्रिव्यू हुआ, छत्तीसगढ़ के लोक कलाकारों ने मांदरी नृत्य किया

रायपुर। गणतंत्र दिवस पर राजपथ पर निकलने वाली राज्यों की झांकियों का आज नई दिल्ली की राष्ट्रीय रंगशाला में प्रेस प्रीव्यू आयोजित किया गया। प्रेस प्रीव्यू के दौरान छत्तीसगढ़ के जनजातीय क्षेत्रों में प्रयुक्त होने वाले लोक वाद्यों पर आधारित झांकी को राष्ट्रीय मीडिया के सामने प्रस्तुत किया गया। इस दौरान छत्तीसगढ़ की झांकी के समक्ष छत्तीसगढ़ के लोक कलाकारों ने मांदरी नृत्य का प्रदर्शन किया। गणतन्त्र दिवस पर इस बार नई दिल्ली के राजपथ पर छत्तीसगढ़ के लोक संगीत का वाद्य वैभव दिखेगा। छत्तीसगढ़ के जनजातीय क्षेत्रों में प्रयुक्त होने वाले लोक वाद्यों को उनके सांस्कृतिक परिवेश के साथ प्रदर्शित किया जा रहा है। राज्य शासन के जनसंपर्क विभाग द्वारा तैयार की जा रही इस झांकी में छत्तीसगढ़ के दक्षिण में स्थित बस्तर से लेकर उत्तर में स्थित सरगुजा तक विभिन्न अवसरों पर प्रयुक्त होने वाले लोक वाद्य शामिल किए गए हैं। इनके माध्यम से छत्तीसगढ़ के स्थानीय तीज त्योहारों और रीति रिवाजों में निहित सांस्कृतिक मूल्यों को भी रेखांकित किया गया है। झांकी के ठीक सामने वाले हिस्से में एक जनजाति महिला बैठी है जो बस्तर का प्रसिद्ध लोक वाद्य धनकुल बजा रही है। धनकुल वाद्य यंत्र, धनुष, सूप और मटके से बना होता है। जगार गीतों में इसे बजाया जाता है। झांकी के मध्य भाग में तुरही है। ये फूँक कर बजाया जाने वाला वाद्य यंत्र है, इसे मांगलिक कार्यों के दौरान बजाया जाता है। तुरही के ऊपर गौर नृत्य प्रस्तुत करते जनजाति हैं। झांकी के अंत में माँदर बजाता हुआ युवक है। झांकी में इनके अलावा अलगोजा, खंजेरी, नगाड़ा, टासक, बांस बाजा, नकदेवन, बाना, चिकारा, टुड़बुड़ी, डांहक, मिरदिन, मांडिया ढोल, गुजरी, सिंहबाजा या लोहाटी, टमरिया, घसिया ढोल, तम्बुरा को शामिल किया गया है।

 

22-01-2021
मोदी सरकार के सौतेला व्यवहार के बावजूद प्रदेश में सुचारु रूप से हो रही धान खरीदी : विक्रम शाह मंडावी

बीजापुर। जिला कांग्रेस कमेटी बीजापुर ने शुक्रवार को विशेष प्रेसवार्ता की। इसमें पत्रकारों से चर्चा करते हुए बीजापुर के विधायक विक्रम मंडावी ने भाजपा पर आरोप लगाते हुए कहा कि भाजपा की मोदी सरकार प्रदेश सरकार से लगातार सौतेला व्यवहार कर रही है। चाहे बारदाने की आपूर्ति की बात हो फिर किसानों से संबंधित कोई और हमेशा से मोदी सरकार और भाजपा के लोगों ने प्रदेश के किसानों से सौतेला व्यवहार ही किया है। जबकि प्रदेश की जनता ने केंद्र में प्रदेश के हित की बात करने के लिए भाजपा को प्रदेश ने नौ सांसद दिए है पर आज तक प्रदेश हित में किसी भी सांसद ने संसद में या फिर केंद्र सरकार से एक भी ऐसी बात नहीं रखी। इससे प्रदेश की जनता को लाभ हो। केंद्र की मोदी सरकार के लगातार सौतेला रवैए के बावजूद प्रदेश की भूपेश सरकार ने बिना किसी दबाव के आज पर्यंत तक पिछले वर्षों की अपेक्षा अधिक धान की खरीदी कर रही है।पत्रकारो से चर्चा में विक्रम शाह मंडावी ने आगे कहा की भाजपा के लोग एक तरफ तो धान खरीदी का विरोध कर रहे है वहीं दूसरी तरफ धान के समर्थन मूल्य का लाभ ले रहे है भाजपा का ये कैसा विरोध ? भाजपा ने हमेशा से किसानों का अपमान ही किया है जिसका सबसे बड़ा उदाहरण किसान सम्मान निधि है जिसके नाम पर भाजपा और मोदी सरकार ने किसानों का अपमान करने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ रही है।

इसके विपरीत कांग्रेस की भूपेश सरकार ने अपने दो वर्षों के कार्यकाल में किसानों से किए गए हर वादे को पूरी की है चाहे धान का समर्थन मूल्य 2500 देने की बात हो या फिर कर्जमाफी की बात हो भूपेश सरकार हर वो वादा पूरा करी है जो वादे किसानों से की गई थी। आगे विक्रम शाह मंडावी ने कहा कि भाजपा ने 2014 के घोषणा पत्र में किसानों को फसल के लागत एवं समर्थन मूल्य पर 50 प्रतिशत का वायदा किया था उसे आज तक पूरा नहीं किया गया। प्रदेश में भाजपा के 15 सालों में छत्तीसगढ़ में किसानों से एक एक दाना खरीदने का वादा, 5 हार्सपावर पम्पों को मुफ्त बिजली, 2100 रुपए में धान का समर्थन मूल्य, 300 रुपए बोनस देने के वादे से पूरी तरह मुखर गई यहाँ तक की किसान आत्महत्याओं पर भी भाजपा सरकार शून्य बनी रही और लगातार किसानों से पंद्रह सालों तक छल करती रही। वही स्थिति केंद्र की मोदी सरकार की है मोदी सरकार ने किसानों की आय दुगुनी करने का वादा किया पर आज तक इस पर कोई रोड मेप नहीं है। प्रेसवार्ता में जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष लालू राठौर,प्रदेश कांग्रेस सचिव अजय सिंह,जिला पंचायत अध्यक्ष शंकर कुड़ियाम, बस्तर क्षेत्र आधिवासी विकास प्राधिकरण की सदस्य एवं जिला पंचायत सदस्य नीना रावतिया उद्दे के अलावा बड़ी संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ता उपस्थित थे।

 

22-01-2021
खाद्य विभाग की बड़ी कार्रवाई, 1599 सिलेंडर और 25964 लीटर बॉयो डीजल जब्त

रायपुर। खाद्य विभाग रायपुर की दबिश में न्यू नाइस बेकरी बोरियाखुर्द और शांति एचप गैस एजेंस न्यू राजेन्द्र नगर सहित गणेश बॉयो फ्यूल्स, रावांभांठा में 1599 गैस सिलेंडर और 25964 लीटर तथाकथित बॉयो डीजल जब्त किया गया है। व्यवसायिक गैस सिलेंडर के कारोबार में गैस कंपनियों की ओर से अवैध रूप से बिना सुरक्षा निधि जमा किए एसव्ही व्हाउचर बनाने की शिकायत मिली थी। साथ ही गैस कार्ड दिए बिना कारोबारियों को व्यवसायिक सिलेंडर दिए जाने की बात सामने आई थी। इसी प्रकार डीजल के स्थान पर आयतित तरल उत्पाद का नाम बदलकर बॉयो डीजल विक्रय करने की भी शिकायत मिली थी। रायपुर कलेक्टर डॉ. एस. भारतीदासन के निर्देश पर संबंधित फर्मों की जांच कर कार्रवाई की गई। खाद्य नियंत्रक तरूण राठौर के निर्देश पर टीम ने संबंधित फर्मों की जांच की। मेसर्स न्यू नाइस बेकरी में 56 हिन्दुस्तान पेट्रोलियम कंपनी के 19 किलो वाले गैस सिलेंडर ओवन को चलाने के लिए लगाए गए थे। मौके पर 52 भरे हुए व्यवसायिक सिलेंडर मिले। साथ ही 96 खाली सिलेंडर मिले। नियमत: गैस कंपनी को खाली गैस सिलेंडर कारोबार स्थल पर नहीं छोड़ने का नियम है। न्यू नाइस बेकरी में एसव्ही व्हाउचर, गैस कार्ड नहीं पाया गया। एक बिल जरूर पाया गया, जो वर्ष 2019 का था। इस आधार पर 206 सिलेंडर को जप्त किया गया। खाद्य विभाग की टीम ने शांति एचपी गैस एजेंसी न्यू राजेन्द्र नगर रायपुर में छापा मारा। एजेंसी की ओर से मेसर्स न्यू नाइस बेकरी से संबंधित कोई भी एसव्ही व्हाउचर, गैस कार्ड देने के संबंध में दस्तावेज प्रस्तुत नहीं किया गया। एजेंसी का स्टॉक बोर्ड भी 1 जनवरी तक का ही प्रदर्शित था। कुल 1395 सिलेंडर जब्त किया गया। खाद्य अधिकारियों की टीम मेसर्स गणेश बॉयो फयूल्स रावाभांठा भी पहुंची। जांच में फर्म ने इंदौर के फर्म कान्हा बिल्टकॉम से प्राप्त तरल पेट्रोलियम उत्पाद के रूप में मिथाइल इस्टर वस्तु का बिल प्रस्तुत किया। बॉयो फ्यूल्स वनस्पति उत्पाद व इसको विदेशों से आयात नहीं किया जा सकता है। मध्यप्रदेश की फर्म से  प्रेषित बिल में वे-ब्रिज बिल नहीं है, जिससे इस बात की पुष्टि होती है कि बॉयो डीजल की आड़ में कुछ कंपनियां ऐसा उत्पाद निर्मित कर रही हैं। ये बॉयो डीजल नहीं है, लेकिन इस उत्पाद का डेन्सिटी डीजल के समकक्ष है।

 

Please Wait... News Loading
GLIBS Ads